धर्मशाला, 11 सितंबर: खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले व परिवहन मंत्री जीएस बाली ने सोमवार को नूरपुर में हिमाचल प्रदेश शहरी परिवहन व बस अड्डा प्रबंधन एवं विकास प्राधिकारण द्वारा 1.40 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित सत महाजन अन्तर्राज्यीय बस अड्डे का उद्घाटन किया।
 बाली ने कहा कि कि हिमाचल सरकार यात्रियों को शानदार यात्रा अनुभव प्रदान करने और बस अड्डों पर आधुनिकतम सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए निरंतर प्रयासरत है और  इस दिशा में अनेक क्रांतिकारी कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बड़े पैमाने पर नए बस अड्डों का निर्माण कार्य चल रहा है। इन कार्यों पर करोड़ों रुपए व्यय किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों को सुरक्षित, भरोसेमद तथा आरामदेय परिवहन सेवायें प्रदान करने पर बल दे रही है। राज्य में बस अड्डों के ढांचागत विकास के लिये पर्याप्त धनराशि उपलब्ध करवाई जा रही है।
परिवहन मंत्री ने कहा कि लोगों को बेहतर परिवहन सुविधायें प्रदान करने तथा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये एचआरटीसी के बेड़े में नई वोल्वो बसें लाई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि इस अवधि में एचआरटीसी के बेड़े में 2000 नई बसों को जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि आने वाले कुछ दिनों में 50 रूटों पर लग्जरी बसें साधारण किराये पर चलाई जाएंगी, ताकि हर वर्ग के लोगों को इसका लाभ मिल सके।
बाली ने कहा उन्होंनेे कहा कि प्रदेश में नए बन रहे बस अड्डों पर यात्रियों को वातानुकूलित प्रतीक्षालयों की सुविधा मिलेगी। इसके अलावा बस अड्डों पर बस का इंतजार कर रहे यात्रियों के बच्चों के लिए ‘प्ले एरिया’ विकसित किए जाएंगे, ताकि बस की प्रतीक्षा मे ऊबने के बजाए वे उस समय का आनंद उठा सकें।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में सभी महिलाओं को राज्य पथ परिवहन निगम की सामान्य बसों में प्रदेश के भीतर किराये में 25 प्रतिशत छूट तथा राज्य पथ परिवहन निगम की बसों में सरकारी स्कूलों और केन्द्रीय विद्यालय के विद्यार्थियों को घर तक मुफत बस सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि एचआरटीसी बस सेवा पूरे देश में अव्वल आंकी गई है इसका पूरा श्रेय निगम के कर्मियों को जाता है।
इस अवसर पर स्थानीय विधायक अजय महाजन ने नये बस अड्डे के लिये परिवहन मंत्री का आभार जताया तथा वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान नूरपुर विधानसभा क्षेत्र में किये गये विकास कार्यों बारे जानकारी दी।
इस अवसर पर सीजीएम एचआरटीसी रघुवीर चौधरी, डीएम विजय सिपहिया, आरएम पंकज चढ़डा, नगर परिषद् अध्यक्ष कृष्णा महाजन, समिति अध्यक्ष संदेश डढ़वाल, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष बलदेव पप्पी उपस्थित थे।
गंगथ में किया राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान का शिलान्यास
    इसके उपरांत बाली ने गंगथ में 5.36 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान की आधारशिला रखी।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं को रोजगारोन्मुखी शिक्षा उपलब्ध करवाने के लिए प्रतिबद्ध है । प्रदेश के ग्रामीण, जनजातीय, पिछड़ी पंचायतों एवं दुर्गम क्षेत्रों में निजी क्षेत्र में नई आई.टी.आई खोलने पर प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न प्रोत्साहन प्रदान किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के वर्तमान कार्यकाल के दौरान प्रदेश में 38 नये आईटीआई, 7 नये पालिटैक्निक तथा 4 नये इंजीनियरिंग कॉलेज खोले गये हैं।
    उन्होंनेे कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में तकनीकी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए प्रभावी कदम उठाए हैं। सरकार का प्रयास है कि युवाओं के हुनर को तराश कर उन्हें नई दिशा दी जाए ताकि वे रोजगार प्राप्त करने अथवा स्वरोजगार लगाने के लिए उपयुक्त ज्ञान, कौशल और अवसरों से परिपूर्ण हों। उन्होंने इस दौरान गंगथ आईटीआई में टर्नर ट्रेड शुरू करने घोषणा की। उन्होंने कहा कि गंगथ आईटीआई भवन के साथ लड़कियों के लिये छात्रावास भी बनाया जायेगा।
    इस अवसर पर आईटीआई गंगथ के प्रधानाचार्य मनीष कुमार राणा ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा अपने संस्थान बारे विस्तृत जानकारी दी।
    इस अवसर पर पूर्व विधायक बोध राज, प्रधानाचार्य आईटीआई शाहपुर एसके लखनपाल, प्रधानाचार्य आईटीआई नूरपुर संजीव सहोत्रा, अजय वर्मा, कर्ण मालटू, मनमोहन, ओम प्रकाश कटोच उपस्थित थे।