चंडीगढ़, 24 मई- हरियाणा में स्काउट एवं गाइडस की गतिविधियों पर वित्त वर्ष 2018-19 में 3 करोड़ 20 लाख रूपये की राशि खर्च की जाएगी। इस राशि के बजट का अनुमोदन आज राज्यपाल प्रो0 कप्तान सिंह सोलंकी की अध्यक्षता में हरियाणा राज्य भारत स्काउटस एंड गाइडस की राज्य परिषद् की 41 वीं बैठक में किया गया। बैठक का आयोजन हरियाणा राजभवन में किया गया। इस अवसर पर राज्यपाल ने स्काउट एवं गाइडस में श्रेष्ठ उपलब्धियों के लिए विद्यार्थियों और अधिकारियों को सम्मानित भी किया।
राज्यपाल ने अपने सम्बोधन में कहा कि स्काऊट एवं गाईडस के माध्यम से विद्यार्थियों का सर्वांगीण विकास हो रहा है जो कि शिक्षा का उद्देश्य होता है। इस प्रकार यह संस्था उत्तम कोटि के नागरिक पैदा करने की पाठशाला है। उन्होंने कहा कि स्काऊट एवं गाईडस के माध्यम से हरियाणा में उल्लेखनीय काम हो रहा है। यह राज्य छोटा है लकिन काम बड़ा है। इसका प्रमाण यह है कि राष्ट्रीय स्तर पर हरियाणा की संस्था को 7 पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है जो कि देश में सर्वाधिक हैं। इसी प्रकार हरियाणा राज्य स्काउटस व गाइडस की संख्या में भी अग्रणी है। इस राज्य की जनसंख्या देश का दो प्रतिशत है लकिन यहां स्काउटस व गाइडस की संख्या राष्ट्रीय संख्या का 14 प्रतिशत है।
राज्यपाल ने कहा कि स्काऊट एवं गाईडस संगठन का राष्ट्र के प्रति आस्था जगाने में महत्वपूर्ण योगदान है। राष्ट्र का भविष्य बच्चे होते हैं और जैसे संस्कार व शिक्षा उन्हें मिलेंगे वैसा ही राष्ट्र बनेगा। ऐसे संस्कार स्काउटस एवं गाइड से बच्चों को मिल रहे हैं। उन्होंने आज सम्मानित होने वाले 192 कब्स, बुलबुल्स, स्काउटस, गाइडस और कर्मठ अधिकारियों को बधाई दी। उन्होंने स्काउट्स की श्रेष्ठ गतिविधियों में प्रथम रहे जिला करनाल व सिरसा, कब्स में जिला जींद व सिरसा, गाइडस में भी जिला सोनीपत तथा बुलबुलस में जिला भिवानी को शील्डस देकर सम्मानित किया।
इससे पहले स्काऊट एवं गाईडस संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद अनिल जैन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को श्रेष्ठ बनाने के लिए जो चार कार्यक्रम दिए हैं उन्हें स्काऊट एवं गाईडस संगठन ने अपनाया है। इनमें स्वच्छ भारत, नमामि गंगे, बेटी बचाओ-बेटी पढाओ और स्किल इंडिया शामिल हैं। उन्होंने कहा कि देश में स्काऊट एवं गाईडस की संख्या 55 लाख है जिसे बढाकर एक करोड़ किया जाएगा। उन्होंने हरियाणा में यह संख्या दोगुणी करने के लक्ष्य की सराहना करते हुए कहा कि इससे अन्य राज्यों को भी प्रेरणा मिलेगी।
इससे पहले संस्था के राज्य सचिव एस0एस0 कौशल ने संस्था की वर्ष 2016-17 की वार्षिक रिपोर्ट रखी। उन्होंने इस वर्ष के दौरान संगठन की विविध प्रकार की गतिविधियों का विवरण प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि जनवरी 2017 में मैसूर में सम्पन्न हुई 17वीं राष्ट्रीय जम्बूरी में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए हरियाणा को 16 पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।
बैठक में संगठन के राज्य मुख्यालय के आयुक्त विवके अत्रे ने सबका स्वागत किया। इस अवसर पर संस्था की उपाध्यक्ष एवं अतिरिक्त मुख्य सचिव हरियाणा धीरा खण्डेलवाल, राज्य आयुक्त (बुलबुल) प्रधान सचिव सामाजिक न्याय विभाग श्रीमती नीरजा शेखर, सचिव कार्मिक, राज्यपाल के सचिव डॉ. अमित अग्रवाल, प्रशिक्षण एवं विजीलैंस विभाग के सचिव पंकज अग्रवाल, खेल विभाग के निदेशक जगदीप सिंह, हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के निदेशक जगबीर सिंह, सभी जिलों के जिला शिक्षा अधिकारियांे सहित बड़ी संख्या में स्काऊटस प्रतिभागियों ने भाग लिया।