Shimla,18.06.18-भारत तथा नेपाल के कई राज्यों में कार्यरत निर्वासित तिबतियन सरकार के केन्द्रीय तिबतियन प्रशासन के Settlement अधिकरी आज दिनांक 18 जून,2018 को पूर्वाहन 11 बजें हिमाचल प्रदेश विधान सभा में स्थापित देश की सर्वप्रथम ई- विधान प्रणाली जानने विधान सभा सचिवालय पहुंचे । गौरतलब है कि ये सभी अधिकरी इन दिनों 10 दिवसीय  "कैपेस्टी बिलडिंग कार्यक्रम" के तहत हिप्पा मे प्रशिक्षण ले रहे है ।

              इन अधिकारियों ने विधान सभा सचिवालय मे सचिव विधान सभा श्री सुन्दर सिंह वर्मा तथा माननीय अध्यक्ष महोदय के निदेशक, सूचना प्रौद्योगिकी, श्री धर्मेश शर्मा के साथ बैठक की । विधान सभा सचिव श्री सुन्दर सिंह वर्मा ने इन्हें विधान सभा की कार्यप्रणाली तथा क्रिया -कलापों बारे भरपूर जानकारी दी तथा श्री धर्मेश शर्मा निदेशक सूचना एंव प्रौद्योगिकी हिमाचल प्रदेश विधान सभा ने इन्हें ई- विधान प्रणाली के बारे अवगत करवाया । बैठक के दौरान श्री धर्मेश शर्मा ने कहा कि ई- विधान एक पर्यावरण मित्र प्रणाली है जहां इसके लागू होने से प्रति वर्ष करोडों रूपयों की बचत होंगी वहीं इससे कार्य मे भी दक्षता आयेगी ।

               इन अधिकारियों ने ई- विधान प्रणाली  के  लिए माननीय अध्यक्ष महोदय डॉ0 राजीव बिन्दल को बधाई दी तथा सदन के रख रखाव की भरपूर प्रशंसा की ।