सोलन-दिनांक 25.09.2018
संजय कुंडू ने बद्दी में किया विभिन्न निर्माण कार्यों का निरीक्षण
मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव एवं गुणवत्ता नियंत्रण प्रकोष्ठ के मुखिया संजय कुंडू ने आज सोलन जिले के नालागढ़ उपमंडल के बद्दी में विभिन्न निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया तथा अधिकारियों को निर्माण कार्यों में गुणवत्ता बनाए रखने एवं निर्माण के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किए।
उन्होंने बरोटीवाला में प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड के विद्युत उपकेंद्र, राजकीय महाविद्यालय बरोटीवाला के भवन के निर्माणाधीन कार्य, बद्दी-बरोटीवाला मार्ग पर बालद खड्ड पर बने पुल तथा बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ विकास प्राधिकरण द्वारा बद्दी में निर्मित किए जा रहे इंडोर स्टेडियम का निरीक्षण किया।
संजय कुंडू ने अपनी टीम के साथ विभिन्न निर्माण कार्यों का जायज़ा लिया। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि विभिन्न निर्माण कार्य जनहित के लिए हैं तथा इनके निर्माण में गुणवत्ता एवं पारदर्शिता का ध्यान रखा जाना चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि निर्माण कार्यों में मानकों का पूरा ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों में गुणवत्ता से समझौता करने वाले अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि विभिन्न निर्माण कार्य एक निर्धारित योजना के साथ भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए पूरे किए जाने चाहिएं।
इस अवसर पर बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केसी चमन, पुलिस अधीक्षक बद्दी बिंदू रानी सचदेवा, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजीव कुमार, सिंचाई सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग में डब्ल्यू.एस.एस.ओ के अधीक्षण अभियंता बीएस राणा, लोक निर्माण विभाग मुख्यालय में अधीक्षण अभियंता गुणवत्ता दीपक शर्मा, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग सोलन के अधीक्षण अभियंता संजीव कौल, लोक निर्माण विभाग सोलन के अधीक्षण अभियंता कैप्टन एसपी जगोता, प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड सोलन के अधीक्षण अभियंता एसके सेन, प्रदेश विद्युत बोर्ड में सहायक अभियंता एलके शर्मा, लोक निर्माण विभाग में गुणवत्ता नियंत्रण के सहायक अभियंता देवेश ठाकुर, अधिशाषी अभियंता बीबीएनडीए बिशन दास, अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग संजीव अग्निहोत्री, अधिशाषी अभियंता सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विजय ढडवालिया, अधिशाषी अभियंता विद्युत बोर्ड लिमिटिड बद्दी केके बस्सी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
=====================================================================================
सोलन -दिनांक 25.09.2018
प्रदेश सरकार निर्माण कार्यों में गुणवत्ता बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध-संजय कुंडू
मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव एवं गुणवत्ता नियंत्रण प्रकोष्ठ के मुखिया संजय कुंडू ने कहा कि प्रदेश सरकार विभिन्न परियोजनाओं एवं अधोसंरचनात्मक कार्यों में शत-प्रतिशत गुणवत्ता बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है। संजय कुंडू गत सांय यहां विभिन्न आधारभूत परियोजनाओं का निरीक्षण करने के उपरांत पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे।
संजय कुंडू ने कहा कि हिमाचल जैसे पहाड़ी प्रदेश में लोक निर्माण, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग तथा प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड सहित अधोसंरचना निर्माण करने वाले विभागों एवं परियोजनाओं में गुणवत्ता विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए प्रदेश सरकार द्वारा गुणवत्ता नियंत्रण प्रकोष्ठ गठित किया गया है। प्रकोष्ठ प्रदेश के जिलों में अधोसंरचनाओं एवं निर्माण कार्यों का जायज़ा ले रहा है। प्रकोष्ठ द्वारा बिलासपुर, मंडी, कांगड़ा तथा हमीरपुर जिलों में निरीक्षण के उपरांत मुख्यमंत्री को विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की गई है। वर्तमान में प्रकोष्ठ सोलन जिला में निरीक्षण कर रहा है।
अतिरिक्त प्रधान सचिव ने कहा कि गुणवत्ता नियंत्रण प्रकोष्ठ विभिन्न जिलों में निरीक्षण कार्यों के साथ-साथ विभिन्न विभागों के अभियंताओं तथा अधिकारियों को गुणवत्ता के विषय में जागरूक कर रहा है। इसका उद्देश्य सभी स्तरों पर गुणवत्ता की संस्कृति का विकास करना है। उन्होंने कहा कि गुणवत्ता नियंत्रण की दिशा में 6 माह के भीतर सकारात्मक परिणाम मिलने आरंभ हो जाएंगे।
संजय कुंडू ने कहा कि प्रकोष्ठ प्रथम चरण में सभी को गुणवत्ता बनाए रखने की दिशा में जागरूक बना रहा है। गुणवत्ता बनाए रखना एक समग्र प्रक्रिया है और निर्माण कार्यों में संलग्न विभिन्न विभागों तथा व्यक्तियों के सहयोग से ही यह संभव है।
उन्होंने सभी से आग्रह किया कि गुणवत्ता नियंत्रण के संबंध में प्रदेश सरकार को सूचित करते रहें। इस कार्य के लिए मुख्यमंत्री, हिमाचल प्रदेश द्वारा फेसबुक एवं टिवट्र पर अकाउंट बनाया गया है। श्ुनंसपजल बवदजतवस बमसस ीपउंबींसश् पर फेसबुक अथवा टिवट्र के माध्यम से गुणवत्ता से संबंधित सुझाव एवं शिकायत भेजी जा सकती है।
संजय कुंडू ने कहा कि उन्होंने अपनी टीम के साथ सोलन के गौड़ा स्थित 14.72 एमएलडी की जलापूर्ति योजना, गौड़ा स्थित 132/33 केवी विद्युत उपकेन्द्र, शामती स्थित मल निकासी उपचार संयंत्र, कंडाघाट स्थित राजकीय डिग्री महाविद्यालय भवन, सोलन स्थित निर्माणाधीन परिधि गृह तथा सपरून स्थित 33/11 केवीए विद्युत उपकेन्द्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण के उपरांत संबंधित अधिकारियों को सुधार के लिए सुझाव तथा उचित दिशा-निर्देश जारी किए गए।
उन्होंने कहा कि सोलन शहर के लिए गौड़ा से 14.72 एमएलडी की जलापूर्ति योजना की क्षमता को बढ़ाकर 21 एमएलडी करने के संबंध में प्रदेश सरकार से सिफारिश की जाएगी। उन्होंने कहा कि सोलन शहर में विद्युत की अतिरिक्त मांग के दृष्टिगत गौड़ा स्थित विद्युत उपकेन्द्र की क्षमता बढ़ाई जा रही है। स्तरोन्नयन उपरांत यहां 20 एमवीए अतिरिक्त विद्युत उपलब्ध होगी। कंडाघाट स्थित राजकीय महाविद्यालय का कार्य शीघ्र पूरा हो जाएगा। लोक निर्माण विभाग को परामर्श दिया गया कि यहां फलोरिंग के लिए कोटा पत्थर का प्रयोग न किया जाए। महाविद्यालय में दिव्यांग छात्रों के लिए लिफ्ट का प्रावधान करने का परामर्श भी दिया गया। इस महाविद्यालय के निर्माण पर 7.7 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। परिधि गृह सोलन के निर्माण पर 5.4 करोड़ रुपये व्यय हो रहे हैं।
संजय कंुडू ने कहा कि प्रकोष्ठ ने प्रदेश सरकार को सुझाव दिया है कि विभिन्न जलापूर्ति परियोजनाओं में जल परीक्षण प्रयोगशालाएं स्थापित की जानी चाहिएं। प्रदेश सरकार से आग्रह किया जाएगा कि जलापूर्ति योजना के सुचारू कार्यान्वयन के लिए विद्युत उपकेंद्र एवं योजना एक साथ निर्मित की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि गिरी जलापूर्ति परियोजना में गाद की समस्या से निपटने के लिए उच्च तकनीक आधारित प्रौद्योगिकी प्रयोग करने का प्रस्ताव प्रदेश सरकार को प्रेषित किया गया है।
उन्होंने कहा कि सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा गौड़ा स्थित जलापूर्ति योजना के भंडारण टैंकों की सफाई वर्षा समाप्त होने के उपरान्त की जाएगी। उन्हांेने सोलन शहर में विभिन्न सड़कों की मुरम्मत के संबंध में लोक निर्माण विभाग को उचित दिशा-निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा कि विभिन्न निर्माण कार्यों को समय पर पूरा करने के लिए विभागों एवं अधिकारियों को उचित दिशा-निर्देश दिए गए हैं।
इस अवसर पर सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग में डब्ल्यू.एस.एस.ओ के अधीक्षण अभियंता बीएस राणा, लोक निर्माण विभाग मुख्यालय में अधीक्षण अभियंता गुणवत्ता दीपक शर्मा, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग सोलन के अधीक्षण अभियंता संजीव कौल, लोक निर्माण विभाग सोलन के अधीक्षण अभियंता कैप्टन एसपी जगोता, प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड सोलन के अधीक्षण अभियंता एसके सेन, प्रदेश विद्युत बोर्ड में सहायक अभियंता एलके शर्मा, लोक निर्माण विभाग में गुणवत्ता नियंत्रण के सहायक अभियंता देवेश ठाकुर तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।.0.
.0.