धर्मशाला 21 जनवरी: शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सरवीन चौधरी ने कहा कि समाज की तरक्की शिक्षा पर ही निर्भर करती है। जिस समाज में जिस प्रकार की शिक्षा व्यवस्था होती है, वह समाज वैसा ही बन जाता है। इसलिए हिमाचल सरकार बच्चों को आधुनिक शिक्षा के साथ साथ नैतिक मूल्यों पर आधारित शिक्षा प्रदान करने पर विशेष ध्यान दे रही है ताकि देश की युवा पीढ़ी सबल एवं उत्तरदायी बने।
वे आज शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्मिक पाठशाला सिहुआं के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में बतौर मुख्यातिथि शिरकत करने के उपरांत बोल रही थीं।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने शिक्षा क्षेत्र के सुदृढ़ीकरण के लिए नए अध्यापकों की भर्ती पर जोर दिया है। प्राथमिक स्तर पर प्री-नर्सरी कक्षाएं आरम्भ की गई हैं इसका उद्देश्य शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाना है। उन्होंने कहा कि नशे से छात्रों को दूर रखना हमारा सामूहिक उत्तरदायित्व है।
उन्होंने कहा कि बाल मन में अनेक आकांक्षाएं, अपेक्षाएं तथा सम्भावनाएं विद्यमान रहती हैं तथा विद्यार्थियों को सही समय पर सही मार्गदर्शन ओर सुविधाएं उपलब्ध हों तो वे आसानी से वास्तविक क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन कर सकते हैं। उन्होंने विद्यार्थियों से स्कूल में पूर्ण अनुशासन से मन लगाकर पढ़ाई करने और साथ-साथ अन्य गतिविधियों में भी भाग लेने का आह्वान किया।
स्कूल के प्रधानाचार्य श्री सुरेन्द्र शर्मा ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की।
इस अवसर पर बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। सांस्कृतिक कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए मुख्यातिथि ने 15000 हजार की प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की।
इस अवसर पर शैक्षणिक, खेल तथा अन्य गतिविधियों में उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को मुख्यातिथि ने सम्मानित किया। उन्होंने ‘‘अखंड शिक्षा ज्योति मेरे स्कूल से निकले मोती’’ योजना के तहत सेवानिवृत एचएएस प्रभात सिंह व रिटायर्ड प्रधानाचार्य धर्मचन्द को सम्मानित किया।
शहरी विकास मंत्री ने कहा कि उपरला भानियाड से झिकला भनियाड के लिए 20 लाख, छतरी से पैहड़ सड़क के लिए 22 लाख, द्रम्मन से डढ़ामन रोड़ के लिए 8 लाख, द्रमण से ढुखरू रोड़ पर 8 लाख रुपये तथा राजकीय महाविद्यालय शाहपुर के संगीत रूम के निर्माण के लिए 25 लाख रुपए व्यय किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उठाऊ पेयजल योजना सिंहयू भरनोली के विस्तारीकरण एवं सुधारीकरण के लिए 195.70 लाख, उठाऊ सिंचाई योजना मंझग्रां के सुधारीकरण पर 61.91 लाख रूपये तथा गांव मंझग्रां, द्रमण तथा साथ लगते गांवों के लिए अलग से पेयजल योजना के निमार्ण पर 202.06 लाख रुपये व्यय किये जाएंगे।
इसके उपरांत शहरी विकास मंत्री ने लोगों की समस्याओं को सुना। अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया और शेष समस्याओं के समाधान के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये
इस अवसर पर ग्राम पंचायत प्रधान मधु बाला, उप प्रधान यशपाल, एसएमसी प्रधान ऋतु रानी, महिला मण्डल प्रधान अनीता राणा, जोगिंदर कटोच, भाजपा उपाध्यक्ष सुरेन्द्र ठाकुर, अधिशाषी अभियंता संजीव महाजन, अधिशाषी अभियंता आईपीएच राजीव महाजन, एसडीओ बलबीत कुमार, पवन कुमार, प्रेस सचिव राकेश मनु तथा बच्चों के अभिवावकों सहित अन्य स्कूलों के अध्यापक व बच्चे मौजूद रहे।
000