चण्डीगढ़, 25 मई- हरियाणा के मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार श्री राजीव जैन ने कहा कि सूचना,जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग सरकार और जनता के बीच तालमेल स्थापित करने का अहम माध्यम है। बदलते जमाने में सोशल मीडिया प्रचार का एक बड़ा माध्यम बन चुका है,ऐसे में सूचना,जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग द्वारा प्रिंट व इलैक्ट्रिोनिक मीडिया के साथ-साथ सोशल मीडिया पर भी प्रचार के लिए विशेष फोकस रखना होगा ताकि आम जनता तक सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को पहुंचाया जा सके।  
मीडिया सलाहकार श्री जैन आज करनाल के कर्ण लेक पर सूचना,जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग की ओर से आयोजित राज्य स्तरीय मासिक बैठक में उपस्थित विभाग के उच्चाधिकारियों व जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारियों को सम्बोधित कर रहे थे। 
उन्होंने विभाग द्वारा आयोजित मासिक बैठक की सराहना की और कहा कि इस प्रकार की बैठकों के आयोजन से जहां, पिछले कार्यो की समीक्षा हो जाती है,वहीं भविष्य में किये जाने वाले प्रचार-प्रसार के भी एक्शन प्लान तैयार करने में मदद मिलती है। 
मीडिया सलाहाकार ने कहा कि दिन-प्रतिदिन मीडिया की कार्य प्रणाली में काफी बदलाव आ रहा है,सूचना,जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग के अधिकारियों को भी बदलते समय के अनुसार अपनी कार्य प्रणाली में बदलाव लाना पड़ेगा, तभी सरकार की योजनाओं एवं उपलब्धियों को बेहतरीन तरीके से जनता तक पहुंचाने में कामयाबी मिलेगी। उन्होंने सुझाव दिया कि सोशल मीडिया का बढिय़ा तरीके से प्रयोग करने के लिए समाज सेवी संगठनों के ग्रुपों से जुडऩे की जरूरत है। उन्होंने कहा कि विभाग के अधिकारियों को चाहिए कि जो भी नकारात्मक खबर छपती है,उनका खंडन संबंधित विभाग के अधिकारी से स्टीक जानकारी लेकर करें ताकि योजनाओं की पारदर्शिता बनी रही। इससे सरकार की कारगुजारी की सही जानकारी जनता के सामने जाएगी और मीडिया के प्रति लोगों में विश्वसनीयता पैदा होगी। 
उन्होंने कहा कि मीडिया सेंटर की स्थापना करके हरियाणा सरकार ने प्रदेश में ही नहीं बल्कि देश में एक अनोखा कार्य किया है। सभी जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी अपने-अपने  जिले में स्थापित मीडिया सेंटर का रख-रखाव बढिय़ा तरीके से रखे और मीडिया को आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करवाएं। उन्होंने कहा कि सरकार ने मीडिया कर्मियों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं शुरू की है। इनमें पत्रकार पेंशन योजना, मैडिकल पॉलिसी जैसी कईं महत्वपूर्ण योजनाएं शामिल है। ऐसे कार्यो की शुरूआत किसी सरकार ने नहीं की है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी योजनाबद्ध तरीके से प्रचार-प्रसार का कार्य करें। सरकार के विकास कार्य एवं बड़ी-बड़ी परियोजनाओं की सफल कहानियों का समय-समय पर प्रकाशन करवाते रहे। 
बैठक में सूचना,सम्पर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक समीर पाल सरो ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि केन्द्र सरकार का चार साल तथा प्रदेश सरकार का साढ़े तीन साल का कार्यकाल पूरा हो चुका है। इस अवधि में सरकार द्वारा देश व प्रदेश में बड़ी-बड़ी परियोजनाओं की सौगात दी है,जोकि अब लगभग पूरी हो चुकी है। अब उनके प्रचार-प्रसार की जरूरत है। उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये कि अब वो जमाना चला गया कि अधिकारी प्रचार-प्रसार के कार्य में लापरवाही बरत सकते थे,अब तो सोशल मीडिया का जमाना आ चुका है,छोटी सी बात भी बड़ी खबर बन जाती है। ऐसे में विभाग के अधिकारियों को बड़ी सजगता के साथ कार्य करना होगा। अधिकारी बढिय़ा काम करेंगे तो सरकार की बात ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचेगी,जिससे सरकार की छवि में और निखार आएगा,विभाग का सम्मान भी बढ़ेगा।  
उन्होंने प्रचार सामग्री पर कड़ा संज्ञान लेते हुए कहा कि विभाग द्वारा सरकार की उपलब्धियों को लेकर जो पोस्टर छपवाएं जाते है, उनको सार्वजनिक स्थानों पर चस्पा किया जाना चाहिए ताकि इन पर छपी सामग्री ज्यादा से ज्यादा लोग पढक़र सरकार की योजनाओं का लाभ उठा सके। उन्होंने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये कि सरकारी होर्डिंग्ज पर यदि प्राईवेट सामग्री लगी हुई दिखाई दी तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी, सभी अधिकारी होर्डिंग्ज के उपर लगी सामग्री का समय-समय पर निरीक्षण करें। उन्होंने कहा कि मीडिया सेंटर की स्थापना हरियाणा सरकार की एक बहुत बड़ी सौगात है,माना जाता है कि देश के किसी भी राज्य में मीडिया के लिए इतनी बड़ी सौगात किसी सरकार ने  नहीं दी है। मीडिया सेंटरों में विभाग द्वारा आधुनिक सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है ताकि मीडिया को किसी प्रकार की दिक्कत का सामना ना करना पड़े। उन्होंने स्पष्ट किया कि मुख्यालय से उच्चाधिकारियोंं को जिला स्तरीय मीडिया सेंटरों का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है,यह अधिकारी इन मीडिया सेंटरों का औचक निरीक्षण करेंगे और मीडिया सेंटर की सुविधाओं की जानकारी लेंगे। 
महानिदेशक ने कहा कि विभाग द्वारा अपनी वैब साईट बनाई गई है,सभी अधिकारी इस वैब साईट का प्रयोग करें और अपने-अपने जिले से संबंधी आवश्यक सामग्री जैसे सक्सेस स्टोरी अपलोड करें,ताकि अधिक से अधिक लोग सरकार की योजनाओं का लाभ उठा सके। उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ मुख्यालय स्तर पर न्यूज मोनिटरिंग रूम की स्थापना की गई है,ऐसी व्यवस्था जिला मुख्यालय पर भी होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा प्रदेश के 140 ब्लॉकों में सोशल मीडिया के बेहतरीन प्रयोग के लिए एक्शन प्लान तैयार किया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि मीडिया एक्रिडेशन तथा पत्रकार पेंशन योजना को ऑनलाईन किया जाएगा ताकि पत्रकारों को इन योजनाओं का लाभ उठाने में किसी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े। 
बैठक में संयुक्त निदेशक (क्षेत्र)डा० कुलदीप सैनी ने महानिदेशक सहित सभी अधिकारियों का स्वागत किया और बैठक के एक-एक एजेंडे पर चर्चा की तथा क्षेत्रीय अमले द्वारा किये जा रहे प्रचार-प्रसार के कार्य की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने मीडिया एडवाईजर राजीव जैन व महानिदेशक समीर पाल सरों को विश्वास दिलाया कि प्रचार-प्रसार के लिए आज की बैठक में जो मार्गदर्शन किया गया है,उन आदेशों की दृढ़ता से पालना की जाएगी और सभी अधिकारी अपने-अपने जिले में योजनाबद्ध तरीके से सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं एवं उपलब्धियों का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगें। 
इस बैठक में विभाग के महानिदेशक समीर पाल सरो, संयुक्त निदेशक(प्रशासक) सुधांशु गौतम,संयुक्त निदेशक (क्षेत्र) डॉ० कुलदीप सैनी, संयुक्त निदेशक(आर एंड आर) डॉ० वेदप्रकाश भी उपस्थित थे। इस मौके पर मंत्रियों के साथ जुड़े  सात मीडिया सलाहकार भी उपस्थित थे।