नई दिल्ली 25 जून,आमतौर पर आपने किसी भी राजनेता को अपने इलाके की किसी मांग या किसीका विरोध करने के लिए सड़क पर प्रदर्शन करते देखा होगा पर अब तंबाकू पर नियंत्रण के प्रति अपनीवचनबद्धता दिखाने के लिए सड़कों पर आमजनता को समझाने की विधायकेंा ने अूनठी पहल की है।विधायकों, संबध हेल्थ फाउंडेशन (एसएचएफ), मैक्स इंडिया फाउंडेशन और दिल्ली पुलिस ने पहलीबार सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम 2003(केाटपा) के तहत सेामवार को पश्चिमी जिलेतिलकरनगर, जनकपुरी, हरीनगर, विकासपुरी विधानसभा क्षेत्रेां में एक संयुक्त अभियान चलाया। जिसमेंविधायकेां ने केाटपा का उल्लंघन करने वालेां को तंबाकू के खतरों से अवगत कराया वहीं गुलाब काफुल देकर उनको ऐसे उत्पादों का सेवन न करने के लिए पे्ररित भी किया। इस तरह की आपविधायकेंा की पहल देशभर में पहली बार की गई है।

दिल्ली में पश्चिम जिले के आप विधायकों ने तंबाकू का सेवन करने वालों को इसके हानिकारकदुष्प्रभावों के बारे में बताया और उनसे इसके उपयोग को छोड़ने के लिए कहा, वहीं पुलिस नेसार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान कर रहें लोगों को समझाया और चालान की कार्यवाही की अभियान केदौरान उन्होंने केाटपा का उल्लंघन करने वालों को केाटपा बुकलेट के साथ गुलाब देकर इसके प्रावधानोंका पालन करने की नसीहत दी।

तिलक नगर विधानसभा क्षेत्र के विधायक जरनेल सिंह, समेत पश्चिम जिले के विधायकों मेंजनकपुरी विधानसभा क्षेत्र के राजेश ऋषि, विकासपुरी निर्वाचन क्षेत्र के महेंद्र यादव और हरिनगरविधानसभा क्षेत्र के जगदीप सिंह ने अभियान में हिस्सा लिया।

इनके साथ द्वारका विधासभा के आदर्शऋषि, महरौली के नरेश यादव, राजेंद्रनगर के विजेंद्र गर्ग का भी सराहनीय सहयेाग रहा। इन्होने तंबाकूके खिलाफ इस अभियान को जारी रखने की वचनबद्वता की।

दिल्ली के पश्चिम जिले में पुलिस द्वारा केाटपा लागू करने का अभियान पुलिस उपायुक्त विजय कुमार केनिर्देशों पर चलाया गया और स्कूल परिसर के 100 गज के भीतर एवं सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपानकरने वाले और तंबाकू बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई।

केाटपा के प्रावधानों के तहत सार्वजनिक स्थानों पर प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष विज्ञापन और तम्बाकूउत्पादों को बढ़ावा देने , नाबालिगों द्वारा या उन्हें तंबाकू उत्पादों की बिक्री या स्कूलों के 100 गज कीदूरी में इनकी बिक्री पर रोक लगाता है।

डीसीपी विजय कुमार के मुताबिक, पिछले छह महीनों में पश्चिमजिले में 2500 से ज्यादा लोगों को केाटपा के तहत जुर्माना किया गया।

वंही दिल्ली में पिछले एक वर्ष मेंकरीब 40 हजार चालान कोटपा में हुए है।

इस दौरान तिलक नगर विधानसभा क्षेत्र के विधायक जरनैल सिंह ने कहा, कि वर्तमान समय में तंबाकूव अन्य धूम्रपान उत्पादेां का बढ़ता सेवन हम सभी के लिए चिंता का विषय है। दिल्ली में प्रतिदिन 81 सेअधिक बच्चे इस तरह के जहरीले उत्पादों का सेवन शुरु करते है। इसके साथ ही 10 हजार से अधिकलोग प्रतिवर्ष मात्र इन्ही के सेवन से होने वाली बीमारियेां से दम तोड़ देते है। इसके लिए जरुरी है कि हमहमारे शिक्षण संस्थान व सार्वजनिक स्थलों को तंबाकू मुक्त बनाये और लोगों को एक स्वस्थ वातावरणप्रदान करें। हमें इसके लिए शैक्षणिक संस्थानों के 100 गज के भीतर धूम्रपान विक्रय न करने की पहलकरनी होगी। वंही सार्वजनिक स्थलों पर भी इस तरह के किसी उत्पाद का सेवन न करने की भी अपीलकी।

इसी तरह, जनकपुरी निर्वाचन क्षेत्र के राजेश ऋषि ने कहा, धूम्रपान करने वालों ने न केवल खुदको नुकसान पहुंचाते है बल्कि निष्क्रिय धूम्रपान के माध्यम से अपने आसपास के लोगों को भी प्रभावितकरते हैं। व्यक्तिगत

...विकल्पों को दूसरों के स्वास्थ्य की कीमत पर उचित नहीं ठहराया जा सकता है।यही कारण है कि हम धूम्रपान करने वालों को छोड़ने या कम से कम सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान नकरके कानून का पालन करने की अपील