25 अगस्त को मनाया जायेगा शहीदी दिवस

धर्मशाला, 23 अगस्त: शहीद मेजर दुर्गामल और कैप्टन दल बहादुर थापा स्मृति मंच दाड़ी द्वारा 25 अगस्त को शहीदी दिवस के रूप में मनाया जायेगा।
यह जानकारी देते हुये स्मृति मंच के प्रवक्ता विजय महाजन ने बताया कि इस दिन शहीद स्मारक दाड़ी में प्रातः 11 बजे एक सादे समारोह में शहीद मेजर दुर्गामल और कैप्टन दल बहादुर थापा को श्रद्धासुमन अर्पित किये जायेंगे तथा प्रार्थना सभा भी आयोजित की जायेगी। कार्यक्रम में नगर निगम धर्मशाला के आयुक्त प्रदीप ठाकुर बतौर मुख्यातिथि शिरकत करेंगे।
उल्लेखनीय है कि स्वतंत्रता संग्राम में आजाद हिंद फौज के प्रखर योद्धा रहे शहीद मेजर दुर्गामल को 25 अगस्त, 1944 और कैप्टन दल बहादुर को 3 मई, 1945 को अंग्रेज सरकार ने लाल किला दिल्ली में फांसी दी थी।
इस अवसर पर कार्यकारणी के सभी सदस्य मौजूद थे

=============================

धर्मशाला में खुला वस्तु एवं सेवा कर सुगमता केंद्र
धर्मशाला, 23 अगस्त: संयुक्त आयुक्त राज्य कर व आबकारी, उत्तरी क्षेत्र, पालमपुर, रविन्द्र चौधरी ने आज उप आयुक्त राज्य व आबकारी, धर्मशाला के कार्यालय में वस्तु एवं सेवाकर सुगमता केंद्र (ळैज् थ्ंबपसपजंजपवपद ब्मदजतम) का उद्घाटन किया।
उन्होंने बताया कि इस वस्तु एवं सेवाकर सुगमता केंद्र में व्यापारी अपनी वस्तु एवं सेवाकर से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या का समाधान व रिर्टन भर सकते हैं तथा यह सभी सुविधाएं व्यापारियों के लिए निःशुल्क उपलब्ध होंगी।
======================================

सोलन - दिनांक 23.08.2019

डाॅ. सैजल ने दी प्रदेशवासियों को जन्माष्टमी की शुभकामनाएं

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा सहकारिता मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने प्रदेशवासियों को जन्माष्टमी त्यौहार की शुभकामनाएं प्रेषित की हैं।
डाॅ. सैजल ने अपने शुभकामना सन्देश में कहा कि जन्माष्टमी का त्यौहार हम सभी को विपरीत परिस्थितियों में आशा एवं विश्वास के साथ लक्ष्य की और बढ़ते हुए सफलता प्राप्त करने का सन्देश प्रदान करता है। उन्होेने कहा कि पौराणिक आख्यानों के अनुसार श्री कृष्ण को सृष्टि के पालनकर्ता भगवान विष्णु का पूर्ण अवतार माना जाता है और श्री कृष्ण ने अपने जीवन के माध्यम से सभी को एकनिष्ठा एवं समर्पण के साथ आगे बढ़ने का सन्देश दिया।
उन्होंन कहा कि श्रीमद् भगवत गीता के माध्यम से श्री कृष्ण ने प्राणी मात्र को जीवन का सार समझाया। उन्होंने कहा कि हम सभी को श्रीमद् भगवत गीता की शिक्षाओं को जीवन में अपनाना चाहिए।
उन्होंने सभी को जन्माष्टमी त्यौहार की बधाई देते हुए आशा जताई कि यह पर्व सभी के जीवन में नव आशा एवं सफूर्ति का संचार करेगा।

========================

सोलन_दिनांक 23.08.2019

न्यायामूर्ति धर्म चन्द चौधरी 24 अगस्त को घडि़याच में

हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एवं हिमाचल प्रदेश राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण के कार्यकारी अध्यक्ष न्यायामूर्ति धर्म चन्द चौधरी 24 अगस्त, 2019 को सोलन जिला केे अर्की उपमण्डल के प्रवास पर आ रहे हैं। यह जानकारी आज यहां एक सरकारी प्रवक्ता ने दी।
उन्होंने कहा कि न्यायामूर्ति धर्म चन्द चौधरी 24 अगस्त, 2019 को अर्की उपमण्डल की ग्राम पंचायत घडि़याच में प्रातः 11.00 बजे जि़ला विधिक सेवाएं प्राधिकरण सोलन द्वारा आयोजित पौधरोपण कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे।

==============================

सोलन दिनांक 23.08.2019

पैंशन अदालत आयोजित

जिला कोषाधिकारी सोलन अलीशा चौहान की अध्यक्षता में आज यहां पैंशन अदालत का आयोजन किया गया। यह जानकारी आज यहां एक विभागीय प्रवक्ता ने दी।
उन्होंने कहा कि इस पैंशन अदालत में पैंशन से सम्बन्धित विभिन्न मामलों पर विस्तृत चर्चा की गई। पैंशनर संघ के पदाधिकारियों एवं सदस्यों द्वारा पैंशन के विषय में उठाई गई समस्याओं का समाधान किया गया। उन्होंने कहा कि दिए गए विभिन्न सुझावों को समयबद्ध सीमा में अमल में लाया जाएगा।
पैंशनर संघ के अध्यक्ष जय देव शर्मा ने पैंशन अदालत के आयोजन के लिए आभार व्यक्त किया।
इस अवसर पर कोषाधिकारी सुरेश ठाकुर, पैंशनर संघ के महासचिव सुन्दर सिंह ठाकुर, अन्य सदस्य तथा जिला कोषागार सोलन के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

=================================

ब्यास नदी का वानिकी गतिविधियों के माध्यम से पुनरूद्धार करने को लेकर डीपीआर बनाने हेतु वन वृत सम्मेलन हॉल में परामर्श बैठक आयोजित
ब्यास नदी के जल ग्रहण क्षेत्र में वानिकी हस्तक्षेपों सेे यहां के भौगोलिक क्षेत्र के जलवायु परिवर्तन में मिलगी मदद:- अनिल जोशी
हमीरपुर 23 अगस्त । हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान शिमला द्वारा सिंधु नदी बेसिन के अंतर्गत ब्यास नदी का वानिकी गतिविधियों के माध्यम से पुनरूद्धार करने के उद्देश्य से विस्तृत परियोजना रिपोर्ट बनाने हेतु सलाहकार बैठक का आयोजन वन वृत हमीरपुर के सम्मेलन हॅाल में किया गया। बैठक में राज्य सरकार के वन विभाग के उच्च अधिकारियों , क्षेत्रीय कर्मियों के अतिरिक्त कृषि, ग्रामीण विकास, बागवानी, पशु पालन विभाग तथा कई गैर सरकारी संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
राष्ट्रीय परिपेक्ष में आयोजित की गई इस महत्वपूर्ण बैठक की अध्यक्षता वन अरण्यपाल वन वृत हमीरपुर अनिल जोशी ने की। उन्होंने कहा कि जिला हमीरपुर के लोगों के लिए वनों का बहुत महत्व है तथा ब्यास नदी के जल ग्रहण क्षेत्र में वानिकी हस्तक्षेपों सेे यहां के भौगोलिक क्षेत्र के जलवायु परिवर्तन में भी मदद मिलेगी। बैठक के दौरान विशेष अतिथि प्रदीप ठाकुर मुख्य वन अरण्यपाल (वन्य जीव) धर्मशाला ने जल अधिग्रहण क्षेत्रों में वानिकी उपचारों के बारे में कई उपयोगी सुझाव दिए। उन्होंने हिमाचल प्रदेश में जल संरक्षण की विभिन्न प्रौद्योगिकियों के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी।
निदेशक हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान शिमला डा0 शेर सिंह सामंत ने ब्यास नदी के पुनरूद्धार के लिए परियोजना के क्रियान्वयन तथा आरम्भिक रूप-रेखा बनाने के लिए महत्वपूर्ण सुझाव सांझा किए। उन्होंने कहा कि यह केन्द्र सरकार की एक महत्वपूर्ण परियोजना है जो कि एक चुनौतीपूर्ण कार्य है जिसे हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर, कांगडा़, मंडी तथा कुल्लू जिलों के कठिन क्षेत्रों में क्रियान्वित किया जाना है। इसमें विभिन्न सम्बंधित विभागों विशेषकर वन विभाग का सहयोग अहम रहेगा। इउन्होंने विभिन्न महत्वपूर्ण तकनीकी पहलुओं की जानकारी प्रदान करने के साथ कई कारगर सुझाव भी दिए। परियोजना के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन के लिए उन्होंने सभी सम्बंधित विभागों के अधिकारियों से संस्थान को सहयोग करने का आग्रह किया।
मुख्य तकनीकी अधिकारी हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान शिमला विनोद कुमार ने पॉवर प्वांईट प्रस्तुति के माध्यम से हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान शिमला के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि यह संस्थान पश्चिमी हिमालयी राज्यों हिमाचल प्रदेश तथा जम्मू कश्मीर में वानिकी एवं अनुसंधान तथा पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में महत्वपूर्ण कार्य कर रहा है। उन्होंने ब्यास नदी की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने के बारे में पावर प्वाईट प्रस्तुति के माध्यम से विस्तार से जानकारी प्रदान की।
बैठक के दौरान संपूर्ण सत्रों में ब्यास नदी की स्थानीय परिस्थितियों को लेकर कृषि, ग्रामीण विकास, बागवानी, पशु पालन तथा अन्य विभागों के अधिकारियों के अतिरिक्त प्रमुख हितधारकों , गैर सरकारी संस्थाओं के प्रतिनिधियों तथा सदस्यों ने भी अपने-2 महत्वपूर्ण सुझाव दिए।

================================

कुपोषण रोकने के लिए सरकार द्वारा चलाए गए पोषण अभियान पोषण अभियान में जन भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सितम्बर माह को पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा।

हमीरपुर, 23 अगस्त। कुपोषण रोकने के लिए सरकार द्वारा चलाए गए पोषण अभियान पोषण अभियान में जन भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सितम्बर माह को पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा। यह जानकारी आज यहां पोषण अभियान और प्रधान मंत्री मातृ वन्दना योजना के अंतर्गत आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला के अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी तिलक राज आचार्य ने दी। उन्होंने बतया कि इस दौरान रैली, वर्कशाप, पोषण मेला, हैल्थ कैंपो का आयोजन विभिन्न विभागों की सहभागिता के साथ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बच्चों में बौनापन, अल्प बजन और अनिमिया की रोकथाम के लिए सरकार का पूरा फोक्स है। इसके अन्र्तगत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा सॉफ्टवेयर के माध्यम से नियमित मॉनिटरिंग की जा रही है।
कार्यशाला में जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डॉक्टर सरिता राना ने अनिमिया के बारे मे विस्तृत जानकारी दी। उन्होने गर्भवती महिलाओं, किशोरियो व बच्चो के खान पान के बारे मे जानकारी दी। स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्वस्थ्य शिक्षक सतीश शुक्ला ने प्रसव पूर्व जांच संबंधित जानकारी दी.
स्वस्थ्य भारत प्रेरक पराग जस्वाल ने पोशन अभियान के अंतर्गत की जाने वाली गतिविधियों के बारे मे विस्तार मे बताया.
जिला के सभी बाल विकास परियोजना अधिकारियों सहित विभाग के अन्य कर्मचारीयिओं ने कार्यशाला में भाग लिया

==============================

बाकर खड्ड पर बने पुल के निरीक्षण कार्य के चलते सुजानपुर से संधोल सडक़ 24 अगस्त को यातायात के लिए रहेगी बंद
हमीरपुर 23 अगस्त । मोटर वाहन अधिनियम , 1988 की धारा 115 के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए जिला दंडाधिकारी हरिकेश मीणा ने बाकर खड्ड पर बने पुल के निरीक्षण कार्य के चलते सुजानपुर से संधोल सडक़ पर 24 अगस्त को प्रात: 11 बजे से दोपहर बाद 2 बजे तक यातायात के लिए बंद करने के आदेश दिए हैं। आदेश के अनुसार इस दौरान यातायात को सुजानपुर से लम्बा गांव-जयसिंहपुर-हारसीपत्तन संधोल सडक़ पर परिवर्तित किया गया है।