Shimla,20.02.18-16 से 19 फरवरी 2018 तक बिहार विधान सभा की सी0 पी0 ए0 शाखा द्वारा आयोजित छठा राष्ट्रमण्डल संसदीय सम्मेलन (भारत क्षेत्र) सम्पन्न हो गया है। तीन दिनों तक चले इस सम्मेलन में जँहा एक सौ से अधिक राष्टमण्डल सांसदों ने भाग लिया । वहीं विभिन्न राज्यों के पीठासीन अधिकारियों, उपाध्यक्षों व विधान सभा सचिवों ने भी भाग लिया  हिमाचल प्रदेश विधान सभा के माननीय अध्यक्ष डॉ0 राजीव बिन्दल इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए विशेष रूप से पटना गए थे । डॉ0 राजीव बिन्दल के साथ विधान सभा के उपाध्यक्ष श्री हंस राज तथा विधान सभा सचिव श्री सुंदर सिहं वर्मा भी गये थे ।

इस सम्मेलन का शुभारम्भ 17 फरवरी, 2018 को लोकसभा की अध्यक्षा श्रीमती सुमित्रा महाजन ने किया था जबकि बिहार विधान सभा के अध्यक्ष श्री वी0के0 चौधरी, उप मुख्यमंत्री बिहार श्री सुशील कुमार मोदी तथा बिहार के मुख्यमंत्री श्री नितिश कुमार ने भी इस सम्मेलन को सम्बोधित किया । इस सम्मेलन को कैमरून की नेशनल एसैंबली की उपाध्यक्ष एंव राष्ट्रमण्डल संसदीय कार्य समिति की अध्यक्षा ऐमिलिया मोन्जोवा लिफाका ने भी सम्बोधित किया  । इस सम्मेलन में राष्ट्रमण्डल संसदीय कार्य समिति के सेक्रेटरी जनरल श्री अकबर खान भी मौजूद थे ।

 इस सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य सत्तत विकास लक्ष्य को हासिल करने में संसद व सांसदों की भूमिका पर विचार करना था ।इस सम्मेलन में भाग लेते हुए हिमाचल प्रदेश विधान सभा के माननीय अध्यक्ष डॉ0 राजीव बिन्दल ने "विकास कार्यसूची में संसद की भूमिका" विषय पर अपने विचार रखे जबकि माननीय उपाध्यक्ष श्री हसं राज ने "विधान मण्डल और न्यायपालिका -लोकतन्त्र के दो महत्पूर्ण स्तम्भ है " बिषय पर  अपने विचार रखे। सम्मेलन सम्पन्न होने के उपरान्त आज डॉ0 राजीव बिन्दल ने पटना,बिहार से हिमाचल प्रदेश के नाहन के लिए प्रस्थान कर लिया है।