KULLU,14.02.18- स्वच्छता की आॅल इंडिया रैंकिंग में कुल्लू जिला को एक बार फिर देश भर के टाॅप जिलों में शामिल किया गया है। पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय द्वारा किए गए दूसरे चरण के सर्वे में भी कुल्लू जिला ने 100 अंक प्राप्त करके प्रथम स्थान हासिल किया है। मंत्रालय की वैबसाइट स्वच्छता दर्पण पर दी गई रैंकिंग में 100 अंक प्राप्त करने वाले देश भर के कुल 7 जिलों में कुल्लू भी शामिल है। कठिन भौगोलिक परिस्थितियों के बावजूद दूसरे चरण के सर्वे में भी उच्चतम पायदान पर पहुंचकर कुल्लू जिला ने हिमाचल प्रदेश ही नहीं, बल्कि पूरे देश में एक मिसाल कायम की है।
  जिलाधीश यूनुस ने बताया कि जिला में शौचालय के निर्माण और स्वच्छता को एक जन आंदोलन का रूप देने के लिए एक व्यापक मुहिम चलाई गई थी। इसी के परिणामस्वरूप जिला ने पिछले वर्ष देश भर में प्रथम हासिल किया था और अक्तूबर माह में जिला को राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था। स्वच्छता के इस स्तर को कायम रखने के लिए जिला में एक दीर्घकालीन अभियान चलाया गया। इसमें आम जन की भागीदारी सुनिश्चित की गई तथा स्वच्छता के मंत्र को आम जनजीवन में आत्मसात करने का संदेश दिया गया। अब दूसरे चरण के सर्वे में भी जिला ने पूरे 100 अंक प्राप्त किए हैं। जिलाधीश ने कहा कि आम लोगों के सहयोग व जागरुकता से ही यह संभव हो पाया है। इस उपलब्धि के लिए कुल्लू जिला को एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर का पुरस्कार मिलने जा रहा है। अप्रैल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं यह पुरस्कार प्रदान करेंगे। इसके लिए सभी जिलावासी बधाई के पात्र हैं। 
  यूनुस ने बताया कि जिला में स्वच्छता के प्रति चलाया गया जागरुकता अभियान निरंतर जारी रहेगा और स्वच्छता के स्तर को कायम रखने के लिए स्थानीय निवासियों के साथ-साथ बाहर से आने वाले पर्यटकों को भी स्वच्छता का संदेश दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार जिला के लिए बनाई गई 100 दिन की कार्य योजना में भी स्वच्छता जागरुकता अभियान को प्राथमिकता दी गई है। उन्होंने समस्त जिलावासियों से स्वच्छता के स्तर को कायम रखने तथा ठोस व तरल कचरे के सही निष्पादन के लिए सहयोग करने की अपील की है।