धर्मशाला, 20 जुलाई: उद्योग मंत्री विक्रम सिंह ठाकुर ने कहा कि जिन बीपीएल मुक्त पंचायतों से मिल रही शिकायतों पर उचित कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी ताकि पात्र गरीब परिवार मिलने वाले लाभों से वंचित न रहे।
ठाकुर आज शनिवार को खंड विकास कार्यालय परागपुर में आयोजित विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए बाले रहे थे।उन्होंने कहा कि विकास कार्यों को समयबद्व पूरा करना जरूरी है इसके साथ ही विकास कार्यों में गुणवत्ता का भी ध्यान रखा जाए।
उद्योग मंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत अलग-अलग प्रकार के करीबन 260 प्रकार के कार्य किए जाने का प्रावधान है। उन्होंने ग्राम पंचायतों में वर्षा जल संग्रहण टैंकों तथा रास्तों के निर्माण के अलावा अन्य विकास कार्यों को गति देने को कहा। उन्होंने कहा कि मनरेगा के तहत विभिन्न प्रकार की नई गतिविधियों पर भी कार्य किए जाने को प्राथमिकता देनी होगी।
बिक्रम ठाकुर ने तकनीकी सहायकों को समय पर प्राक्कलन और विकास कार्यों का मूल्यांकन करने के निर्देश दिये। उन्होंने ब्लॉक के स्टाफ को मुस्तैदी के साथ कार्य करने को कहा ताकि लोग प्रदेश सरकार द्वारा चलाई गई विभिन्न योजनाओं का लाभ उठा सकें। उन्होंने कहा कि जिन प्रधानों ने विकास कार्यों पर समयावधि के अन्दर कार्य शुरू नहीं किए हैं, ऐसी पंचायतों से आवंटित राशि वापिस ली जाएगी । उन्होंने बीडीओ परागपुर को ऐसी पंचायतों की लिस्ट उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए।
इस अवसर पर परागपुर पंचायत समिति की चेयरमैन शोभा रानी, उपाध्यक्ष पंचायत समिति राम सिंह, पंचायत समिति सदस्य बिंदु वाला, बीडीओ परागपुर प्रकाश चंद, वीर सिंह तथा जीवन राणा सहित समस्त अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।