कुल्लू  -22 अप्रैल 2018-वन, परिवहन, युवा सेवाएं व खेल मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी तैयार करने के लिए नई खेल नीति बनाई जाएगी। इसके लिए खेलों में अग्रणी राज्य हरियाणा की खेल नीति का अध्ययन किया जा रहा है। रविवार को ढालपुर मैदान में ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ कार्यक्रम के तहत खेले गए अंतर्राज्यीय अंडर-20 महिला हैंडबाल मैच के बाद खिलाड़ियों व विभिन्न खेल संगठनों के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए गोविंद सिंह ने यह जानकारी दी। 
  उन्होंने कहा कि प्रदेश में खेल सुविधाओं का व्यापक विस्तार किया जाएगा तथा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पर्याप्त अवसर मुहैया करवाए जाएंगे। ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ कार्यक्रम की सराहना करते हुए गोविंद सिंह ने कहा कि आजादी के बाद भारत को एक सूत्र में पिरोने वाले लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल को समर्पित इस कार्यक्रम के माध्यम से देश के युवा प्रेरित होंगे तथा उनमें राष्ट्रीय एकता का भाव जगेगा। गोविंद सिंह ने खिलाड़ियों से कहा कि वे कड़ी मेहनत, दृढ़ निश्चय व खेल भावना के साथ मैदान में डटे रहें और जीवन में आगे बढ़ें। उन्होंने कहा कि खेलों में हार-जीत चलती रहती है और खिलाड़ियों को निरंतर मेहनत करनी चाहिए।  इस अवसर पर गोविंद सिंह ने हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक व उत्तराखंड की संयुक्त टीम के बीच खेले गए अंडर-20 महिला हैंडबाल मैच की खिलाड़ियों को पुरस्कृत भी किया। 
  इससे पहले हिमाचल प्रदेश हैंडबाल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष आशीष ढिल्लों ने गोविंद सिंह ठाकुर का स्वागत किया तथा एक भारत, श्रेष्ठ भारत के अंतर्गत करवाई जा रही खेल प्रतियोगिताओं की जानकारी दी। कार्यक्रम के दौरान आनी के विधायक किशोरी लाल सागर, बंजार के विधायक सुरेंद्र शौरी, हिमाचल प्रदेश हैंडबाल एसोसिएशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रवेश शर्मा, महासचिव नंद किशोर शर्मा, जिला क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष दानवेंद्र सिंह, खेल परिषद के सदस्य डा. गौरव भारद्वाज, विभिन्न खेल संघों के पदाधिकारी, हैंडबाल के कोच व रैफरी भी उपस्थित थे।
-------------
अंतर्राष्ट्रीय सितारों से सुसज्जित हिमाचल की टीम ने एकतरफा जीत दर्ज की 
   एक भारत, श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम के अंतर्गत खेले गए हैंडबाल मैच में कई अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों से सुसज्जित हिमाचल प्रदेश की टीम ने कर्नाटक व उत्तराखंड की संयुक्त टीम को एकतरफा मुकाबले में 14-8 के अंतर से करारी मात दी। हिमाचल की टीम में दीपा, मेनका, निधि, शालिनी और अन्य अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी शामिल रहीं।