हर विधानसभा क्षेत्र को एक वर्ष के दौरान शहरी व ग्रामीण विकास के लिए 80 करोड़ रूपए की राशि मिलेगी: हर विधानसभा क्षेत्र को एक वर्ष के दौरान शहरी व ग्रामीण विकास के लिए 80 करोड़ रूपए की राशि मिलेगी।

चंडीगढ़, 23 फरवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में बिना भेदभाव व समान विकास की नीति पर चलते हुए एक ओर बड़ी पहल करते हुए आगामी वित्त वर्ष में राज्य सरकार ऐसा प्रावधान करने जा रही है, जिसके तहत प्रदेश के हर विधानसभा क्षेत्र को एक वर्ष के दौरान शहरी व ग्रामीण विकास के लिए 80 करोड़ रूपए की राशि मिलेगी।

मुख्यमंत्री आज पलवल जिला के हथीन में हरियाणा प्रगति रैली को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में नए वित्त वर्ष में पहली बार साल भर की शहरी व ग्रामीण विकास की ग्रांट को फिक्स करने की योजना बनाई जा रही है। जिसके तहत अप्रैल से मार्च तक के वित्त वर्ष में हर माह बजट अलॉट होगा। इसी कड़ी में पलवल जिला के तीनों विधानसभा क्षेत्रों को आगामी वित्त वर्ष के लिए कुल 240 करोड़ रूपए मिलेंगे।

प्रगति रैली में जनता से सीधा संवाद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार आमजन के साथ ही हर वर्ग के सुझावों के आधार पर आगामी बजट पेश करेगी। उन्होंने बताया कि सांसद से लेकर विधायक, उद्यमी, किसानों, महिलाओं व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ सांझे विचार लेने के साथ ही बजट की रूपरेखा तैयार की गई है। उन्होंने बताया कि जनसुविधा के आधार पर अब आगामी बजट के पेश होने के साथ ही ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के विकास के लिए विशेष रूप से ग्रांट फिक्स कर दी जाएगी। इसके तहत ग्राम पंचायत, जिला परिषद, नगरपरिषद व नगर पालिका के तहत होने वाले विकास कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर पूरा किया जाएगा। इन विकास कार्यों को करवाने के लिए समयानुसार राशि संबंधित मद के लिए खर्च की जा सकेगी।

उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों के कार्यकाल में जो अनदेखी पलवल जिला के साथ हुई है वह उनके कार्यकाल में नहीं होने दी जा रही। उन्होंने बताया कि पिछले पांच साल के कार्यकाल में पलवल जिला के तीनों विधानसभा क्षेत्रों में अब तक करीब 1100 करोड़ रुपये विकास कार्यों पर खर्च हो चुके हैं। ऐसे में विकास का यह क्रम निरंतर जारी रखते हुए वे पलवल जिला के विकास में कोई कमी नहीं आने देंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व सरकारों ने केवल निजी हितों को सर्वोपरि रखा जबकि हमारी सरकार ने सेवक की भूमिका निभाते हुए व्यवस्था परिवर्तन लाकर विकास की ओर ठोस कदम बढ़ाए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की दूसरी पारी के 100 दिन में सरकार की ओर से जनसेवा को समर्पित फैसले लिए गए हैं। सरकार की ओर से तालाब प्राधिकरण गठित किया गया है और इसके तहत जल संरक्षण की दिशा में आगे बढ़ते हुए प्रदेश के सभी तालाबों को स्वच्छ व सुंदर बनाने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश की सब्जी मंडिय़ों व शुगर मील में किसानों की सुविधा के लिए 10 रूपए प्रति थाली की दर से भोजन उपलब्ध कराने के लिए अब तक 25 कैंटीन शुरू की गई हैं और शेष जिलों में भी जल्द ऐसी कैंटीन खोली जाएंगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के विकास में कदम बढ़ाते हुए प्रदेश के सभी गांवों को लाल डोरा मुक्त किया जाएगा और उस गांव के हर घर का पूरा राजस्व रिकार्ड भी होगा। फल व सब्जियों का उत्पादन करने वाले किसानों को भावांतर भरपाई योजना का लाभ सरकार की ओर से दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2022 तक हरियाणा प्रदेश के हर घर में नल से जल पहुंचाने के लक्ष्य के साथ सरकार आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के तहत पात्र परिवारों का पंजीकरण करते हुए उन्होंने सामाजिक सुरक्षा योजना से लाभांवित किया जाएगा।

हरियाणा प्रगति रैली में केंद्रीय राज्य मंत्री श्री कृष्ण पाल गुर्जर ने मुख्यमंत्री का धन्यवाद व्यक्त किया कि पिछले पांच सालों में इस जिला में नहरों को पक्का करने का काम हुआ है। इतना ही नहीं हर वर्ग के उत्थान के लिए सरकार ने कल्याणकारी योजनाओं से इस जिला की जनता को लाभांवित किया है।

इस अवसर पर हरियाणा के परिवहन, कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण मंत्री श्री मूलचंद शर्मा, सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल, रैली के संयोजक एवं हथीन से विधायक श्री प्रवीण डागर, पलवल से विधायक श्री दीपक मंगला, होडल से विधायक श्री जगदीश नायर, पृथला से विधायक श्री नयनपाल रावत, फरीदाबाद से विधायक श्री नरेंद्र गुप्ता, सोहना से विधायक श्री संजय सिंह, सहित अन्य अधिकारीगण व गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

===================================

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज पलवल जिले में 26 करोड़ 87 लाख रुपए की लागत से तैयार चार बड़ी विकास योजनाओं का शुभारंभ किया

चंडीगढ़, 23 फरवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज पलवल जिले में 26 करोड़ 87 लाख रुपए की लागत से तैयार चार बड़ी विकास योजनाओं का शुभारंभ किया, जिसमें करीब 11 करोड़ रुपये की लागत से पलवल में परिवहन विभाग की कार्यशाला व बस स्टेंड की तीन बेज, 3.23 करोड़ रुपये की लागत से नवनिर्मित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दूधौला, 7.68 करोड़ रुपए की लागत से गांव फिरोजपुर राजपूत में बनाए गए इंटरमीडिएट बूस्टिंग स्टेशन तथा 4.94 करोड़ रुपए की लागत से गांव खिल्लूका स्थित इंटरमीडियेट बूस्टिंग स्टेशन शामिल है।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने पलवल जिले में आयोजत हरियाणा प्रगति रैली के मंच से पलवल जिले के सभी तीन विधानसभा क्षेत्रों के लिए लगभग 300 करोड़ रुपए की विकास परियोजनाओं की घोषणा की, जिनमें प्रमुख कुंडली-मानेसर-पलवल व दिल्ली-वडोदरा-मुंबई एक्सप्रेस वे के साथ सर्विस लेन बनाने, पलवल जिला के तीनों विधानसभा क्षेत्रों की लोक निर्माण विभाग की सडक़ों के निर्माण, मार्केटिंग बोर्ड की 8 सडक़ों का निर्माण, पलवल शहर में पक्का होने वाला रजबाहा, हथीन, बामनीखेड़ा की माइनर, हथीन शहर में बनने वाला मिनी खेल स्टेडियम, होडल के खामी गांव में बनने वाली पीएचसी, पलवल-फरीदाबाद की सीमा पर सिकरी गांव में बनने वाला पशु विज्ञान केंद्र शामिल हैं। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने विधायकों की ओर से रखी गई विभिन्न मांगों पर भी सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वसान दिया।

====================================

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि राहगीरी जैसे सामाजिक कार्यक्रमों से समाज में आपसी प्रेम व भाईचारे को बढ़ावा मिलता है।

चंडीगढ़, 23 फरवरी- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि राहगीरी जैसे सामाजिक कार्यक्रमों से समाज में आपसी प्रेम व भाईचारे को बढ़ावा मिलता है।

श्री ज्ञान चंद गुप्ता आज रोहतक जिला में जिला प्रशासन व चौबीसी परिवार द्वारा आयोजित राहगीरी कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे।

जिला प्रशासन की सराहना करते हुए विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि यह बेहद खुशी की बात है कि इस बार की राहगीरी का थीम फाल्गुन, जनगणना 2021 व आम जनता को अंगदान के लिए प्रेरित व जागरूक करने का रखा गया है। उन्होंने लोगों से आपसी भाईचारे को मजबूत करने का आह्वान करते हुए कहा कि प्यार व भाईचारे के माध्यम से ही देश व समाज का विकास किया जा सकता है। उन्होंने चौबीसी परिवार को 11 लाख रुपए की अनुदान राशि देने की भी घोषणा की।

राहगीरि कार्यक्रम के उपरांत मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि हरियाणा के इतिहास में पहली बार सबसे लंबा बजट सत्र होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि बतौर विधानसभा अध्यक्ष उनकी जिम्मेदारी है कि हर एक विधायक को बजट पर बोलने तथा अपने इलाके की समस्या रखने का अवसर मिले।

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि विधायकों के लिए पिछले दिनों विधानसभा में ओरिएंटेशन कार्यक्रम भी आयोजित किया गया था और विधायकों को इस संदर्भ में प्रशिक्षण भी दिया गया है।

=================================

68वीं अखिल भारतीय पुलिस कुश्ती समूह प्रतियोगिता में भाग लेने पहुंचे देश भर से खिलाड़ी

राज्यपाल करेंगे विधिवत शुभारभ, आईजी हरदीप दून ने लिया तैयारी का जायजा

चण्डीगढ़, 23 फरवरी- हरियाणा पुलिस के मधुबन परिसर में 68वीं अखिल भारतीय पुलिस कुश्ती समूह प्रतियोगिता-2019 का आयोजन मेजबान हरियाणा पुलिस द्वारा किया जा रहा है। यह प्रतियोगिता 24 फरवरी से 28 फरवरी तक होगी इसमें विभिन्न राज्य एवं अर्ध सैनिक बलों से 36 टीमों के 2232 खिलाड़ी भाग ले रहें हैं। इनमें 576 महिला खिलाड़ी भी शामिल हैं। प्रतियोगिता का विधिवत शुभारंभ कल दोपहर बाद तीन बजे से मधुबन के वच्छेर स्टेडियम में होगा। इस अवसर पर हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य मुख्य अतिथि होंगे ।

प्रतियोगिता के आयोजक सचिव एवम हरियाणा सशस्त्र पुलिस, मधुबन के महानिरीक्षक हरदीप सिहं दून ने बताया की अखिल भारतीय कुश्ती समूह प्रतियोगिता में बॉंक्सिंग, बॉडी बिल्डिंग, कबड्डी, वेट लिफ्ंिटग व कुश्ती सहित पांच मुख्य मुकाबले होंगे । जिनमें 24 राज्यों, 04 केंद्रशासित प्रदेशों व 08 अर्धसैनिक बलों की कुल 36 टीमों से 1656 पुरुष व 576 महिलायों सहित 2232 खिलाड़ी अपने राज्य और संस्था के गौरव के लिए अपने प्रदर्शन करेंगे। सभी स्पर्धाओं के लिए मधुबन परिसर में अलग-अलग स्थान निश्चित किए गए हैं। सभी टीमें मधुबन पंहुच गई हैं और उन्होंने कल होने वाले शुभारम्भ समारोह के पूर्वाभ्यास में भाग लिया।

उन्होंने कहा कि इस आयोजन को हरियाणा के डीजीपी मनोज यादव की अध्यक्षता में किया जा रहा हैं आयोजन में हरियाणा पुलिस अकादमी के निदेशक योगिंद्र सिंह नेहरा, हरियाणा सशस्त्र पुलिस के उप पुलिस महानिरीक्षक कुलविंद्र सिंह, पंचम वाहिनी के आदेशक सुरेंद्रपाल सिंह, चतुर्थ वाहिनी के आदेशक राजेंद्र कुमार मीणा, द्वितीय वाहिनी के आदेशक अशोक कुमार, प्रथम वाहिनी की आदेशक समिति चौधरी के सहायता से सभी तैयारी पूरी कर ली गई हैं।

उन्होंने कहा कि मधुबन में इस आयोजन के लिए अंर्तराष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाएं उपलब्ध हैं। हरियाणा पुलिस को राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं की मेजबानी करने का यह 21वीं बार अवसर प्राप्त हुआ है।

इस प्रतियोगिता की कवरेज के लिए प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया की सुविधा के लिए वच्छेर स्टेडियम के सामने मीडिया केंद्र भी बनाया गया है।

===============================================

हरियाणा के ऊर्जा एवं जेल मंत्री श्री रणजीत सिंह ने कहा कि पिछले कुछ महीनों में बिजली का लाइन लॉस 2 प्रतिशत कम हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को अबाध गति से और सस्ती बिजली उपलब्ध करवाना ही प्रदेश सरकार का लक्ष्य है।

चडीगढ़, 23 फरवरी- हरियाणा के ऊर्जा एवं जेल मंत्री श्री रणजीत सिंह ने कहा कि पिछले कुछ महीनों में बिजली का लाइन लॉस 2 प्रतिशत कम हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को अबाध गति से और सस्ती बिजली उपलब्ध करवाना ही प्रदेश सरकार का लक्ष्य है।

रणजीत सिंह गुरुकुल झज्जर के 104वें वार्षिक महोत्सव के उपलक्ष में आयोजित समारोह में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने गुरुकुल झज्जर को 11 लाख रुपए की राशि देने की घोषणा की तथा साथ ही गुरुकुल झज्जर को बिजली सप्लाई के लिए शहरी फीडर से जोडऩे का आश्वासन भी दिया।

उन्होंने कहा कि गुरुकुल की संस्कृति बहुत बड़ी है आज हमारे गुरुकुल छात्रों को वैदिक शिक्षा देकर उन्हें एक सफल और चरित्रवान व्यक्ति बना कर जीवन में आगे बढ़ा रहे हैं।हमारी गुरुकुल में दी गई वैदिक शिक्षा पद्धति का ही परिणाम है की युवा छात्र संस्कार और संस्कृति से जुड़े रहते हैं।

रणजीत सिंह ने कहा कि जेल का कंसेप्ट सबसे पहले यूके में शुरू हुआ। पहले अंग्रेज अपराध करने वाले लोगों को दूरदराज की जेलों में भेज दिया करते थे । उन्होंने कहा कि पूरे विश्व में ऑस्ट्रेलिया की जेलें पहले स्थान पर है। जेलों में लोगों को सुधार के लिए भेजा जाता है । उन्होंने कहा कि आने वाले 1 वर्ष में हम प्रदेश की जेलों में सुधार लाएंगे। हम प्रयास कर रहे हैं कि संगीन अपराधियों को अलग जेलों में रखें और मामूली अपराध करने वाले लोगों को अलग जेलों में रखें।

===============================================

आमजन की समस्याओं का समाधान करने के लिए अधिकारी हर माह अपने कार्यालय में एक दिन सुनिश्चित करें और साथ ही जिला प्रशासन में कार्यप्रणाली को प्रभावशाली बनाने के लिए हर एक फाइल पर देरी के लिए संबधित अधिकारी की जिम्मेदारी को सुनिश्चित किया जाए।

चंडीगढ़, 23 फरवरी- हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जय प्रकाश दलाल ने कहा कि आमजन की समस्याओं का समाधान करने के लिए अधिकारी हर माह अपने कार्यालय में एक दिन सुनिश्चित करें और साथ ही जिला प्रशासन में कार्यप्रणाली को प्रभावशाली बनाने के लिए हर एक फाइल पर देरी के लिए संबधित अधिकारी की जिम्मेदारी को सुनिश्चित किया जाए।

श्री दलाल आज चरखी दादरी में लघु सचिवालय के सभागार में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में जनशिकायतों के अलावा निर्धारित 13 परिवादों की सुनवाई की गई, इनमें से 10 का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया।

बैठक में कृषि मंत्री ने उपायुक्त श्री श्यामलाल पूनिया को निर्देश दिए कि जनप्रतिनिधि, सामाजिक कार्यकर्ता, पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों की एक संयुक्त कमेटी बनाकर दादरी में वाहन ओवरलोडिंग की समस्या को दूर किया जाए। उन्होंने कहा कि उपायुक्त स्वयं इस अभियान पर निगरानी रखेंगे। कृषि मंत्री ने नहरी पानी की चोरी को रोकने के लिए पुलिस को प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

बैठक में श्री जे.पी.दलाल ने शहर में पेयजल आपूर्ति की समस्या पर संज्ञान लेते हुए एसडीएम को मौके का निरीक्षण करने और इस प्रकार की शिकायतों का तत्काल समाधान करने के निर्देश दिए। गांव रानीला, बास, अचीना आदि गांवों में पेयजल आपूर्ति की समस्या पर कृषि मंत्री ने निर्देश दिए कि जलघर में नहरी पानी की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए, इसके लिए जनस्वास्थ्य, सिंचाई, बिजली निगम के अधिकारियों, ग्रामीणों और पुलिस अधिकारी की एक कमेटी मौके का मुआयना कर इस संदर्भ में कार्यवाही करेगी।

इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त मो. इमरान रजा, एसडीएम संदीप अग्रवाल, डॉ. विरेंद्र सिंह, नगराधीश प्रीतपाल सिंह, सहित अधिकारी एवं गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

===============================================

सूक्ष्म सिंचाई को बढ़ावा देने और किसानों को सूक्ष्म सिंचाई के प्रति जागरूक करने के विजऩ के दृष्टिगत केंद्र सरकार द्वारा बजट में कृषि क्षेत्र के साथ-साथ सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली पर जोर दिया गया है।

चंडीगढ़, 23 फरवरी- हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जय प्रकाश दलाल ने कहा कि सूक्ष्म सिंचाई को बढ़ावा देने और किसानों को सूक्ष्म सिंचाई के प्रति जागरूक करने के विजऩ के दृष्टिगत केंद्र सरकार द्वारा बजट में कृषि क्षेत्र के साथ-साथ सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली पर जोर दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सूक्ष्म सिंचाई क्षेत्र में उपकरणों पर 85 प्रतिशत तक सब्सिडी का प्रावधान है। इससे किसानों को ड्रिप सिंचाई के प्रति रूझान बढ़ेगा, जिससे सिंचिंत पानी की बचत होगी और उत्पादन में भी वृद्धि होगी।

कृषि मंत्री आज भिवानी में स्थानीय लोक निर्माण विश्राम गृह में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि छोटे किसानों के लाभ के लिए एफपीओ बनाए जा रहे हैं ताकि वे मिलकर फूड प्रोसेसिंग, पैकिंग व पोलिंग हाऊस का काम कर अधिक से अधिक मुनाफा कमा सकें।

उन्होंने कहा कि किसानों की भलाई के लिए मंडियों का विकास किया जा रहा है। केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा कृषि क्षेत्र पर अधिक ध्यान केंद्रित है। उन्होंनेकहा कि प्रदेश सरकार जनकल्याण के लिए निरंतर नई-नई योजनाएं क्रियान्वित कर रही है। प्रदेश में 700 से अधिक पंचायतों के प्रस्तावों पर शराब के ठेके हटाए गए हैं। सरकार का प्रयास है कि प्रदेश में किसी भी स्तर पर अवैध शराब की बिक्री न हो।

श्री जे पी दलाल ने कहा कहा कि तोशाम हलके के गांव कैरू में 7 मार्च, 2020 को रैली का आयोजन किया जाएगा, जिसे हरियाणा प्रगति रैली का नाम दिया गया है। रैली में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगे। यह रैली जिला स्तरीय होगी, जिसमें चारों विधानसभाओं से लोगों की भारी संख्या में भागीदारी होगी। रैली में मुख्यमंत्री द्वारा अनेक विकासपरक घोषणाएं करने का अनुमान है।

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि भिवानी जिले में हर क्षेत्र में विकास किया जाएगा, इसके लिए रूपरेखा तैयार की जा चुकी है। शहर में सीवरेज व पेजयल की जर्जर लाईनों को बदला जाएगा। इसी प्रकार से सडक़ों का भी नवीनीकरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भिवानी में बागवानी, पशुपालन, मत्स्य पालन आदि के एक्सीलेंस सेंटर स्थापित किए जाएंगे, जिससे किसानों व पशुपालकों को अधिक से अधिक लाभ हो। उन्होंने कहा कि जिला में भेड़पालन को बढ़ावा दिया जा रहा है, जिसके लिए विशेष केंद्र खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड की तरह ही पशु क्रेडिट कार्ड योजना शुरु की गई है, जिसके प्रति किसानों में बड़ा ही उत्साह है। शीघ्र ही भिवानी में बड़े मेले का अयोजन किया जाएगा, जिसमें हजारों पशुपालकों को ये कार्ड दिए जाएंगे।