गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष ने जानीं गौ सेवा सदन संचालकों की दिक्कतें
धर्मशाला 19 सितम्बरः प्रदेश गौसेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा ने वीरवार को धर्मशाला में गौशालाओं व गौ सेवा सदन संचालकों और पशुपालन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान गौशालाओं एवं गौ सेवा सदन के संचालन से जुड़े मुद्दों, संचालन में आ रही समस्याओं और उनके समाधान को लेकर विस्तार से चर्चा की गई ।
अशोक शर्मा ने कहा कि प्रदेश में गौ वंश को बचाने, सड़कों पर घूम रही बेसहारा गायों को आसरा देने और नस्ल सुधार के उद्देश्य से गौ सेवा आयोग सभी जिलों में बैठकें आयोजित कर रहा है।
आयोग का प्रयास है कि गौशालाओं व गौ सेवा सदन संचालकों एवं पंचायत प्रतिनिधियों से चर्चा कर उनकी समस्याएं जानीं जाएं और आयोग की ओर से उनकी मदद के लिए क्या-क्या किया जा सकता है, इस बारे जमीनी जानकारी इकट््ठा की जाए, ताकि सड़कों पर घूम रही बेसहारा गायों के पुनर्वास के लिए कारगर नीति बनाई जा सके।
उन्होंने कहा कि आयोग प्रदेश में गौ संरक्षण और संवर्धन के लिए कार्य कर रहा है। शराब की खरीद पर प्रति बोतल एक रुपए गौ सेस के तौर पर इकट्ठा किया जा रहा है और वर्ष 2017-18 में 7.95 करोड़ की राशि एकत्रित की जा चुकी है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार देसी गायों के प्रचलन को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश में एक नया सिमन बैंक स्थापित करेगी। इसके लिए पशु पालन विभाग प्रारूप तैयार कर रहा है। प्रज्जनन के दौरान 90 प्रतिशत बछड़ियों का जन्म हो, इस दिशा में कार्य किए जा रहे हैं। ऐसा होने से गायों की मांग बढ़ेगी और उन्हें सड़कों पर लावारिस नहीं छोड़ा जाएगा।
इस अवसर पर गौसेवा आयोग के उपनिदेशक डा. अनुपम मित्तल ने गौसेवा आयोग की जानकारी सबके समक्ष रखी। उन्होंने कहा प्रदेश में आयोग कईं गौ अभ्यारण खोलने की तैयारी में है। इसके लिए 200-300 बीघा जमीन की आवश्यकता है और आयोग इसके लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा जहां अभ्यारण बनाना संभव नहीं होगा, वहां बड़े गौसदन खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि सभी लोग एवं पंचायतें गौसंवर्धन और गौसंरक्षण को लेकर जनजागरण अभियान भी जलाएं एवं देशी गौवंश पर विशेष ध्यान दें।
डा. मुकेश महाजन सहायक निदेशक पशुपालन विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला कांगड़ा में कुल 22 गौसदन कार्यरत हैं, जिनमें 2150 गौवंश को रखने की सुविधा है और करीब 2000 बेसहारा गौवंश को आश्रय दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांगड़ा में एक करोड़ अठारह लाख रुपये विभिन्न गौसदनों के लिए दिए जा चुके हैं।
इस अवसर पर पशु पालन विभाग से नोडल ऑफिसर डा. मनोज भारद्वाज, सहायक निदेशक डा. मोहिन्द्र श्यामा, विभिन्न गौसदनों के संचालकों सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

==================================

महिलाओं के प्रति अपनाएं संवेदनशील व्यवहार डॉ.डेजी ठाकुर

धर्मशाला 19 सितम्बर: पुलिस अधीक्षक कार्यालय धर्मशाला के सभागार में आज वीरवार को महिलाओं की शिकायतों से निपटने के लिए पुलिस कर्मियों को संवेदनशील बनाने के लिए जिला स्तरीय अभिसंस्करण कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा डॉ.डेजी ठाकुर ने की।
उन्होंने पुलिस स्टेशनों में महिलाओं द्वारा दर्ज शिकायतों को समय पर और निष्पक्ष रूप से जांच पड़ताल के लिए पुलिस कर्मियों को संवेदनशीलता बनाए रखने के लिए कहा ताकि महिलाएं बिना किसी डर से अपनी शिकायतें दर्ज कर सकें।
इस कार्यशाला में पुलिस कर्मियों को प्रताड़ित महिलाओं की समस्याओं को दूर करने व उनके साथ संवेदनशील व्यवहार अपनाने बारे जागरूक किया गया।
इस दौरान प्राध्यापक डॉ.रूचि, डॉ.सीमा ठाकुर, रेनू शर्मा, विभिन्न वक्ताओं, स्वयंसेवी संगठनों, लाइन विभाग, अभियोजन विभाग, जागोरी संस्था के प्रतिनिधियों द्वारा पुलिस कर्मियों को व्यवहारिक कठिनाईयों बारे अवगत करवाया गया। उपस्थित वक्ताओं ने प्रत्येक जिला के मुख्यालय में एक-एक होमस्टे आवास खोलने व उनहें संचालित करने बारे अपने सुझाव दिये।
डॉ.डेजी ठाकुर ने वक्ताओं द्वारा दिये गये सुझावों को ध्यानपूर्वक सुना तथा उन्हें सरकार के
माध्यम से कार्यान्वित करवाने का आश्वासन दिया।
इस अवसर पर महिला आयोग की सदस्य इंदू बाला, सदस्य सचिव डॉ.भावना, पुलिस अधीक्षक कांगड़ा विमुक्त रंजन सहित पुलिस अधिकारी व सभी पुलिस थानों के प्रभारी मौजूद रहे।

=============================================

पांच दिवसीय युवा नेतृत्व प्रशिक्षण शिविर का आयोजन 26 सितम्बर से
धर्मशाला, 19 सितम्बर: ज़िला युवा सेवाएं एवं खेल अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि विभाग द्वारा 26 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2019 तक पांच दिवसीय युवा नेतृत्व प्रशिक्षण शिविर का आयोजन ज़िला ग्रामीण विकास प्राधिकरण/विकास खंड अधिकारी, धर्मशाला के सभागार में किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस प्रशिक्षण शिविर का उद्देश्य युवा स्वयं सेवियों व युवा मण्डल पदाधिकारियों को युवा वर्ग के समग्र विकास से संबंधित प्रशिक्षण, युवा मुद्दों व समसामयिक चुनौतियों पर संवेदनशीलता, युवाओं व युवा मंडलों से संबंधित जानकारी प्रदान करना है। इसके अतिरिक्त इस प्रशिक्षण शिविर में युवाओं को सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी एवं विकासात्मक योजनाओं की जानकारी भी प्रदान की जाएगी।
उन्होंने बताया कि यह शिविर युवाओं की सक्रियता को बढ़ाने की दिशा में और गांव स्तर पर आय के साधनों में वृद्धि का एक प्रयास है। इस प्रशिक्षण शिविर में प्रत्येक विकास खंड के युवा मंडल पदाधिकारी (महिला व पुरूष) भाग लेंगे। उन्होंने बताया इस शिविर में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को साधारण बस किराया एवं दैनिक भत्ता विभागीय नियमानुसार कार्यालय द्वारा अदा किया जाएगा। उन्होंने युवा मंडलों से आह्वान किया है कि वह 26 सितम्बर, 2019 को प्रातः 10 बजे इस प्रशिक्षण शिविर में भाग लेना सुनिश्चित करें। अधिक जानकारी के लिए कार्यालय दूरभाष नम्बर 01892-222317 पर संपर्क कर सकते हैं।

===========================

बचत भवन तथा पुलिस लाईन दोसडक़ा में होगा महिला जागरूकता कार्यशाला का आयोजन
हिमाचल प्रदेश राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा डा0 डेजी ठाकुर करेंगी कार्यशाला की अध्यक्षता

हमीरपुर 19 सितम्बर। पुलिस कर्मियों को महिलाओं से सम्बंधित शिकायतों के विभिन्न मामलों में बेहतर ढंग से निपटने को लेकर 20 सितम्बर को पुलिस लाईन दोसडक़ा में जिला स्तरीय एक दिवसीय जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। इस कार्यशाला की अध्यक्षता हिमाचल प्रदेश राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा डा0 डेजी ठाकुर करेंगी। कार्यशाला का आयोजना सायं 3 से 5 बजे तक दोसडक़ा स्थित पुलिस लाईन के सम्मेलन हॉल में किया जाएगा। इस दौरान पुलिस कर्मियों को महिलाओं द्वारा विभिन्न प्रकार के मामलों में समस्याओं को लेकर पुलिस थानों में प्रस्तुत की गई शिकायतों के समय पर व बेहतर ढंग से हल करने बारे विस्तार से जानकारी प्रदान की जाएगी।
इससे पहले डा0 डेजी ठाकुर हमीरपुर स्थित बचत भवन में प्रात: 10:30 बजे महिलाओं के लिए आयोजित किए जाने वाले जागरूकता शिविर एवं पोषण अभियान कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगी। इस कार्यक्रम में महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया जाएगा तथा पोषण अभियान के अंतर्गत स्वस्थ जीवन शैली , खान-पान, पोषक तत्वों तथा अन्य महत्वपूर्ण पहलुओं की विस्तार से जानकारी प्रदान की जाएगी ताकि देश से कुपोषण को जड़ से खत्म किया जा सके।

=================================

जिला हमीरपुर में मतदाता सत्यापन कार्यक्रम चलेगा 15 अक्तूबर तक
प्रत्येक मतदाता वोटर हैल्पलाईन के माध्यम से मतदाता सूचि में करवा सकता है अपनी प्रविष्टियों का सत्यापन
शारीरिक रूप से अक्षम मतदाता टोल फ्री नम्बर 1950 पर संपर्क कर करवा सकते हैं प्रविष्टियों का सत्यापन:- हरिकेश मीणा
हमीरपुर 19 सितम्बर। जिला निर्वाचन अधिकारी (उपायुक्त) हरिकेश मीणा ने बताया कि मतदाता सूचियों में मतदाताओं के विवरण नाम, घर नम्बर, पता, आयु, लिंग तथा फोटो इत्यादि में पाई गई त्रुटियों को सही करने हेतु जिला हमीरपुर में मतदाता सत्यापन कार्यक्रम प्रथम सितम्बर, 2019 से शुरू किया गया है जो कि आगामी 15 अक्तूबर तक चलेगा।
उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम के अंतर्गत प्रत्येक मतदाता सम्बंधित मतदाता सूचि में विद्यमान अपनी प्रविष्टियों का सत्यापन वोटर हैल्पलाईन ऐप, मोबाईल ऐप, राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल, लोक मित्र केन्द्र, निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारी के कार्यालय में स्थापित मतदाता सहायता केन्द्र में जाकर करवा सकते हैं। इसके अतिरिक्त दिव्यांग मतदाता, मतदाता हैल्पलाईन 1950 के माध्यम से उक्त सत्यापन कर सकते हैं। मतदाता वांछित सूचना एवं दस्तावेज प्रविष्टि प्रमाणिकता हेतु भारतीय पासपोर्ट, ड्राईविंग लाईसैंस, आधार कार्ड, राशन कार्ड, बैंक पास बुक, किसान प्रमाण पत्र, सरकारी/ अर्ध सरकारी कर्मचारियों को जारी किए गए पहचान पत्र, पैन कार्ड, एनपीआर के अंतर्गत आरजीआई द्वारा जारी समार्ट कार्ड , भारत निर्वाचन आयोग द्वारा अनुमोदित कोई अन्य दस्तावेजों में से किसी एक दस्तावेज में से उपरोक्त वर्णित किसी एक माध्यम से अपलोड़ करना होगा।
उन्होंने जिला हमीरपुर के समस्त नागरिकों, स्थानीय राजनैतिक दलों, गैर सरकारी स्वयं संगठनों, महिला मंडलों तथा युवा मंडलों से अपील की है कि वह उपरोक्त दस्तावेजों में से कोई एक प्रमाण पत्र के साथ अपने नजदीकी लोक मित्र केन्द्र में जाकर मतदाता सूचि में अपना व अपने परिवार की प्रविष्टियों की जांच कर सकते हैं और यदि कोई अशुद्धि पाई जाती है तो उसे भी शुद्ध करवा सकते हैं। इसके साथ ही कोई भी व्यक्ति अपना नाम मतदाता सूचि में दर्ज करवाने के लिए ऑनलाईन आवेदन लोक मित्र केन्द्र में भी कर सकते हैं। सम्बंधित उपमंडल निर्वाचन कार्यालय जाकर भी अपना तथा अपने परिवार का नाम का सत्यापन नि:शुल्क करवा सकते हैं। शारीरिक रूप से अक्षम मतदाता टोल फ्री नम्बर 1950 पर संपर्क कर अपनी प्रविष्टियों का सत्यापन करवा सकते हैं।







000