हमीरपुर 20 जुलाई। जिला परिषद की त्रैमासिक बैठक आज जिला परिषद अध्यक्ष राकेश ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित की गई। उन्होनंे उपस्थित सभी विभागों के अधिकारियों को जिला परिषद सदस्यों द्वारा उठाये गई विभिन्न मदों का समयबद्ध निष्पादन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। राकेश ठाकुर ने कहा कि अधिकारी बैठक मेें अपने अधिनस्थ को न भेजकर स्वंय उपस्थित हों। उन्होंने बताया कि चैदहवें वित्त आयोग के अनुसार जिला के सभी खण्डों को 52 करोड़ 30 लाख रू0 की राशि जारी कर दी गई है। जिसमें से जून 2018 तक 20 करोड़ 90 लाख से अधिक की राशि व्यय कर 3,561 कार्यों को पूर्ण कर लिया गया है। उन्होंने सभी विभागों से 1459 चल रहे कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए तथा जो कार्य अभी तक आंरभ नहीं किए गए हैं उन्हें जल्दी से आरंभ करने के भी निर्देश दिए । बैठक में मई 2018 में हुई बैठक की कारवाई की पुष्टी भी की गई। बैठक में जून 2018 तक हुए आय व्यय का अनुमोदन भी किया गया ।
बैठक में उपायुक्त हमीरपुर ऋचा वर्मा ने उन्होनंे सभी अधिकारियों तथा जिला परिषद सदस्यों से मिल कर एक टीम की तरह काम करने का आग्रह किया। मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद एवं एसडीएम हमीरपुर शिल्पी बेक्टा ने भी बैठक में भाग लिया। जिला परिषद की बैठक में पधारने पर अध्यक्ष जिला परिषद ने उपायुक्त हमीरपुर का शाॅल और टोपी भेंट कर सम्मानित किया।
बैठक में चन्दु लाल चैधरी उपाध्यक्ष जिला परिषद, पवन कुमार , अनीता ठाकुर, राजेश कुमार जिला परिषद सदस्य द्वारा लोक निर्माण बड़सर के अंतर्गत विभिन्न सड़कों की मुरम्मत व पुली के निर्माण के बारे में विभिन्न मदों पर चर्चा की गई। राकेश ठाकुर अध्यक्ष जिला परिषद हमीरपुर, लेख राज शर्मा सदस्य द्वारा वन विभाग की भूमि पर अवैध कब्जे तथा भारी तूफान के कारण जंगलों में सैंकड़ों की संख्या में चील के पेड़ गिरने के बारे में भी चर्चा की । इस अवसर पर जिला परिषद सदस्यों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक की कारवाई का संचालन सचिव जिला परिषद अधिकारी रमेश कपूर ने किया।