चंडीगढ़ 15 जुलाई-सेक्टर 16 स्थित मास्टर बिक्रम थापा मार्शल आर्ट् एकेडमी में मेडल सेरेमनी का आयोजन किया गया। जिसमें 17वीं पंचकूला डिस्ट्रिक च्वाई क्वांग डू चैंपियनशिप में हिस्सा लेने वालों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर युवा एवं खेल विभाग के प्रोग्राम ऑफिसर कर्मचंद सिंह मुख्यातिथि रहे। मास्टर बिक्रम थापा ने चीफ गेस्ट का स्वागत किया और उन्हें विजेताओं से मिलवाया। चीफ गेस्ट ने ओवरऑल गल्र्स का पहला पुरस्कार सेक्टर 16 को, दूसरा पुरस्कार सेक्टर 20 और तीसरा पुरस्कार भवन विद्यालय सेक्टर 15 पंचकूला के नाम रहा। इसी तरह ओवरऑल लडक़ों का पहला पुरस्कार सेक्टर 20, दूसरा पुरस्कार सेक्टर 16 पंचकूला एवं तीसरा पुरस्कार फस्र्ट स्टैप स्कूल के नाम रहा। मास्टर बिक्रम थापा ने बताया कि मार्शल आटर्् प्रतियोगिताओं का आयोजन लोगों को सेल्फ डिफेंस के प्रति जागरुक करना है। मार्शल आटर्् यदि हम रोजाना करते हैं, तो हम स्वस्थ रहते हैं और सेल्फ प्रोटेक्ट कर सकते हैं। मौजूदा समय में सेल्फ डिफेंस बहुत जरुरी है, चाहे बच्चे हों, बड़े हों या महिलाएं। बिक्रम थापा ने कहा कि मार्शल आटर्् से पता चला है कि अपने हाथ और पैर हम हथियार की तरह प्रयोग करके खुद को बचा सकते हैं। कर्मचंद ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा खेलों को बढ़ावा देने के लिए काफी काम किया जा रहा है। खिलाडिय़ों के लिए पुरस्कारों की झड़ी लगा रखी है। नैशनल एवं इंटरनेशनल स्तर पर विजेताओं को नगद पुरस्कार भी दिये जा रहे हैं। आज हरियाणा के खिलाड़ी पूरे विश्व में छाये हुये हैं।