हरियाणा डाक परिमण्डल द्वारा 33वीं अखिल भारतीय डाक कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन 18 से 22 नवम्बर, 2019 तक कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के ‘‘न्यू जि़म्नेजियम हाल’’ में किया जाएगा।

चंडीगढ़, 17 नवंबर- हरियाणा डाक परिमण्डल द्वारा 33वीं अखिल भारतीय डाक कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन 18 से 22 नवम्बर, 2019 तक कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के ‘‘न्यू जि़म्नेजियम हाल’’ में किया जाएगा। इस प्रतियोगिता में मेज़बान राज्य हरियाणा, पंजाब, गुजरात, उड़ीसा, राजस्थान, उतर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक व दिल्ली के डाक परिमण्डलों की टीमें भाग लेंगी, जिसमें कुल 91 खिलाड़ी शामिल हैं।
भारतीय डाक विभाग, हरियाणा परिमण्डल, अंबाला के एक प्रवक्ता ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि प्रतियोगिता का उदघाटन 18 नवम्बर, 2019 को श्री उमा शंकर पांडे, मुख्य महाप्रबंधक दूरसंचार, हरियाणा द्वारा किया जायेगा। श्रीमति आस्था मोदी गुप्ता, पुलिस अधीक्षक, कुरूक्षेत्र इस अवसर पर विशिष्ट अतिथी होंगी। उद्घाटन अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा जिसमें श्रीमति रंजू प्रसाद उपस्थित होंगी तथा मुख्य पोस्टमास्टर जनरल, हरियाणा तथा हरियाणा डाक सांस्कृतिक टीम द्वारा प्रस्तुति दी जाएगी। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर श्री एस.एस. प्रसाद, अतिरिक्त मुख्य सचिव (सेवानिवृत), हरियाणा शिरकत करेंगे। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता पाँच दिन तक चलेगी तथा इसका समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह 22, नवम्बर, 2019 को होगा। थानेसर के विधायक श्री सुभाष सुधा विजेताओं को पुरस्कार वितरित करेंगे।
उन्होंने बताया कि कुश्ती प्रतियोगिता के सफल एवं पारदर्शी संचालन के लिए प्रशिक्षक/निर्णायक मण्डल ‘खेल एवं युवा मामलों के विभाग, हरियाणा से आमंत्रित किये गये हैं। इस प्रतियोगिता में ‘ग्रीको रोमन व फ्री स्टाईल’ दोनों वर्गों में 10 विभिन्न वजन श्रेणी में मुकाबले होंगे ।
प्रवक्ता ने बताया कि अखिल भारतीय डाक खेलकूद बोर्ड द्वारा प्रतिवर्ष 14 खेलों का आयोजन किया जाता है जैसे क्रिकेट, फुटबाल, हाकी, टेबल टैनिस, बैडमिंटन इत्यादि। इस वर्ष हरियाणा डाक परिमण्डल को 33 वीं अखिल भारतीय डाक कुश्ती प्रतियोगिता आयोजित करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है, जिसका आयोजन कुरुक्षेत्र में किया जाएगा। इस वर्ष हरियाणा की टीम में सर्व श्री जगदीश, संदीप, कुलदीप, कर्मपाल, मंजीत, जितेन्द्र अंतिल, कालूदास, प्रतीक पांड़े, सुनील, प्रदीप कुमार, श्रवण कुमार, संदीप कुमार एवं श्री कृष्ण कुमार शामिल हैं ।
उन्होंने बताया कि गत वर्ष 2018 में 32वीं कुश्ती प्रतियोगिता उतर प्रदेश के लखनऊ में आयोजित की गई थी, जिसमें ग्रीको रोमन व फ्री स्टाईल वर्ग में हरियाणा डाक परिमण्डल ने प्रथम स्थान प्राप्त किया था एवं टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का अवार्ड भी हरियाणा के श्री मंजीत को मिला था।=====================
हरियाणा के गृहमंत्री श्री अनिल विज ने आज दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री जे.पी.नड्डा से भेंट की और प्रदेश के वर्तमान हालात पर चर्चा की।

चंडीगढ़, 17 नवम्बर- हरियाणा के गृहमंत्री श्री अनिल विज ने आज दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री जे.पी.नड्डा से भेंट की और प्रदेश के वर्तमान हालात पर चर्चा की।
श्री विज ने आज गृहमंत्री बनने के बाद पहली बार दिल्ली में श्री नड्डा से मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने वर्तमान जिम्मेदारियों के लिए पार्टी का आभार व्यक्त किया और प्रदेश में राजनैतिक तथा अन्य विषयों पर चर्चा की गई। उन्होंने श्री नड्डा जी को पुष्प गुच्छ भेंट किया।
गृहमंत्री श्री अनिल विज और श्री नड्डा के लम्बे समय से बड़े प्रगाढ़ सम्बंध रहे हैं। श्री नड्डा जब युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष होते थे तो वर्तमान में हरियाणा गृहमंत्री श्री विज ने उनके साथ हरियाणा युवा मोर्चा के अध्यक्ष के तौर पर कार्य किया था। इसके बाद मनोहर सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान भी मंत्री रहते हुए श्री विज तत्कालीन केन्द्रीय मंत्री श्री नड्डा का मार्गदर्शन प्राप्त करते रहे।
==============================
हरियाणा मंत्रिमंडल की आगामी बैठक 18 नवंबर, 2019 को बाद दोपहर 4.00 बजे मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में

चंडीगढ़, 17 नवम्बर- हरियाणा मंत्रिमंडल की आगामी बैठक 18 नवंबर, 2019 को बाद दोपहर 4.00 बजे मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में हरियाणा सिविल सचिवालय, चंडीगढ़ की चौथी मंजिल के कमेटी कक्ष में होगी।
=============================================
हरियाणा लोक सेवा आयोग ने साक्षात्कार/मौखिक परीक्षा आधार पर वर्ष 2019 की रजिस्टर ए-1 के डीआरओ और तहसीलदार पदों से एचसीएस (कार्यकारी) पदों पर की जाने वाली भर्ती के परीक्षा परिणाम को अंतिम रूप दिया

चंडीगढ, 17 नवंबर- हरियाणा लोक सेवा आयोग ने साक्षात्कार/मौखिक परीक्षा आधार पर वर्ष 2019 की रजिस्टर ए-1 के डीआरओ और तहसीलदार पदों से एचसीएस (कार्यकारी) पदों पर की जाने वाली भर्ती के परीक्षा परिणाम को अंतिम रूप दिया है।
हरियाणा लोक सेवा आयोग के एक प्रवक्ता ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि आयोग के कार्यालय में 4 सितंबर 2019 को साक्षात्कार/मौखिक परीक्षा आयोजित की गई थी। इसके बाद हरियाणा लोक सेवा आयोग ने परीक्षा परिणाम को अंतिम रूप दिया है। इसमें सामान्य वर्ग के 23 पद थे, जिनमें से 21 योग्य उम्मीदवारों को सूची में शामिल किया है।
उन्होंने बताया कि परीक्षा में उत्तीर्ण होने वालों में डीआरओ अमरिंदर सिंह मनैस, अनिल कुमार दून, ब्रहम प्रकाश, नरेश कुमार, धीरज चहल, राजेन्द्र कुमार, राजेश कुमार, संजय बिश्नोई, दिलबाग सिंह, दिनेश, कुलबीर सिंह ढाका तथा मानव मलिक शामिल हैं। इसी प्रकार तहसीलदार दर्शन कुमार, हितेन्द्र कुमार, जगदीश चंद्र, मीतू धनखड़, नवदीप सिंह, प्रवीन कुमार, राजेश पुनिया, संजीव कुमार तथा सुभाष चंद्र शामिल हैं।
प्रवक्ता ने कहा कि आयोग ने परिणाम तैयार करते समय पूरी सावधानी बरती है। इसके बावजूद भी किसी भी प्रकार की त्रुटि को सुधारने का अधिकार आयोग के पास है। उन्होंने कहा कि उपरोक्त परीक्षा परिणाम पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय में लम्बित मामले 2019 के सीडब्ल्यूपी 24538, 2019 के सीडब्ल्यूपी 17295, 2019 के सीडब्ल्यूपी 26093, 2019 के सीडब्ल्यूपी 23499, 2019 के सीडब्ल्यूपी 24738, 2019 के सीडब्ल्यूपी 25010, 2019 के सीडब्ल्यूपी 25000 और 2019 के सीडब्ल्यूपी 26287 के निर्णय पर आधारित रहेगा। उन्होंने कहा कि परिणाम आयोग की वेबसाइट
http://hpsc.gov.in पर भी उपलब्ध है।
================================
एचटैट परीक्षा का सफल संचालन सरकार की पहली सफलता: दुष्यंत चौटाला

एचटैट परीक्षा का सफल संचालन सरकार की पहली सफलता: दुष्यंत चौटाला
-कहा, सभी परीक्षा केंद्रों पर शत प्रतिशत रही है हाजिरी, एक सेंटर पर मात्र तीन विद्यार्थी ही मिले अनुपस्थित
-कहा, पांच साल सफलतापूर्वक चलेगी सरकार, विपक्ष अपनी जिम्मेदारी भी ठीक ढंग से नहीं निभा रहा
-जाट जोशी गांव में स्वर्गीय छोटन देवी के सत्रहवीं व मूर्ति स्थापना कार्यक्रम में की शिरकत
चंडीगढ, 17 नवंबर- हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा के सभी जिलों में एचटैट की परीक्षा का सफल संचालन नई सरकार की पहली सफलता है। इस बार बच्चों को अपने जिलों के बाहर परीक्षा देने नहीं जाना पड़ा और एक जिला में तो मात्र तीन बच्चे ही अनुपस्थित पाए गए। महिलाओं के गले की चेन व चूड़ा निकलवाने वाली प्रथा को भी खत्म करवाया गया है। श्री चौटाला रविवार को सोनीपत के जाट जौशी गांव में स्वर्गीय छोटन देवी के सत्रहवीं व मूर्ति स्थापना कार्यक्रम में शिरकत करने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
श्री दुष्यंत चौटाला ने कहा हरियाणा में भाजपा-जजपा सरकार पूरी तरह से मजबूत है। आने वाले दिनों में जो वायदे दोनों पार्टियों के घोषणापत्रों में थे उन्हें भी पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सोमवार को हरियाणा की फुल कैबिनेट की पहली मीटिंग है और इमें चाहे ग्रामीण विकास की बात हो फिर शराबबंदी के उपर कदम उठाने का विषय हो सभी को पर गंभीरता से कदम उठाए जाएंगे।
एक सवाल के जवाब में उन्होंने विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर निशाना साधते हुए कहा कि आरोप लगाना बहुत आसान है लेकिन समस्या का समाधान करना मुश्किल। आज जनता ने उन्हें विपक्ष में बिठाया है इसलिए वह ड्राईंग रूम की राजनीति करने की बजाए मजबूत विपक्ष की भूमिका निभाएं। धान की खरीद को लेकर विपक्ष द्वारा उठाए गए सवालों पर भी उन्होंने निशाना साधा।
इस दौरान उन्होंने स्वर्गीय छोटन देवी की प्रतिमा का अनावरण करते हुए उन्हें एक उच्च विचारों की महिला बताया। उन्होंने कहा कि श्रीमती छोटन देवी ने अपने परिवार को एकजुट रखा और अपने परिवार को अच्छे संस्कार दिए। इसके साथ ही उपमुख्यमंत्री ने रविवार को गोहाना के बली ब्राह्मणान गांव में मनीष शर्मा और रूखी गांव में हलका प्रधान सुरेंद्र मलिक के घर जाकर कार्यक्रमों में भी शिरकत की।
इस अवसर पर कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।
================================
प्रदेश में बिजली की तारों को लेकर किसी तरह का कोई हादसा न हो इसके लिए शीघ्र ही बिजली के लटके तार और घरों के ऊपर से गुजरने वाली तारें बदली जाएंगी:चौ. रणजीत सिंह

चंडीगढ़, 17 नवंबर- हरियाणा के बिजली, जेल एवं अक्षय ऊर्जा मंत्री चौ. रणजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश में बिजली की तारों को लेकर किसी तरह का कोई हादसा न हो इसके लिए शीघ्र ही बिजली के लटके तार और घरों के ऊपर से गुजरने वाली तारें बदली जाएंगी। इसके अलावा, ढाणियों में रहने वालों के लिए बिजली की समस्या को खत्म करने के लिए अक्षय ऊर्जा सिस्टम सब्सिडी पर उपलब्ध करवाया जाएगा।
बिजली, जेल एवं अक्षय ऊर्जा मंत्री चौ. रणजीत सिंह आज सिरसा में चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के सामने दशहरा ग्राउंड में आयोजित अभिनंदन समारोह को संबोधित कर रहे थे। मंच पर कार्यकर्ताओं द्वारा चौ. रणजीत सिंह का भव्य स्वागत किया गया।
उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों को बिजली संबंधी कोई समस्या न हो इसके लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे। अगले तीन माह के अंदर-अंदर प्रदेश में बिजली संबंधी सुधार देखने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों को बिजली संबंधित कोई भी परेशानी न हो, यह उनकी प्राथमिकता रहेगी। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को अब सीमित समय सीमा में जनता की समस्याओं को सुलझाना होगा।
चौ. रणजीत सिंह ने कहा कि सिरसा जिले को नशामुक्त बनाने के लिए सख्त कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने निर्देश दिए कि नशे की बिक्री पर पूर्णत: अंकुश के लिए पुलिस विभाग सजगता से कार्य करे और नशा बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने में ढिलाई ढिलाई न बरतें। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने जो भरोसा उन पर जताया है वे उस पर खरा उतरेंगे ।
इस अवसर पर सांसद सुनीता दुग्गल, फतेहाबाद के विधायक दूड़ा राम व रतिया के विधायक लक्ष्मण नापा, हरियाणा पर्यटन निगम के चेयरमैन जगदीश चोपड़ा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।
===============================
हरियाणा की मंडियों में अब तक 69.73 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की आवक
चंडीगढ़, 17 नवंबर- हरियाणा की मंडियों में अब तक 69.73 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की आवक हो चुकी है।
खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि धान की कुल आवक में से सरकारी खरीद एजेंसियों द्वारा 63.79 लाख मीट्रिक टन से अधिक और मिलरों व डीलरों द्वारा 5.93 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की खरीद की गई है।
उन्होंने बताया कि कुल आवक में से खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग ने 34.71 लाख मीट्रिक टन से अधिक, हैफेड ने 19.75 लाख मीट्रिक टन से अधिक, हरियाणा भंडागार निगम ने 9.28 लाख मीट्रिक टन से अधिक और भारतीय खाद्य निगम ने 4,718 मीट्रिक टन धान की खरीद की है।
विभिन्न जिलों की मंडियों में धान आवक की विस्तृत जानकारी देते हुए प्रवक्ता ने बताया कि अब तक जिला करनाल में सर्वाधिक 17.49 लाख मीट्रिक टन से अधिक, जबकि जिला कुरुक्षेत्र में 11.42 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की आवक हुई। इसी प्रकार, जिला अंबाला में 8.82 लाख मीट्रिक टन से अधिक, फतेहाबाद में 8.30 लाख मीट्रिक टन से अधिक, यमुनानगर में 7.22 लाख मीट्रिक टन से अधिक, कैथल में 7.15 लाख मीट्रिक टन से अधिक, सिरसा में 1.63 लाख मीट्रिक टन से अधिक, जींद में 1.60 लाख मीट्रिक टन से अधिक, पंचकूला में 1.53 लाख मीट्रिक टन से अधिक, सोनीपत में 1.46 लाख मीट्रिक टन से अधिक, पलवल में 1.21 लाख मीट्रिक टन से अधिक, हिसार में 80,937 मीट्रिक टन, पानीपत में 71,718 मीट्रिक टन, फरीदाबाद में 11,483 मीट्रिक टन, रोहतक में 11,013 मीट्रिक टन और मेवात में 8,653 मीट्रिक टन धान की आवक हुई है।
उन्होंने बताया कि हरियाणा की मंडियों में अब तक 2.69 लाख मीट्रिक टन से अधिक बाजरे की आवक हो चुकी है जबकि पिछले वर्ष अब तक 1.80 लाख मीट्रिक टन बाजरे की आवक हुई थी। बाजरे की कुल आवक में से सरकारी खरीद एजेंसियों द्वारा 2.67 लाख मीट्रिक टन से अधिक खरीद की गई है।