हमीरपुर-9TH,JULY- मुख्य चिकित्साअधिकारी डा. सावित्री कटवाल ने आज डेंगू के बारे में जानकारी दी। डेंगू मच्छर के काटने से फैलने वाला संक्रामक रोग है। यह मच्छर दिन में ज्यादा सक्रिय होता है। इस मच्छर के शरीर पर चीते जैसी धारिया होती है। यह ज्यादा उंचा नहीं उड पाता हैं। यह मच्छर ठंडी जगहों पर रहते हैं। यह मच्छर घर के अंदर रखे हुए शांत पानी में प्रजनन करते हैं। पानी सूख जाने के बाद भी इनके अंडे 12 महीनों तक जीवित रह सकते हैं। डा. कटवाल ने बताया कि डेंगू हवा, पानी या छूने से नहीं फैलता। इसके लक्ष्ण तेज बुखार, सरदर्द, आखों में दर्द, भूख कम लगना, उल्टी, दस्त व चमड़ी पर लाल चकते आना आदि है। उन्होंने इसके उपाय भी बताए जो इस प्रकार हैं घर के अंदर व आस पानी जमा न होने दें, बर्तनों को ढक कर रखें, घर में कीटनाशक का छिडक़ाव करें, ऐसे कपड़े पहने जिससे पूरा शरीर ढका हो तथा रात को सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें। इससे संक्रमित व्यक्ति को तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक से जांच करवानी चाहिए ताकि समय रहते पीडि़त का उपचार किया जा सके।