कुल्लू -19 फरवरी 2018-चैधरी सरवण कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के बजौरा स्थित कृषि विज्ञान केंद्र की ओर से सोमवार को बंजार उपमंडल की ग्राम पंचायत कंडीधार के गांव नागनी में एक दिवसीय किसान प्रशिक्षण शिविर एवं किसान मेले का आयोजन किया गया। पौधा किस्म और कृषक अधिकार संरक्षण अधिनियम के अंतर्गत आयोजित इस शिविर का शुभारंभ कृषि, सूचना प्रौद्योगिकी और जनजातीय विकास मंत्री डा. रामलाल मारकंडा ने किया। 
   इस अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित किसानों-बागवानों को संबोधित करते हुए डा. रामलाल मारकंडा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की सभी 19 सब्जी मंडियों को इंटरनेट सुविधा से जोड़ा जा रहा है, ताकि किसान-बागवान अपने उत्पादों की आॅनलाइन बिक्री कर सकें। उन्होंने कहा कि बंजार विधानसभा क्षेत्र में आधुनिक सुविधाओं से युक्त सब्जी मंडी का निर्माण कार्य इसी वित्तीय वर्ष में आरंभ किया जाएगा। डा. मारकंडा ने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुणा करने की दिशा में तेजी से कार्य कर रही है। इसके लिए खेती में आधुनिक तकनीक के अधिक से अधिक प्रयोग और सिंचाई योजनाओं के निर्माण पर विशेष बल दिया जा रहा है। सरकार हर खेत तक पानी पहुंचाने के लिए प्रयासरत है। सौर ऊर्जा चलित सिंचाई योजनाओं की संभावनाएं भी तलाशी जा रही हैं। कृषि मंत्री ने वैज्ञानिकों से आग्रह किया कि वे ग्रामीण क्षेत्रों में प्रशिक्षण शिविर लगाकर कृषि की आधुनिक प्रौद्योगिकी को आम किसानों तक पहुंचाएं। उन्होंने बताया कि हिमाचल के सभी आठ कृषि विज्ञान केंद्रों के वैज्ञानिकों को व्हाट्सएप गुप से जोड़ा जाएगा तथा वे 24 घंटे के अंदर किसानों की समस्याओं का समाधान करेंगे। इस अवसर पर कृषि मंत्री ने क्षेत्र के किसानों-बागवानों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। लगभग 80 किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरित किए तथा प्रगतिशील किसानों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किए।  
  इससे पहले विधायक सुरेंद्र शौरी ने कृषि मंत्री का स्वागत किया तथा बंजार क्षेत्र में जारी विकास कार्यों की जानकारी दी। कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति अशोक कुमार सरयाल ने बताया कि परंपरागत फसलों के बीजों के संरक्षण व संवर्द्धन के लिए विश्वविद्यालय नई तकनीक का प्रयोग कर रहा है। शिविर के दौरान आतमा परियोजना के निदेशक संजय मरवाह, कृषि विशेषज्ञ जय बिहारी लाल और अन्य वैज्ञानिकों ने किसानों-बागवानों का मार्गदर्शन किया। 
 इस मौके पर जिला भाजपा अध्यक्ष भीमसेन शर्मा, कृषि विज्ञान केंद्र के प्रसार निदेशक डा. अतुल अनुसंधान निदेशक डा. आरएस जमवाल, उमेश सूद और अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।