जिला स्तरीय हिमाचल दिवस समारोह
बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा रहे मुख्यातिथि
   कहा... प्रदेश सरकार ने अल्प अवधि में अर्जित की अनेक उपलब्धियां
धर्मशाला, 15 अप्रैलः 71वें हिमाचल दिवस के उपलक्ष्य पर आज कांगड़ा जिले के धर्मशाला में ज़िला स्तरीय समारोह सादे किंतु गरिमापूर्ण तरीके से मनाया गया। बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने धर्मशाला के पुलिस मैदान में आयोजित समारोह की अध्यक्षता की और राष्ट्रीय ध्वज फहराया तथा पुलिस, होमगार्ड और विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों की टुकड़ियों द्वारा निकाले गए आकर्षक मार्च पास्ट की सलामी ली।इस मौके हिमाचल प्रदेश विधान सभा के उपाध्यक्ष हंस राज विशिष्ट मेहमान के तौर पर उपस्थित रहे।
    इस अवसर पर अपने संबोधन में अनिल शर्मा ने प्रदेश के गठन में योगदान देने वाली महान् विभूतियों का स्मरण कर उनकी स्मृतियों को नमन किया। शर्मा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने अपने अस्तित्व में आने के बाद विकास के विभिन्न क्षेत्रों में अभूतपूर्व प्रगति की है और आज प्रदेश को देश में पहाड़ी विकास का आदर्श माना जाता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने विगत तीन महीनों की अवधि में विभिन्न क्षेत्रों में अनेक महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। इन निर्णयों से प्रदेश के विकास को नई दिशा और गति मिली है, जिससे सभी वर्गों के लोग लाभान्वित हुए हैं।
उन्होंने विशेष तौर पर प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री एवं हिमाचल निर्माता डॉ. वाई.एस.परमार को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुये कहा कि डॉ0 परमार नेे इस प्रदेश को एक अलग पहचान दिलाई और प्रदेश के विकास के लिए एक सशक्त आधार प्रदान किया।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ‘सबका साथ-सबका विकास’ के मूलमंत्र के साथ एक टीम भावना से कार्य कर रही है। हमने सत्ता की बागडोर संभालते ही भारतीय जनता पार्टी के ‘स्वर्णिम दृृष्टि पत्र’ को सरकार की नीति दस्तावेज बनाया और उसके अनुसार ही कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने सभी विभागों को 100 दिनों के लक्ष्य निर्धारित किए थे, जिन्हें पूरा किया गया है और इस छोटी सी अवधि में अनेक उपलब्ध्यिां प्राप्त की हैं।
बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री ने सरकार की विशेष उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुये कहा कि प्रदेश सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तहत बिना किसी आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्ति की आयु सीमा 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष की है तथा इस निर्णय से इस आयुवर्ग के एक लाख 30 हजार वरिष्ठ नागरिक लाभान्वित हुए हैं, सरकार पर लगभग 200 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ा है।
उन्होंने कहा कि सरकार ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए राज्य योजना का आकार 6300 करोड़ रुपये प्रस्तावित किया गया है, जो गत वर्ष के मुकाबले 10.51 प्रतिशत अर्थात् 600 करोड़ रुपये अधिक है। 
शर्मा ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा की दिशा में अनेक कदम उठाए गए हैं। महिलाओं की सुरक्षा के लिए ‘शक्ति बटन ऐप’ तथा महिलाओं के प्रति हिंसक घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए ‘गुड़िया हेल्पलाइन’ 1515 आरम्भ की गई है। प्रदेश में वन माफिया, खनन माफिया तथा ड्रग माफिया के विरुद्ध कड़ाई से निपटने के लिए ‘होशियार सिंह हेल्पलाइन’ 1090 आरम्भ की गई है। ये सभी कदम प्रशासनिक सुधार की दिशा में महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि इससे लोगों को पारदर्शी एवं उत्तरदायी प्रशासन मिलना सुनिश्चित हुआ है।
उन्होंने कहा कि मंडी में 55 करोड़ रुपये की लागत से ‘क्लस्टर विश्वविद्यालय’ स्थापित किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त सरकार द्वारा मुख्यमंत्री आदर्श विद्या केन्द्र नामक नई योजना आरम्भ करने का निर्णय लिया है, जिसके तहत सभी विधानसभा क्षेत्रों में जहां नवोदय अथवा एकलव्य विद्यालय नहीं हैं, ऐसे विद्यालय खोले जाएंगे, जिसमें छात्रावास की भी सुविधा होगी।
अनिल शर्मा ने कहा कि कृषि व बागवानी के क्षेत्रों में अनेक नई योजनाएं आरम्भ की जा रही हैं। बागवानी क्षेत्र में तकनीकी सहयोग के लिए न्यूजीलैंड के बागवानी विशेषज्ञों की सहायता ली जा रही है। इसके अलावा सरकार बेसहारा पशुओं की समस्या से निपटने के लिए प्रदेश में गोसदन चलाने वाले स्वयंसेवी संगठनों को 50 लाख रुपये की सहायता प्रदान करने की योजना है।गोसदन चलाने के लिए गैर-सरकारी संगठनों को प्रेरित करने के लिए अभियान चलाया गया है।
बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री ने कहा कि जल संरक्षण के लिए 4751.24 करोड़ की परियोजना वित्त पोषण हेतु भारत सरकार को प्रेषित की गई है। इसके अतिरिक्त वर्ष 2000 से पूर्व बनी पेयजल योजनाओं के सुधार हेतु 798 करोड़ की योजना केन्द्र को भेजी गई है।
उन्होंने कहा कि राज्य में सड़कों के रख-रखाव और टारिंग के कार्य के लिए 100 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि जारी की गई तथा 98 कि.मी. मोटर योग्य सड़कें बनाई र्गइं। 212 कि.मी. सड़कों पर क्रॉस ड्रेनेज सुविधा प्रदान की गई है।
प्रदेश सरकार द्वारा एक बड़ी पहल करते हुए महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने हेतु मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना, मुख्यमंत्री आजीविका योजना में महिला उद्यमियों के लिए 5 प्रतिशत अतिरिक्त सब्सिडी का प्रावधान किया है।
बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं उर्जा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में आमजन तक विकास का लाभ पहंुचाने के लिये आगामी 6 माह में कार्यान्वयन कई नई योजनायें कार्यान्वित की जा रही हैं जिनमें मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना, मुख्यमंत्री युवा आजीविका योजना, नई राहें-नई मंजिलें, मुख्यमंत्री आदर्श विद्या केन्द्र, हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना, स्वास्थय में सहभागिता योजना, मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना, मुख्यमंत्री चिकित्सा सहायता कोष, मुख्यमंत्री लोक भवन तथा प्राकृतिक खेती-खुशहाल किसान योजना प्रमुख हैं।
बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं उर्जा मंत्री मंत्री ने इस अवसर पर मार्च पास्ट के प्रतिभागियों, स्वच्छ भारत मिशन के तहत श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले स्कूलों एवं विभिन्न खेल स्पर्धाओं में पदक हासिल करने वाले खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया।     
अनिल शर्मा ने जिला रैडक्रास सोसायटी की ओर से दिव्यांग व्यक्तियों को सहायक उपकरण भी वितरित किए।
 
बच्चों को दी श्रद्धांजलि
इस दौरान बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री ने पिछले दिनों नूरपुर के निकट हुई दुःखद बस दुर्घटना पर शोक जताते हुए कहा कि इस दर्दनाक हादसे ने सभी प्रदेशवासियों को गहरा सदमा दिया है। उन्होंने कहा कि दुःख की इस घड़ी में हम सब शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। उन्होंने घायल बच्चों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की। उन्होंने कहा कि भविष्य में ऐसी दुर्घटना न हों, इसके लिए सरकार कड़े निर्देश लागू करने जा रही है। 
इस मौके नुरपूर बस हादसे में मारे गये बच्चों की याद में 2 मिनट का मौन रखा गया तथा मंच पर निर्मित अस्थाई श्रद्धांजलि स्थल पर पुष्प चढ़ा कर उन्हें श्रद्धाजंलि अर्पित की गई। इस अवसर पर हादसे में सुरक्षित बचे दो बहादुर बच्चों अवानी और रणवीर के अदम्य साहस को सलाम करते हुए जिला प्रशासन ने उन्हें प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। बच्चों की ओर से ये प्रशस्ति पत्र पुलिस अधीक्षक ने ग्रहण किए। गौरतलब है कि ये दोनों बच्चे दुर्घटना में स्वयं गंभीर रूप से घायल होने के बावजूद ऊंची पहाड़ी चढ़कर सड़क पर आए थे और पास मौजूद लोगों को इस दुर्घटना की जानकारी दी थी, जिससे राहत बचाव कार्य तुरंत शुरू किए जा सके एवं अनेेक बहुमूल्य जीवन बचाए जा सके। 
     इससे पूर्व, प्रातः 10ः30 बजे बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं उर्जा मंत्री मंत्री अनिल शर्मा ने धर्मशाला स्थित शहीद स्मारक जाकर शहीदों को श्रद्धाजंलि अर्पित की।
 समारोह में विधानसभा उपाध्यक्ष हंस राज, निर्वासित तिब्बत सरकार के वित्त मंत्री कर्मा ईशे, उपायुक्त कांगड़ा संदीप कुमार, पुलिस अधीक्षक संतोष पटियाल, जिला भाजपा अध्यक्ष संजय चौधरी तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी और बड़ी संख्या में ज़िलावासी उपस्थित थे। 
==============================================
कुल्लू   -15 अप्रैल 2018
हिमाचल दिवस पर कुल्लू में वीरेंद्र कंवर ने फहराया तिरंगा
पुलिस, होमगार्ड, आईटीबीपी, एनसीसी, एनएसएस, स्काउट एंड गाइड्स ने किया मार्च पास्ट
    71वां हिमाचल दिवस कुल्लू में भी हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। ढालपुर मैदान में आयोजित जिला स्तरीय समारोह में ग्रामीण विकास, पंचायती राज, पशुपालन और मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया तथा भव्य परेड की सलामी ली। इस परेड में हिमाचल प्रदेश पुलिस के अलावा होमगार्ड, आईटीबीपी, एनसीसी, एनएसएस, स्काउट एंड गाइड्स की टुकड़ियों ने भी भाग लिया।
    इस अवसर पर समस्त जिलावासियों को हिमाचल दिवस की बधाई देते हुए वीरेंद्र कंवर ने कहा कि 70 वर्षों के अपने सफर के दौरान हिमाचल प्रदेश ने विकास के कई बड़े मुकाम हासिल किए हैं। बीते दिनों कांगड़ा जिले के नूरपुर में हुई भीषण सड़क दुर्घटना में मारे गए स्कूली बच्चों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हुए वीरेंद्र कंवर ने कहा कि दुःख की इस घड़ी में सभी प्रदेशवासी शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। भविष्य में ऐसी दुर्घटना न हों, इसके लिए सरकार कड़े निर्देश लागू करने जा रही है।
     उन्होंने कहा कि मात्र सौ दिन के अपने कार्यकाल के दौरान राज्य सरकार ने प्रदेश के चहुमुखी विकास को गति प्रदान की है। सरकार ने बिना किसी आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्ति की आयु सीमा 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष की है। इस निर्णय से उक्त आयुवर्ग के एक लाख 30 हजार वरिष्ठ नागरिक लाभान्वित हुए हैं। आवारा पशुओं की समस्या के स्थायी समाधान के लिए प्रदेश सरकार ने ठोस कदम उठाए हैं। इसके लिए मंत्रिडलीय उप समिति गठित की गई है। गोसदनों के निर्माण व रखरखाव के लिए पर्याप्त धनराशि का प्रावधान किया जा रहा है। 
    कुल्लू जिला की चर्चा करते हुए वीरेंद्र कंवर ने कहा कि केंद्र सरकार ने कुल्लू जिला को पूरे देश में सबसे स्वच्छ जिलों में शामिल किया है। इसके लिए सभी जिलावासी बधाई के पात्र हैं। जिला की 105 ग्राम पंचायतों में ठोस व तरल कचरा प्रबंधन परियोजना आरंभ की गई है जिसके तहत अभी तक लगभग 3 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं। आने वाले समय में जिला की सभी 204 पंचायतों में यह परियोजना आरंभ की जाएगी। हर खेत को पानी पहुंचाने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए चलाई गई प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत कुल्लू जिला के लिए 983 करोड़ रुपये की जिला सिंचाई योजना तैयार की गई है। इसी योजना के तहत 48 करोड़ 75 लाख रुपये की 13 सिंचाई योजनाएं मंजूर की गई हैं जिनसे 2164 हैक्टेयर भूमि को सिंचाई सुविधा मिलेगी। कुल्लू जिला में लगभग साढे 74 हजार किसानों को मिटटी स्वास्थ्य कार्ड प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है। सरकार ने कुल्लू जिला के सभी स्वास्थ्य केंद्रों और अस्पतालों में आवश्यक दवाईयां मुफ्त उपलब्ध करवाई हैं। कुल्लू के क्षेत्रीय अस्पताल में टीबी के टैस्ट के लिए अत्याधुनिक सी.बी. नाॅट मशीन स्थापित की गई है। 
  समारोह के दौरान विभिन्न शिक्षण संस्थानों और संस्थाओं के कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए। ग्रामीण विकास मंत्री ने गणतंत्र दिवस की परेड में भाग लेने वाली कुल्लू की एनसीसी कैडेट विजया सोमनी जसवाल और सराहनीय सेवाएं प्रदान करने वाले पुलिस कर्मचारियों एसएचओ कुल्लू अशोक कुमार, टैªफिक हवलदार हरबंस लाल, एएसआई गीता तथा एसआई राजेंद्र सिंह को विशेष रूप से सम्मानित किया। 
  जिला स्तरीय समारोह में विधायक सुरेंद्र शौरी, सुंदर सिंह ठाकुर, पूर्व सांसद महेश्वर सिंह, पूर्व मंत्री सत्य प्रकाश ठाकुर, जिला परिषद अध्यक्ष रोहिणी चैधरी, जिला भाजपा अध्यक्ष भीमसेन शर्मा, एसपी शालिनी अग्निहोत्री, एडीएम अक्षय सूद और अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।
==============================================
         सोलन -दिनांक 15.04.2018
71वां हिमाचल दिवस हर्षोल्लास के साथ आयोजित
डॉ. बिंदल का जल, वन एवं पर्यावरण संरक्षित रखने का आह्वान
प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने लोगों का आह्वान किया कि प्रदेश के स्वच्छ पर्यावरण, शुद्ध जल एवं वायु को संरक्षित रखने का प्रण हिमाचल दिवस के अवसर पर लें ताकि हिमाचल के साथ-साथ पूरे देश का समग्र एवं सर्वांगीण विकास सुनिश्चित हो सके। डॉ. बिंदल आज सोलन के ऐतिहासिक ठोडो मैदान में आयोजित जिला स्तरीय हिमाचल दिवस समारोह की अध्यक्षता कर रहे थे। 
उन्होंने इस अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया तथा पुलिस, गृह रक्षा, एन.सी.सी, एन.एस.एस. एवं विभिन्न स्कूली छात्रों द्वारा आयोजित भव्य मार्चपास्ट की सलामी ली। पुलिस उप निरीक्षक नारायण सिंह ने परेड का नेतृत्व किया।
डॉ. बिंदल ने इससे पूर्व कृतज्ञ प्रदेशवासियों की ओर से शहीद स्मारक चम्बाघाट में शहीदों को भावभीनी पुष्पाजंलि अर्पित की। 
डॉ. बिंदल ने कहा कि स्वच्छ जलवायु, शुद्ध पेयजल तथा स्वस्थ हवा हिमाचल की धरोहर है। इसे सुरक्षित रखना हम सभी का कर्तव्य है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि जल संरक्षण को जीवन का अभिन्न अंग बनाएं तथा वर्षा जल संग्रहण की आदत डालें। उन्होंने कहा कि संसाधनों का संरक्षण बेहतर भविष्य की नींव है। उन्होंने कहा कि पर्यटन हिमाचल की आर्थिकी का मुख्य स्त्रोत बन सकता है किन्तु इसके लिए हमें जल, जंगल और जमीन को सुरक्षित रखना होगा। उन्होंने कहा कि हाल ही में प्रदेश विधानसभा में जल संरक्षण पर सारगर्भित चर्चा की गई।  
विधानसभा अध्यक्ष ने आह्वान किया कि सभी अपने आवास के सौ मीटर के दायरे में स्वच्छता बनाए रखने का संकल्प लें। स्वच्छ भारत अभियान की सफलता इसी प्रकार संभव है। 
डॉ. राजीव बिंदल ने कहा कि देश व प्रदेश ‘सबका साथ, सबका विकास’ की मूल भावना के साथ आगे बढ़ रहा है। हिमाचल प्रदेश में नई सरकार का गठन हुआ है। नई ऊर्जा के साथ समग्र एवं समाज के सभी वर्गों के विकास के लिए नई योजनाएं कार्यान्वित की जा रही हैं। उन्होंने अधिकारियों एवं कर्मचारियों से आग्रह किया कि कल्याणकारी योजनाओं को लक्षित वर्गों तक पहुंचाएं। 
उन्होंने कहा कि लोगों के सहयोग पर ही योजनाओं एवं कार्यक्रमों की सफलता निर्भर करती है। सभी के सहयोग से वर्ष 2022 तक हिमाचल प्रदेश को तपेदिक मुक्त बनाया जाएगा। आम जन की सक्रिय भागीदारी हिमाचल को अनीमिया मुक्त बनाएगी। 
डॉ. राजीव बिंदल ने कहा कि प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने शून्य बजट आधारित कृषि का मूलमंत्र प्रदान किया है। इसे अपनाकर हिमाचल प्रदेश का किसान न केवल अपनी आर्थिकी को मजबूत बना सकता है बल्कि जैविक खेती को व्यापक बढ़ावा भी दे सकता है।
उन्होंने कहा कि हिमाचल के साथ-साथ सोलन जिले को भी अपने परिश्रमी निवासियों के लिए जाना जाता है। सोलन जिले ने वर्ष 1940 में बेमौसमी सब्जियों के रूप में टमाटर के उत्पादन को अपनाया और आज पूरा देश सोलन का अनुसरण कर रहा है। सोलन के चायल क्षेत्र ने प्रदेश एवं देश को पुष्पोत्पादन की राह दिखाई है।
डॉ. बिंदल ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी जिलों के योजनाबद्ध विकास के लिए कृतसंकल्प है। उन्होंने किसानों एवं बागवानों से आग्रह किया कि ई-राष्ट्रीय कृषि बाजार को व्यापक स्तर पर अपनाएं। 
उन्होंने इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश की आशातीत प्रगति के लिए सभी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि हम सभी को बेरोजगारी हटाने, श्रेष्ठ स्वास्थ्य सुविधाएं गांव-गांव तक पहुंचाने तथा बेहतर सड़कें उपलब्ध करवाने की दिशा में तेजी से कार्य करना होगा। 
उन्होंने युवा पीढ़ी से आग्रह किया कि नशे से दूर रहें, ऊर्जा बचाएं तथा विकास में सक्रिय भागीदार बनें। 
उन्होंने इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों एवं अन्य को सम्मानित किया। 
इस अवसर पर रंगारंग सांस्कृति कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया।
डॉ. राजीव बिंदल की पत्नी मधु बिंदल, शिमला लोकसभा क्षेत्र के सांसद प्रो. वीरेंद्र कश्यप, राज्य खादी बोर्ड के उपाध्यक्ष पुरूषोत्तम गुलेरिया, प्रदेश भाजपा सचिव रत्न सिंह पाल, सुप्रसिद्ध वैद्य रामकुमार बिंदल, जिला भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष पवन गुप्ता, राज्य भाजपा प्रवक्ता रितु सेठी, जिला परिषद सदस्य शीला, नगर परिषद सोलन के अध्यक्ष देवेंद्र ठाकुर, उपाध्यक्ष मीरा आनंद, पार्षदगण, जिला भाजपा महामंत्री नरेंद्र शर्मा, कोषाध्यक्ष लक्ष्मी ठाकुर, सोलन मंडल भाजपा अध्यक्ष रविंद्र परिहार, उपाध्यक्ष धर्मेंद्र ठाकुर, कोषाध्यक्ष अमर सिंह ठाकुर, सचिव शैलेंद्र गुप्ता, जिला भाजपा सचिव विवेक डोभाल, सोलन मंडल भाजपा सचिव अशोक ठाकुर, बीडीसी कण्डाघाट के पूर्व अध्यक्ष नंदराम कश्यप, व्यापार मंडल सोलन के अध्यक्ष मुकेश गुप्ता, जिला दवा विक्रेता संघ के अध्यक्ष वीरेंद्र सूद, जिला भाजयुमो अध्यक्ष भरत साहनी, भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी, उपायुक्त विनोद कुमार, पुलिस अधीक्षक मोहित चावला, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी विवेक चंदेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. शिव कुमार, अन्य गणमान्य व्यक्ति, अजय बंसल, वरिष्ठ अधिकारी एवं स्कूली बच्चे इस अवसर पर उपस्थित थे। 
===============================================
जल संरक्षण के लिए 4751 करोड़ की योजना की तैयार : महेंद्र सिंह   
                 हमीरपुर में हर्षोल्लास के साथ मनाया हिमाचल दिवस   
  हमीरपुर 15 अप्रैल । हिमाचल दिवस के उपलक्ष्य पर जिला स्तरीय समारोह राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (बाल) हमीरपुर  के मैदान में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। समारोह में प्रदेश के सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य व बागवानी मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने  बतौर मुख्यातिथि शिरकत की तथा राष्ट्रीय ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर उन्होंने  पुलिस, होम गार्डज के जवानों , स्कूली बच्चों एनसीसी, एनएसएस तथा स्काउट एंड गाईड  द्वारा प्रस्तुत भव्य मार्च पास्ट की सलामी भी ली।  स्कूली बच्चों द्वारा देश भक्ति से ओत-प्रोत व रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। 
   मुख्यातिथि आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि राज्य मेें जल संरक्षण के लिए 4751 करोड़ की परियोजना वित पोषण के लिए केंद्र सरकार को भेजी गई है इसके अतिरिक्त वर्ष 2000 से पूर्व बनी पेयजल योजनाओं के सुधार हेतु 798 करोड़ की योजना केंद्र को प्रेषित की गई है ताकि ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की उचित सप्लाई की जा सके।
   उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का गठन होने के बाद प्रथम मंत्रीमंडल की बैठक में  वर्तमान सरकार ने  समाज हित में दो बड़े निर्णय लिए  जिसके अंतर्गत  सामाजिक सुरक्षा पैंशन के तहत 80 वर्ष या इससे अधिक आयु के बुजुर्गों की आयु सीमा को 70 वर्ष किया गया ताकि अधिक से अधिक बुजुर्ग लोगों को पैंशन का लाभ प्राप्त हो सके।  इसी प्रकार दूसरा बड़ा निर्णय गौवंश की सुरक्षा को लेकर किया गया जिस पर प्रति वर्ष 250 करोड़ रूपए व्यय किया जाएगा।  
   उन्होंने कहा कि प्रदेश में बहुत कम क्षेत्र में बागवानी होती है। इसका प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में प्रसार हो इसके लिए  केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश को 1134 करोड़ रूपए की राशि स्वीकृत की गई है। उन्होंने कहा कि सड़कें  चहुंमुखी विकास में अहम भूमिका निभाती हैं इसलिए प्रदेश सरकार द्वारा सड़कों की टारिंग तथा जीर्णेद्धार पर 100 करोड़ रूपए व्यय किया  जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  ग्रामीण सड़क योजना भी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सोच थी जिससे ग्रामीण क्षेत्रों को सड़क सुविधा प्रदान कर ग्रामीण विकास को सुनिश्चित बनाया गया।
  मुख्यातिथि ने सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा परेड़ में भाग लेने वाले पुलिस , होम गार्डज तथा स्कूली बच्चों को पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया। उन्होंने जाहू गांव के 95 वर्षीय स्वतंत्रता सेनानी राम लाल को भी स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। 
    इस अवसर पर सांसद अनुराग ठाकुर, स्थानीय विधायक नरेन्द्र ठाकुर, भोरंज की विधायक कमलेश कुमारी, नादौन के पूर्व विधायक विजय अग्रिहोत्री, प्रदेश भाजपा सचिव विजयपाल सोहारू,  हमीरपुर भाजपा मंंडलाध्यक्ष बलदेव धीमान,नगर परिषद अध्यक्ष सलोचना देवी,उपाध्यक्ष दीपक बजाज ,एपीएमसी के पूर्व चेयरमैन प्यारे लाल शर्मा, पूर्व अध्यक्ष देशराज शर्मा, वीना शर्मा सहित अतिरिक्त उपायुक्त रत्न गौतम, एसपी रमन कुमार मीणा के अतिरिक्त भाजपा के पदाधिकारीगण, विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे ।