गुरुग्राम-17.01.20-गुरुग्राम में आरडब्ल्यूए और पार्षदों की खिंचतान को सुलझाने के लिए भरसक प्रयास किए जा रहे हैं। इन्हीं प्रयासों के अंतर्गत 16 तारीख को आरडब्लूए के प्रतिनिधि गुरुग्राम के विधायक सुधीर सिंगला से मिले और उन्हें पूर्ण तरह से अवगत कराया कि किस तरीके से आरडब्ल्यूए के अधिकारों का हनन करने की चेष्टा में कुछ पार्षद लगे हैंl इस मीटिंग में विस्तृत रूप से चर्चा हुई और संयोगवश अनूप पार्षद भी आ गए, जिसके बाद उन्होंने यह पेशकश रखी कि वह कोशिश करेंगे और सभी पार्षद आरडब्ल्यूए के पदाधिकारी और वरिष्ठ कुछ नागरिकों की एक शिष्टाचार भेंट कराएंगे, जिसका स्वागत किया गयाl

इस बैठक में सभी को अवगत कराते हुए भाजपा प्रदेश प्रवक्ता रमन मालिक ने बताया कि 13 जनवरी की मीटिंग जो कि कमिश्नर के साथ हुई थी, उसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री के संज्ञान में इस विषय को लाने की सभी औपचारिकताएं पूरी कर दीl उन्होंने बताया कि उन्होंने मुख्य मुख्यमंत्री के राजनीतिक सचिव अजय गौड़ और प्रिंसिपल सेक्टरी वी उमाशंकर से इस विषय पर विस्तृत चर्चा करें और उनको अवगत कराया कि आरडब्ल्यूए के अधिकारों को अगर कोई चिंता है तो वह उसी प्रकार से है कि जिस प्रकार आप किसी ग्राम सभा या ग्राम पंचायत का अधिकार छीन रहे होl

उन्होंने बताया कि उन्हें दोनों से यही आश्वासन मिला की वह आरडब्लूए के महत्व को समझते हैं और इस विषय की पूरी जानकारी माननीय मुख्यमंत्री के समक्ष रखेंगे और सरकार हर लोकतांत्रिक व्यवस्था के अधिकार को सुरक्षित करने की वचनबद्ध हैl उन्होंने मुख्यमंत्री को दिए अपने पत्रक भी सांझा करते हुए बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री से यह गुहार लगाई है कि प्रदेश के अंदर रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के अधिकारों के ऊपर चर्चा करते हुए उनको ग्राम सभा या ग्राम पंचायत के तुलनात्मक अधिकार मिलने चाहिए और आगे मलिक ने कहा कि उन्होंने माननीय मुख्यमंत्री से यह भी आवेदन करा है कि आरडब्ल्यूए का प्रयोग निगम जैसी संस्थानों के ऊपर निगरानी रखने का भी होना चाहिए ताकि इससे सभी संभावित विवादों और घोटालों का निपटारा साथ के साथ ही हो सकेl

मलिक ने कहा कि वह चाहते हैं की आरडब्लूए और पार्षद मिलकर काम करें ताकि शहरों का विकास उनके नागरिकों की आकांक्षाओं और आशाओं के अनुरूप धरातल पर चलेl इस बैठक में मुख्य रूप से ब्रहम यादव ,मलखान यादव, महेंद्र यादव,अमित गोयल ललित भोला, हितेश भारद्वाज, एचएस नंदा, नरेश कटारिया, एमपी सोनी, कमांडर उदयवीर यादव, योगिता कटिहार वह अन्य अधिकारी रहे।