चण्डीगढ़, 16 अक्तुबर - भारत के प्रथम उप प्रधानमंत्री व प्रथम ग्रहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल का गुजरात मंे ‘‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी‘‘ स्मारक बनने से पुरे देश में देश प्रेम और राष्ट्रीय अखंडता का संदेश जाऐगा। इस स्मारक के बनने से देश और मजबूत होगा। यह बात हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने आज राजभवन में गुजरात के कैबिनेट मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह चुड़ासमा के नेतृत्व में आये 09 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल से बातचीत करते हुए कही। गुजरात के इस प्रतिनिधिमंडल ने 182 मीटर ऊंचाई वाले ‘‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी‘‘ के सम्बन्ध में जानकारी देने व राज्यपाल श्री आर्य व अन्य गणमान्य व्यक्तियों को गुजरात भ्रमण का निमंत्रण देने के लिए हरियाणा का दौरा किया। इस प्रतिनिधिमंडल में गुजरात से एक सांसद और विधायक शामिल थे।
राज्यपाल श्री आर्य ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व से जहां देश में प्रगति का एक नया दौर शुरू हुआ है वहीं देश के महान विभुतियों की शिक्षा एवं संदेश से भी जन-जन को अवगत करवाया है ताकि देश की युवा पीढ़ी उनके विचारो से ओत-प्रोत हो और देश के निर्माण में अपनी भूमिका अदा कर सकें। उन्होने कहा कि युवाओं को देश के उन विभुतियों के जीवन संघर्ष की जानकारी मिले, जिससे राष्ट्रीय-एकता और अख्ंाडता को बल मिलेगा। यह देश व प्रदेश वासियों के लिए अत्यंत हर्ष का समय है कि गुजरात में अख्ंाडता के प्रतीक सरदार वल्लभ भाई पटेल की ‘‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी‘‘ स्मारक तथा हरियाणा में ‘‘दीन बन्धु सर छोटूराम‘‘ की प्रतिमा व संग्रालय स्थापित किया है।
राज्यपाल श्री आर्य ने कहा कि अखंड भारत के शिल्पी एवं लौहपुरूष के नाम से जाने जाने वाले सरदार वल्लभ भाई पटेल ने लगभग 546 देशी रजवाड़ो का एकत्रीकरण करके देश की अखंडता को बनाए रखने में अपना अमूल्य योगदान दिया है। इस महान सपूत एवं राष्ट्रीय नेता के प्रति आदर भाव प्रदर्शित करने के लिए तथा आने वाली पीढीयों को सरदार वल्लभ भाई पटेल के जीवन और कार्यो से प्रेरणा मिलती रहे, इसी उदेशय से स्मारक बनाया गया है। इसी माह हरियाणा में देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने हरियाणा के सांपला में दीन बन्धु सर छोटूराम की 64 फीट ऊंची प्रतिमा का अनावरण कर देश की जनता को एक संदेश दिया है कि देश की अखंडता और एकता में जिन लोगो का महत्वपूर्ण योगदान है उन्हे देश सदैव याद रखेगा।
गुजरात के कैबिनेट मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह चुड़ासमा ने बताया कि आगामी 31 अक्तुबर को सरदार वल्लभ भाई पटेल के जन्मदिन एवं राष्ट्रीय एकता दिवस पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी अपने करकमलों से ‘‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी‘‘ का अनावरण करेेगंे। उन्होने हरियाणा के राज्यपाल श्री आर्य को गुजरात आने का निमंत्रण भी दिया। उन्होने कहा कि जब भी समय मिले गुजरात आएं, गुजरात उनका स्वागत करेगा। उन्होने बताया कि गुजरात सरकार द्वारा स्मारक देखने आने वालो के लिए पूरी व्यवस्था एवं सारे प्रबन्ध चाक-चैकन्द जारी किये गए है। स्मारक देखने के लिए प्रतिदिन 15 हजार लोग गुजरात आएंगे।
इस मौके पर हरियाणा के कृषि मंत्री श्री ओमप्रकाश धनखड़ ने भी ‘‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी‘‘ के लिए एकत्रित किये गए लौहे के संबन्ध में की गई देश भर की यात्रा के अनुभव सांझा किये। उन्होने कहा कि जिन लोगो ने लौहा दान किया है। उन में लोगो में सरदार वल्लभ भाई पटेल के प्रति अद्भूत सम्मान था। इसी प्रकार से दीन बन्धु छोटूराम के प्रति भी लोगो में विशेष आदर था।
गुजरात के प्रतिनिधिमंडल ने ‘‘स्टैच्यू आॅफ यूनिटी‘‘ से सम्बन्धित जानकारी की सी.डी और बुक भी राज्यपाल श्री आर्य को सौंपी। राज्यपाल श्री आर्य ने भी प्रतिनिधिमंडल के प्रत्येक सदस्य को ‘‘कुरूक्षेत्र‘‘ नाम की पुस्तिका भेंट की। इस प्रतिनिधिमंडल में गुजरात से राज्यसभा के मैंबर श्री लाल सिंह वडौडिया श्री विधायक बाबु भाई पटेल श्रीमति मनीषा बैन, विधायक श्री रत्न सिंह राठौर, गुजरात सरकार की प्रधान सचिव सुनैना तोमर, ऐ.डी.जी अजय तोमर शामिल थे।