धर्मशाला, 19 मई: शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सरवीण चौधरी ने कहा कि प्रदेश सरकार स्कूलों में प्राथमिकता पर शैक्षिक तथा ढांचागत आवश्यकताएं पूरी करने पर जोर दे रही है। स्कूलों में आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करवाने तथा विद्याार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने के साथ उनके सर्वांगीण विकास पर ध्यान दिया जा रहा है। वर्तमान वित्त वर्ष मे शिक्षा क्षेत्र के लिए 7044 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान है।
    वे आज राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सलोल में 88 लाख रुपये की लागत से निर्मित भवन का उद्घाटन करने के उपरांत बोल रही थीं। इस भवन में सात कक्षा कक्ष, एक लाईब्रेरी तथा एक कम्पयूटर कक्ष सहित नौ कमरे हैं।
     शहरी विकास मंत्री ने कहा कि सरकार प्रदेश के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में मदद कर रही है। सरकार यी सुनिश्चित बना रही है कि उचित मार्गदर्शन के अभाव में अथवा आर्थिक तंगी के कारण किसी भी विद्यार्थी की तैयारी प्रभावित न हो। उन्होंने कहा कि बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को जेईई मेन, एनईईटी इत्यादि परीक्षाओं तथा अन्य उच्च स्तरीय शैक्षणिक संस्थाओं में प्रवेश हेतू कोचिंग की आवश्यकता होती है। इसके अलावा महाविद्यालय से निकले हुए छात्रों को रोजगारपरक प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी की जरूरत होती है। उन्होंने कहा इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए प्रदेश सरकार ‘‘मेधा प्रोत्साहन योजना’’ शुरू कर रही है। इसके तहत बच्चों को राज्य में अथवा राज्य से बाहर कोचिंग के लिए सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। सरकार ने इसके लिए 5 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है।
 सरवीन चौधरी ने कहा कि स्कूलों में बच्चों को अटल वर्दी योजना के तहत प्रति वर्ष दो वर्दियां देने के साथ ही इस वर्ष से पहली, छठी तथा 9वीं कक्षा के विद्याार्थियों को एक स्कूल बैग भी दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने शिक्षा के स्तर को उठाने के लिए अनेक योजनाएं आरंभ की हैं। बच्चों के लिए मुख्यमंत्री आदर्श विद्या केन्द्र, अखंड शिक्षा ज्योति, मेरे स्कूल से निकले मोती, युवा विज्ञान पुरस्कार योजना इत्यादि नवीन योजनाएं आरंभ की गई हैं।
    शहरी विकास मंत्री ने बच्चों को नशे की बुराई से दूर रहने तथा अन्य बच्चों को भी इस बुराई से दूर रहने के लिए प्रेरित करने को कहा। उन्होंने कहा कि छात्र पश्चिमी सभ्यता के बजाए देश की समृद्ध संस्कृति का अनुकरण करें तथा सादा व्यवहार और उच्च विचार की परिपाटी का अनुसरण कर अच्छे नागरिक बनें।
इस अवसर पर कांगड़ा भाजपा के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक संजय चौधरी ने कांगड़ा विधानसभा क्षेत्र में आने पर शहरी विकास मंत्री का स्वागत किया। उन्होंने स्थानीय लोगों को स्कूल के नये भवन के लिए बधाई दी और कहा कि भाजपा सरकार ने कई कल्याणकारी योजनाएं आरंभ की है, जिनका लाभ गरीब लोगों को मिलेगा। उन्होंने सलोल स्कूल में विज्ञान संकाय की कक्षाएं आने वाले समय में शुरू करने के साथ -साथ इलाके की मांगों को भी रखा।  
 इस मौके शहरी विकास मंत्री ने रा.व.मा.पा. सलोल में हैण्डपंप लगाने की घोषणा की। उन्होंने पूर्व विधायक संजय चौधरी की मांग पर कांगड़ा विधान सभा क्षेत्र में भी आवश्यकतानुरूप हैण्डपंप लगवाने का आश्वासन दिया।
    इससे पूर्व राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सलोल के प्रधानाचार्य संजय कुमार ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा स्कूल स्टाफ व स्थानीय लोगों ने मुख्यातिथि को स्मृति चिन्ह भंेट कर सम्मानित किया।
इस अवसर पर स्कूली बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।
    इस अवसर पर कांगड़ा भाजपा अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक संजय चौधरी, उप निदेशक उच्च शिक्षा के.के. शर्मा, उप निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा दीपक किनायत, महिला मोर्चा अध्यक्ष कल्पना भंडारी, उपाध्यक्ष मीरा शर्मा, एसएमसी प्रधान शीतला देवी, सलोल के प्रधान रमेश मनु, बोहड-कवालू के प्रधान नसीब सिंह, तिलक शर्मा, अश्वनी चौधरी, रमश बराड़, रोशन सिहोता, अधिशाषी अभियंता विद्युत रूमेल सिंह, अधिशाषी अभियंता राजीव महाजन, सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग विजय शर्मा, नीतू दमीर, युवा मोर्चा के कुलदीप, स्कूल के स्टाफ सहित स्कूली बच्चे तथा बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।
000