हिसार : 29 जून, 2018 -डा. दलबीर भारती, आईपीएस सेवानिवृत ने कहा कि संत कबीर दास जी महान समाज सुधारक रहे हैं। उन्होंने अपने जीवन काल में समाज में फैले अंधविश्वास, कुप्रथाओं व कुरीतियों को खत्म करने के लिए समाज को जागरूक किया।
डा. दलबीर भारती संत शिरोमणी श्री गुरू रविदास महासभा, हिसार आयोजित संत कबीर दास जी के 620वें जन्मोत्सव पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर औमप्रकाश किलौरिया, सेवानिवृत निदेशक एयर फोर्य एथोरटी ऑफ इंडिया विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता महासभा के प्रधान जयपाल रंगा ने की। डा. दलबीर भारती ने कहा कि हमें संत कबीर दास जी के पदचिन्हों पर चलना चाहिए। औमप्रकाश किलौरिया, सेवानिवृत निदेशक एयर फोर्य एथोरटी ऑफ इंडिया ने कहा कि संत कबीर दास जी द्वारा समाज को सुधारने के लिए अपनी वाणी एवं लेखन का सहारा लिया। अपनी वाणी व लेखन से संत कबीर दास जी ने समाज में शांति बनाए रखने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि उनके संदेश आगे की सदियों के लिए प्रासंगिक हैं। महासभा के प्रधान जयपाल रंगा ने स्वागत सम्बोधन किया। उन्होंने कहा कि आज से 600 वर्ष पूर्व देश में जातिवाद और साम्प्रदायिक भेदभाव पूर्ण रूप से फैला हुआ था, जिसको दूर करने के लिए संत कबीर दास जी द्वारा अपनी अह्म भूमिका निभाई गई। उदयभान चौपड़ा ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। इस अवसर पर प्रधान जयपाल रंगा, बिजेन्द्र सभरवाल, सज्जन ढोकवाल, इंद्राज भारती, आजाद सिंह, सुरेश सरोहा, सुशील, महीपाल, प्रदीप सभरवाल, राजसिंह, रोहताश मैहरा, कमल चौहान व रामसिंह सिंगल आदि गण्मान्य व्यक्ति व विद्यार्थी उपस्थित थे।