कुल्लू,19.03.19- पर्यावरण सहित अन्य विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय एवं उत्कृष्ट
कार्य करने वाली होनहार नन्हीं प्रतिभाओं को नॉर्थ इंडिया पत्रकार आवार्ड से
सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में शशांक मॉडल स्कूल गोजरा मनाली में आयोजित
किया गया। कार्यक्रम में 10 छात्रों को यह सम्मान दिया गया। जिन्होंने
पर्यावरण के लिए बचपन में ही कार्य करना शुरू कर दिए हैं। कार्यक्रम में
यूनाइटिड किंगडम यूके के मशहूर पर्यावरण विशेषज्ञ जुआन मुख्य अतिथि रहे।
नॉर्थ इंडिया पत्रकार एसोसिएशन के ब्रैंड एबैंसडर एवं अंतरराष्ट्रीय
पर्यावरणविद् किशन लाल ने बताया कि इससे सियाल में 20 बच्चों को सम्मानित
किया जा चुका है और मनाली से लेकर कुल्लू तक पर्यावरण जागरूकता अभियान चलाया
गया है। जिसके तहत सड़क के किनारे बसे हर गांव में पंपलेट बांटे गए और इसके
बाद आगामी दिनों में एक मेडिकल कैंप भी लगाया जाएगा। नॉर्थ इंडिया पत्रकार
एसोसिएशन के राज्य अध्यक्ष धनेश गौतम ने कहा कि स्कूलों में कार्यक्रम का
उद्देश्य यह है कि हिमालय क्षेत्र का जो भविष्य आज स्कूलों में पढ़ाई कर रहा है
उसे आज से ही हिमालय बचाने के बारे जागरूक किया जा सके। ताकि उन्हें भविष्य
में याद रहे कि उन्हें हिमालय बचाने के लिए सम्मानित किया गया है। गौर रहे कि
एसोसिएशन ने जिला के स्कूलों में पर्यावरण जागरूकता अभियान शुरू किया है। यह
आवार्ड नॉर्थ इंडिया पत्रकार एसोसिएशन के ब्रैंड एबैंसडर एवं अंतरराष्ट्रीय
पर्यावरणविद् किशन लाल द्वारा प्रदान किए जा रहे हैं।
इस अवसर पर वे पर्यावरण, बेटी बचाओ, सफाई अभियान के बारे जागरूक किया जा रहा
है और प्लासटिक का इस्तेमाल किस तरह किया जाना चाहिए के बारे में भी बताया जा
रहा है। एसोसिएशन ने हिमालय को ऑक्सीजन देने के मिशन के तहत अब जिला कुल्लू
के विभिन्न स्कूलों में पर्यावरण की अलख जगाने का अभियान शुरू किया है। जिसके
तहत जिला के विभिन्न स्कूलों में एसोसिएशन द्वारा पर्यावरण, बेटी बचाओ व सफाई
अभियान चलाकर छात्रों को जागरूक किया जा रहा है ताकि आने वाला भविष्य हिमालय
को सुरक्षित रख सके। नॉर्थ इंडिया पत्रकार एसोसिएशन के राज्य प्रधान धनेश
गौतम ने बताया कि इस कार्यक्रम के तहत ब्रेंड एंबेसडर किशन लाल सहित एसोसिएशन
के कई पदाधिकारी विभिन्न स्कूलों में जाकर यह जागरूकता अभियान चला रहे हैं।
उन्होंने बताया कि विभिन्न स्कूलों में गतिविधियों को प्रसारित कर बताएंगे कि
किस तरह एसोसिएशन ने हिमालय को बचाने की मुहिम छेड़ी है और इसके तहत विश्व के
किन-किन दर्रों को फतह किया गया है। यही नहीं इन छात्र-छात्राओं में पर्यावरण,
समाज सेवा व विभिन्न गतिविधियों के गुर कूट-कूट कर भरेंगे ताकि आने वाला
भविष्य हिमालय की रक्षा कर सके और यह अभियान निरंतर आगे बढ़ता रहे। यही नहीं
इन स्कूलों में पर्यावरण व अन्य समाजिक क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले
छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया जा रहा है। इस अवसर पर मुख्यातिथि ने कहा
कि
एसोसिएशन द्वारा चलाया गया यह अभियान काबिलेतारिफ है और मुझे जो सम्मान दिया
गया है उससे सभी पर्यावरण प्रेमी गौरवान्वित हैं। उन्होंने कहा कि यह अभियान
निरंतर चलता रहेगा ऐसी हम उम्मीद करते हैं।