सोलन -दिनांक 20.09.2019-जिला कार्यक्रम अधिकारी वंदना चौहान ने उपस्थित प्रतिभागियों को पोषण के संदर्भ में विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि पोषण का अर्थ है उचित खानपान, स्वस्थ दिनचर्या तथा सही आदतें एवं व्यवहार। उन्होंने कहा कि किशोरावस्था में खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। डाइट चार्ट के अनुसार जरूरी खाद्य-पदार्थ खाएं एवं नियमित रूप से योग और व्यायाम करने की आदत भी डालें। यदि खान-पान को लेकर कोई समस्या हो तो अपने डाइटिशयन से संपर्क कीजिए। उन्होंने किशोरावस्था में ध्यान रखी जाने वाली बातों पर भी उपस्थित प्रतिभागियों के साथ विस्तृत चर्चा की।
पोषण अभियान की जिला समन्वयक रेखा शर्मा ने किशोरावस्था में ‘स्वास्थ्य एवं पोषण’ विषय की महता एवं स्व मूल्यांकन के साथ होलिस्टिक हेल्थ केयर के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की।
स्वस्थ भारत प्रेरक तुषार मल्होत्रा एवं जिला समन्वयक राकेश ने प्रतिभागियों को स्वास्थ्य की उपयोगिता विषय पर विस्तार से जानकारी प्रदान की।
हिमाचल प्रदेश कौशल विकास योजना के जिला समनव्यक नरेंद्र त्यागी ने कहा कि प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किए जा रहे हैं तथा इस प्रशिक्षण को पूरा करने पर समुचित रोजगार के अवसर प्रदान किए जाते हैं।
.0.