धर्मशाला 8 जुलाई: शाहपुर विधानसभा क्षेत्र का सर्वांगीण ही मेरी प्राथमिकता है और क्षेत्र में स्वास्थ्य, सड़क, पेयजल, सिंचाई, शिक्षा, बिजली इत्यादि सभी प्रकार की मूलभूत सुविधाओं को बेहतर करने के प्रयास किये जा रहे हैं। यह विचार शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री श्रीमती सरवीण चौधरी ने आज शाहपुर स्थित अपने आवास पर लोगों की समस्याओं को सुनने के उपरांत व्यक्त किये ।
उन्होंने कहा कि प्रदेश की 3,150 बस्तियों की जलापूर्ति परियोजनाओं के सुधार और विस्तार के लिए लिए ब्रिक्स के तहत करोड़ों रुपये उपलब्ध करवाये जा रहे हैं तथा चालू वित्त वर्ष में प्रदेश में बेहतर पेयजल एवं सिंचाई सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए बजट में 2,572 करोड़ का बजट प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में प्रदेश निरंतर विकास के पथ पर अग्रसर है। वर्तमान सरकार ने आम लोगों के लिए दर्जनों कल्याणकारी योजनाएं आरंभ कर समाज के प्रत्येक वर्ग को सम्मान दिया गया है।
उन्होंने बताया कि शाहपुर विस् के अंतर्गत बनाए जाने वाली विभिन्न सिंचाई कुहलों के निर्माण कार्य शीघ्र शुरू किया जायेंगे और इस पर लगभग 4 से 5 करोड़ रुपये व्यय होंगे । उन्होंने बताया कि इन कुहलों में भोगल, दरिणी धमूल, बड़ी कूहल, रनियुल, राजकुहल इत्यादि कूहलें शामिल हैं। उन्होंने कहा विभिन्न विभागों के अधिकारियों को विधायक प्राथमिकता वाली योजनाओं में शीघ्र औपचारिकताएं पूरी कर स्वीकृति करवा कर कार्य शुरू करने के आदेश दिए गए हैं ताकि समय पर पात्र लोगों उनका लाभ मिल सकें। उन्होंने बताया कि सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग को ब्रिक्स के अंतर्गत द्वितीय चरण की डीपीआर बनाने के लिए कहा है इसमें रैत, रजोल व चड़ी सेक्शन कवर होंगे जबकि शाहपुर व मनेई सेक्शन पहले चरण में कवर किये जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि शाहपुर विधानसभा में पेयजल की उपलब्धता अनुसार हैंडपम्प लगा दिये गये हैं ।
इस अवसर पर चड़ी के पूर्व प्रधान सुनीत कुमार व उनके साथ आये पंचायत के लोगों ने शहरी विकास मंत्री का वार्ड नम्बर 8 में हैंडपंप लगवाने पर धन्यवाद किया । वहीं पर हरनेरा पंचायत के नीलकमल ने अपनी पंचायत की हरिजन बस्ती में रास्ते की समस्या को तथा अंबाड़ी महिला मंडल की प्रधान निर्मला देवी ने सड़क बनाने का निवेदन शहरी विकास मंत्री के समक्ष रखा।
इसके अतिरिक्त शाहपुर विधानसभा के विभिन्न क्षेत्रों से आये लोगों ने अपनी समस्याओं को बताया । शहरी विकास मंत्री ने अधिकांश समस्याओं का मौके पर ही निपटारा कर दिया और शेष को त्वरित करवाई के लिये संबंधित विभागों को भेज दिया।
000