सोलन - दिनांक 10.07.2018-मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि जनसमस्याओं का निश्चित एवं त्वरित समाधान प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है और इस उद्देश्य की प्राप्ति में जनमंच कार्यक्रम विशेष रूप से सहायक सिद्ध हो रहे हैं। मुख्यमंत्री आज यहां पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत कर रहे थे।

जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेशवासियों की विभिन्न समस्याओं का उनके घरद्वार के समीप शीघ्र एवं निश्चित समाधान करने के लिए राज्य सरकार ने जन मंच कार्यक्रम आरंभ किया है। अभी तक प्रदेश में केवल दो जन मंच कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जन मंच समस्या समाधान में सशक्त माध्यम बनकर उभरा है। प्रदेश सरकार आने वाले जन मंच कार्यक्रमों को और बेहतर बनाने की दृष्टि से इनमें कुछ नवीन प्रयास आरंभ करने जा रही है। जन मंच कार्यक्रम का नियमित अनुश्रवण भी किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जन मंच कार्यक्रम एक आम कार्यक्रम नहीं है। प्रदेश के सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को जन मंच के महत्व एवं उपयोगिता को समझना होगा। उन्होंने कहा कि जन मंच कार्यक्रम में किसी भी स्तर पर किसी भी अधिकारी अथवा कर्मचारी की कोताही पाई गई तो उनके विरूद्ध निश्चित कार्रवाई की जाएगी।

जयराम ठाकुर ने विपक्ष को परामर्श दिया कि केवल आलोचना के लिए आलोचना न करें तथा प्रदेश सरकार को विकास के लिए रचनात्मक सहयोग प्रदान करें। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार का 6 माह का कार्यकाल विकास की दृष्टि से महत्वपूर्ण रहा है। प्रदेश सरकार 6 माह के कार्यकाल में केंद्र सरकार से हिमाचल प्रदेश के विकास के लिए 4365 करोड़ रुपये लाने में सफल हुई है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार पूर्ण रूप से मज़बूत है तथा सरकार पूरी मज़बूती के साथ हिमाचल को विकास का सिरमौर बनाने के लिए कार्यरत है।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर राष्ट्रीय स्तर की खिलाड़ी पूनम सुपुत्री मोती राम तथा स्मृति सुपुत्री गोवर्धन से भेंट की। इन दोनों खिलाडि़यों का गत पांच वर्ष से सभी औपचारिकताएं पूर्ण करने के उपरांत भी हिमाचली प्रमाण पत्र नहीं बनाया जा रहा था। प्रथम जुलाई, 2018 को सोलन विधानसभा क्षेत्र के तहत कंडाघाट उपमंडल की ग्राम पंचायत छावशा में आयोजित द्वितीय जन मंच कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज के समक्ष इन खिलाडि़यों ने अपनी समस्या रखी थी। शिक्षा मंत्री ने मामले की पूर्ण जानकारी मिलते ही इस संबंध में जिला प्रशासन को नियमानुसार त्वरित कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। इन दोनों खिलाडि़यों का हिमाचली प्रमाण पत्र सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर इसी जन मंच कार्यक्रम में प्रदान किया गया था। सोलन विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार रहे डॉ. राजेश कश्यप ने इस संबंध में मुख्यमंत्री को विस्तृत जानकारी प्रदान की। दोनों खिलाडि़यों ने जनमंच के माध्यम से हिमाचली प्रमाण पत्र बनाने के लिए मुख्यमंत्री तथा प्रदेश सरकार का आभार व्यक्त किया।

ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, पशुपालन तथा मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर, वन, परिवहन तथा युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री गोबिंद सिंह ठाकुर, शिमला लोकसभा क्षेत्र के सांसद प्रो. वीरेंद्र कश्यप, सोलन विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार रहे डॉ. राजेश कश्यप, भाजपा प्रवक्ता एवं शिलाई के पूर्व विधायक बलदेव तोमर, भारतीय जनता पार्टी तथा भारतीय जनता युवा मोर्चा के वरिष्ठ पदाधिकारी, कार्यकारी उपायुक्त सोलन विवेक चंदेल, पुलिस अधीक्षक सोलन मधुसूदन शर्मा, विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी तथा गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।