हमीरपुर 7 फरवरी।  कौशल विकास एवं उद्यमशीलता मंत्रालय भारत सरकार द्वारा लोकार्पित अप्रेंटिशिप प्रोत्साहन योजना के प्रभावपूर्ण कार्यन्वयन तथा निगरानी हेतू हिमाचल सरकार द्वारा जिला स्तर पर गठित कमेटी की बैठक उपायुक्त हमीरपुर राकेश प्रजापति की अध्यक्षता में संपन्न हुई । बैठक में कमेटी सदस्यों, जिला के विभिन्न विभागों, बोर्डों, निगमों, बैंकों के अधिकारियों और जिला हमीरपुर के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के प्रधानाचार्यों ने भाग लिया। 
 बैठक में इस स्कीम की सुचारू रूप से कार्यान्वयन तथा जिले के विभिन्न विभागों, बोर्डों, निगमों, बैंकों, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम किस्म के उद्योगों में आईटीआई पास प्रशिक्षुओं हेतु विभिन्न व्यवसायों में अपेे्रंटिशिप  प्रशिक्षण हेतु प्रतिष्ठानों में कार्यरत संबंधित व्यवसाय के कामगारों की कुल संख्या का 2.5 प्रतिशत से 10 प्रतिशत की दर से अपे्रंटिशिप सीटों के सृजन हेतु चर्चा हुई।
उपायुक्त ने कमेटी सदस्यों व सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह इस स्कीम के सही कार्यान्वयन हेतु अपने-अपने विभाग की सभी इकाइयों को अप्रेंटिशिप पोर्टल पर पंजीकृत करवाएं तथा अपने विभाग में अधिकतम 10 प्रतिशत तक अप्रेंटिशिप सीटों के सृजन का प्रयास करें ताकि देश में कुशल मानव संसाधन उत्पन्न करने हेतु इन सीटों का उपयोग किया जा सके। उन्होंने यह भी बताया कि इस स्कीम से पांचवी कक्षा से स्नातक तक पास व्यक्ति लाभान्वित होंगे। यह स्कीम सभी क्षेत्रों से संबंधित प्रतिष्ठानों में लागू है।  प्रतिष्ठानों द्वारा प्रशिक्षुओं  को दिए जाने वाले भत्ते का 25 प्रतिशत अंश व अधिकतम 1500 रुपये प्रतिमाह भारत सरकार द्वारा वहन किया जाएगा तथा ऐसे व्यवसाय जो वर्तमान व्यवसाय सूची में शामिल नहीं है, प्रतिष्ठान स्वयं भी जरूरत अनुसार पाठ्यक्रम बनाकर उन्हें शुरू कर सकते हैं। उन्होंने जिला के आईटीआई पास अन्य  व अन्य युवा जो उपयुक्त योग्यता रखते हैं से आह्वान किया  कि वे आगे आएं व स्वयं को अप्रेंटिशिप पोर्टल पर पंजीकृत करवा कर व्यवसाय विशेष में कौशल प्राप्त कर रोजगार सृजन एवं प्राप्त करें तथा कौशल भारत कुशल भारत का सपना साकार करें। 
 
हमीरपुर, 7 फरवरी। जवाहर नवोदय प्रबंधन कमेटी की बैठक प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष एवं उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति की अध्यक्षता में आयोजित की गई। विद्यालय के कार्यकारी प्राचार्य युधिष्ठिर साहू द्वारा जवाहर नवोदय विद्यालय डूंगरी की उपलब्धियों एवं समस्याओं से अवगत कराया गया।  उपायुक्त ने  विश्वास दिलाते हुए कहा कि जहां तक संभव होगा में विद्यालय के साथ हूं और आपकी समस्याओं को दूर करने का हर संभव प्रयास करूंगा।  उपायुक्त ने आश्वासन दिया कि शीघ्र अतिशीघ्र विद्यालय में आने का प्रयास करुंगा और बच्चों से भी रूबरू हूंगा।  इस बैठक में जवाहर नवोदय विद्यालय के वरिष्ठ शिक्षक वीरेन्द्र सैनी, हिम अकादमी हमीरपुर  के तीर्थ राम, उप निदेशक उच्च शिक्षा कार्यालय से राजेन्द्र शर्मा, एसडीओ लोक निर्माण अमर सिंह भाटिया,  सीएमओ ऑफिस से सुरेश कुमार, भोरंज स्कूल के प्राचार्य सुदेश कुमार, अभिभावक प्रतिनिधियों में से राजीव रांगड़ा, रमन कुामर, सुनीता रानी, कार्यालय अधीक्षक मनोहर सिंह , शिक्षा प्रतिनिधि केएस चौहान उपस्थित थे