रोहतक,1 फरवरी, -आज रोहतक से आम आदमी पार्टी हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने आज पेश किये बजट पर जारी एक बयान में कहा बजट 2018 गरीबो को और गरीब व् अमीरों को और अमीर करने वाला है | मिडिल क्लास व् गरीबो के साथ मजाक है | और हरियाणा के किसानों व आम जनता  कुछ नहीं मिला इस बजट से |

जयहिंद ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि औद्योगिक घरानों पर टैक्स कम किया ताकि आगामी चुनाव में बड़े बड़े उधोगपति बीजेपी को चुनाव में मदद कर सके ,आम जनता को टैक्स में राहत देने की बजाये सामानों पर इम्पोर्ट ड्यूटी बढा आम जनता पर बोझ डाला है

जयहिंद ने कहा कि आज 3 लोकसभा उपचुनाव में हार के बाद बीजेपी को पता है वो 2019 चुनाव में नहीं जीत रही इस लिए सारी योजनाओ के पूरा होने की तिथि 2021 कर रही है

 जयहिंद ने कहा कि  ये बजट में 2019 तक किसानों की आत्महत्या को रोकने के लिए कुछ नही है बल्कि पूंजीपतियों के लिए है किसानों का नाम पर योजनाएं है बस ,कर्ज माफी को लेकर कुछ नही ,फसल खरीद की गारंटी नही ,लागत से 1.5% पर न्यूनतम समर्थन मूल्य  तय करने से पहले खरीद की गारण्टी जरूरी है क्योंकि मात्र 6% फसल ही  न्यूनतम समर्थन मूल्य पर  खरीद होती है

जयहिंद ने कहा कि लम्बे समय के लिए इन्वेस्टमेंट पर 10% टैक्स लगा कर, थोडा-थोडा करके पैसा बचने वाले लोगो की जेबों में डाका डालने का काम किया है  |

 जयहिंद ने कहा कि किसी दुकान से टाइप की गई स्क्रिप्ट पढ़ रहे थे अरुण जेटली, उन्हें नहीं पता की वो क्या बोल रहे थे, चुनाव में 1 करोड़ लोगो को प्रतिवर्ष रोजगार देना का वादा किया था लेकिन अब बोलो की 70 लाख को देंगे वो भी केवल अगर देश की हालत अच्छी हुई तो

जयहिंद ने कहा कि देश में बढ़ते दंगो व् महिलाओ-दलितों पर होते अत्याचार पर वितमंत्री ने अपनी आखें बंद की ,देश की कानून व्यवस्ता खतरे में और कोर्ट व् न्यायपालिका की खस्ता हालात को सुधारने के लिए कुछ नहीं किया

जयहिंद ने कहा कि नोटबंदी फैल, GST फैल और अब आम जनता पर 1% सेस और बढ़ा जनता से सरकार 11,000 करोड़ लूटने की तैयारी में है

जयहिंद ने कहा कि बजट देखने से लगता है की सरकार ने माना की शिक्षा व् स्वास्थ सेवाओ की बजाये मोदी सरकार औद्योगिक घरानों के लिए तत्पर, अपनी बनाई हुई योजनाओ का खुद गाला घोट रही सरकार, मोबाइल पर कस्टम ड्यूटी बढाई, बिना मोबाइल कैसा डिजिटल इंडिया ,मात्र 4 साल बाद बेटी बचाओ व् बेटी बढाओ का नारा अब सिर्फ किताबो तक सीमित रहा है |

जयहिंद ने कहा कि डिजिटल इंडिया का धोखा बजट या रैली घी का पकोड़ा बजट ये आप खुद तय करे । कोई बता दे इस बजट में जवानो ,किसानों मजदूरो, बेरोजगारो ,महिलाओ के लिए क्या है? इन सबके लिए ये धोखा बजट है। और जेटली जी ने हरियाणा के लिए बजट में  खट्टर साहब को रैली घी के पकोड़े दिए  है बस, हरियाणा खाली हाथ रहा है |