धर्मशाला, 12 जनवरी: सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ राजीव सैजल ने कहा कि सामाजिक कल्याण और महिला एवं बाल विकास विभाग में रिक्त पड़े पद शीघ्र भरे जाएंगे, ताकि विभागों की कार्यप्रणाली चुस्त दुरूस्त बनाई जा सके तथा लोगों को बेहतर सेवाएं प्रदान की जा सकें। उन्होंने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों से सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचाने के लिए जी-जान से प्रयास करने का आह्वान किया। 
डॉ राजीव सैजल आज कांगड़ा जिला के सामाजिक कल्याण और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों के साथ धर्मशाला में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने सम्बंधित विभाग के अधिकारियों को कांगड़ा जिला में विभिन्न संस्थाओं द्वारा संचालित वृद्धाश्रमों एवं बाल आश्रमों के बारे विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार लोगों के जीवन-स्तर में सुधार लाने, उन्हें स्वच्छ प्रशासन देने तथा विभिन्न आश्वासनों को पूर्ण करने के प्रतिबद्ध है तथा इस दिशा में गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए बिना आय की शर्त के बुजुर्गों को दी जाने वाली सामाजिक सुरक्षा पेंशन के लिए आयु सीमा 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष कर दी है।
इस अवसर पर जिला कल्याण अधिकारी नरेन्द्र जरियाल मुख्यातिथि का स्वागत किया और विभाग द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कांगड़ा जिला में 83187 पात्र लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान की जा रही है।
बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी तिलक आचार्य ने भी अपने विभाग से संबंधित कल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों के बारे में विशेष रूप से जानकारी दी।
इस अवसर पर जिले के समस्त सीडीपीओ, तहसील कल्याण अधिकारी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।       
                     000