Chandigarh,14.11.17-ट्राई सिटी की ऍन जी औ तमन्ना ने बाल दिवस के उपलक्ष्य में अपना 90 वां कार्यक्रम 'छत्तबीड़ चिड़ियाघर की सैर' का आयोजन किया। इस कार्यक्रम में चंडीगढ़ के सेक्टर 1 और सेक्टर 49 स्थित झुग्गी के बच्चों ने ऍन जी औ तमन्ना के सदस्यों के साथ चिड़ियाघर की सैर की और इस कार्यक्रम का भरपूर आनंद लिया।

इस कार्यक्रम के आयोजन ने जहाँ एक और बच्चों में उत्साह का संचार किया वही दूसरी और उनके ज्ञान को भी बढ़ावा दिया। "बच्चे बगीचे की कलियों की तरह हैं और उनका पालन प्यार और ध्यान से होना चाहिए क्योंकि वे देश के भविष्य और कल के नागरिक हैं" ये कार्यक्रम पंडित जवाहरलाल नेहरू की इसी विचारधारा से प्रेरित था ।
इस मौके पर खुशियाँ बच्चों के आंखों में स्पष्ट थी क्योकि ये रविवार उनके लिए कुछ अलग था और बच्चों ने इस मौके पर खूब मस्ती की। बच्चों के इस कार्यक्रम को सुरक्षित बनाने के लिए ऍन जी औ तमन्ना की और से ख़ास इंतज़ाम किये गए, जहां बच्चों को टैग के साथ पिन किया गया और उन्हें ध्यानपूर्वक बस में ले जाया गया ! इसके साथ ही एनजीओ के विभिन्न सदस्यों को विशेष रूप से प्रत्येक बच्चे की देखभाल की जिम्मेदारी सौपी गयी। 
कार्यक्रम के दौरान एनजीओ के सदस्यों ने बच्चो को प्राकृतिक संसाधनों के बारे में जानकारी दी और पर्यावरण में बढ़ते प्रदूषण के कारण होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में भी बताया। बच्चों ने कई मजेदार गतिविधियों और खेलों में भाग लिया और उसके बाद उन्हें रिफ्रेशमेंट के साथ उपहार दिए गए ।
कई बच्चों ने व्यक्त किया कि यह उनके लिए एक बहुत ही यादगार दिन था और उन्हें शेर, चीता आदि जैसे बहुत से जानवरों को देखकर बहुत खुशी हुई जिनके बारे में उन्होंने किताबों में पढ़ा था। इतना ही नहीं बच्चों ने चिड़ियाघर में विभिन्न पक्षियों का भी आनंद लिया। विशेष आकर्षण सरीसृप घर था जहां सांपों ने सभी का ध्यान आकर्षित किया। इस मौके पर सफाई के महत्व को समझाते हुए बच्चों को साफ़ सफाई रखने और गंदगी न फैलाने के बारे में भी जानकारी दी गयी।
कार्यक्रम के बाद एनजीओ और ऐ.टी.इ, संबद्ध कंपनी के स्टाफ के सदस्यों ने कहा कि यह यात्रा उनके लिए एक अद्भुत अनुभव थी क्योंकि यहाँ आकर जहाँ उनके बचपन की यादे ताज़ा हुई वही दूसरी और बच्चों के साथ बिताया यह वक़्त उनके लिए अविस्मरणीय रहेगा।