चंडीगढ़,21.10.18- पूर्वांचल तभी आगे बढ़ेगा जब पूर्वांचल वासियों में एकजुटता होगी, इसी संदेश के साथ पूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन (रजिस्टर्ड) लगातार काम कर रहा है। इसी कड़ी में रविवार को पिंजौर स्थित रौनक होटल में पूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन (चंडीगढ़) और पूर्वांचल जन एकता मंच (पिंजौर-कालका) के पदाधिकारियों के बीच एक बैठक बुलाई गई। बैठक में पूर्वांचल वासियों को एकजुट करने के विचार पर जोर दिया गया। साथ ही कई तरह के महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए गए, जिससे कि पूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन का विस्तार हो सके और ज्यादा से ज्यादा पूर्वांचल वासियों के हित में कार्य हो सके।
बैठक में यह निर्णय लिया गया कि पूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन पिंजौर की संस्था के साथ मिलकर काम करेगी और पिंजौर में एक ब्रांच ऑफिस के रूप में अपनी संस्था का विस्तार करेगी। विस्तार से पुर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन की शक्ति बढ़ेगी और साथ ही लोगों के बीच प्रचार-प्रसार हो सकेगा। इसके साथ ही पूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन ने भी निर्णय लिया कि वह पूर्वांचल जन एकता मंच के 3 सदस्यों को चंडीगढ़ के संस्था में कोर कमेटी में शामिल किया जाएगा ताकि पिंजौर-कालका में रहने वाले पूर्वांचल के भाइयों की समस्याओं को समझने में आसानी हो और जल्द से जल्द उनका समाधान किया जा सके।
बैठक में चंडीगढ़ और पंचकूला में पूर्वांचल वासियों को आ रही समस्याओं को लेकर विचार-विमर्श किया गया। इसके साथ ही उन समस्याओं का कैसे हल करना है इस बात पर भी मंथन किया गया। बैठक में पूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन के चेयरमैन राजेंद्र सिंह, अध्यक्ष डीके सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष यूके सिंह, उपाध्यक्ष राजीव गोविंद राव, संयुक्त सचिव सुनील कुमार गुप्ता, प्रेस सचिव राजीव कुमार पांडे और तमाम पदाधिकारियों के अलावा चंडीगढ़ भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष और पूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन के सलाहकार हरिशंकर मिश्रा, भाजपा के पूर्वांचल प्रकोष्ठ अध्यक्ष गोपाल शुक्ला और मुकेश राय भी मौजूद रहे। वहीं पूर्वांचल जन एकता मंच पिंजौर-कालका के मुख्य संरक्षक जीपी सिंह, जनरल सेक्रेट्री सुधीर चौधरी, सीनियर वाइस प्रेसिडेंट राकेश सिंह, एडवाइजर अखिलेश कुमार गुप्ता व अन्य मौजूद रहे।