औद्योगिक प्रशिक्षण कार्यक्रम के सम्बन्ध में जानकारी प्रत्येक गांव तक पहुंचाएं: राघव शर्मा
प्रदेश कौशल विकास निगम द्वारा संचालित कार्यक्रमों को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित

धर्मशाला, 28 फरवरी: कांगड़ा जिले के विभिन्न औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में प्रदेश कौशल विकास निगम द्वारा संचालित किये जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम के सम्बन्ध में आज शुक्रवार को उपायुक्त कार्यालय के सभागार में एक समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता अतिरिक्त उपायुक्त कांगउ़ा राघव शर्मा ने की। बैठक में सभी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के प्रधानाचार्यों ने भाग लिया।
एडीसी ने बताया कि जिला प्रशासन की और से सभी उपमंडल अधिकारियों, खंड विकास अधिकारियों, महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारियों को उपयुक्त निर्देश दिये जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के सम्बन्ध में जानकारी प्रत्येक गांव तक पहुंचाई जानी चाहिए ताकि जिले के जरूरतमंद बेरोजगार युवाओं को इन प्रशिक्षण कार्यक्रमों का लाभ मिल सके।
एडीसी ने कौशल विकास निगम के जिला संयोजक को इस सम्बन्ध में एक जिला स्तर की कमेटी बनाने का निर्देश दिये। उन्होंने उम्मीद जताई कि जिला कांगड़ा में यह कार्यक्रम सफलतापूर्वक चलाया जाएगा।
हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम के जिला संयोजक सुधीर भाटिया ने प्रशिक्षण कार्यक्रम के बारे में सभी उपस्थित अधिकारियों को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि जिला कांगड़ा में 10 औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम द्वारा संचालित प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बेरोजगार युवाओं को प्रोत्साहित करने की कोशिश में जिला प्रशासन के सहयोग की आवश्यकता सभी अधिकारियों ने की।

=================================

निजी स्कूल मान्यता एवं नवीनीकरण के लिए 7 मार्च तक करें आवेदन प्रस्तुत
धर्मशाला, 28 फरवरी: उप निदेशक, प्रारम्भिक शिक्षा, धर्मशाला ने जानकारी देते हुए बताया कि जिन निजी स्कूलों ने 17 फरवरी, 2020 तक अपने स्कूलों की मान्यता एवं नवीनीकरण के लिए मूल दस्तावेजों सहित संबंधित खण्ड प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी एवं उप निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा, धर्मशाला के कार्यालयों में आवेदन नहीं किया है, वह स्कूल 7 मार्च, 2020 तक निर्धारित शुल्क सहित अपने आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त जिन स्कूलों के दस्तावेजों में त्रुटियां पाई गई थीं, वह भी 7 मार्च, 2020 तक पुनः अपने दस्तावेज संबंधित कार्यालयों में जमा करवा सकते हैं।
उन्होंने कहा कि निजी स्कूलों द्वारा 7 मार्च, 2020 तक निर्धारित शुल्क सहित अपने दस्तावेज संबंधित खण्ड प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी एवं उप निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा, धर्मशाला के कार्यालयों में प्रस्तुत नहीं किए जायेंगे, उन निजी स्कूलो के विरूद्ध आरटीई के तहत कानूनी कार्यवाही कर मान्यता रद्द की जा सकती है।

=================================

उचित मूल्य की दुकानों के लिये करंे आवेदन
धर्मशाला, 28 फरवरीः जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक नरेन्द्र धीमान ने जानकारी देते हुए बताया कि विकास खंड नगरोटा बगवां के गांव खनोग ग्राम पंचायत वग-गुलेहड़, विकास खंड नूरपुर के गावं जसूर ग्राम पंचायत कमनाला, विकास खंड परागपुर के गांव गुडारा, ग्राम पंचायत भरोली जदीद, विकास खंड फतेहपुर के गांव भटोली पकवां ग्राम पंचायत भाटिया व विकास खंड पंचरूखी के गांव शास्त्रीनगर वार्ड-एक ग्राम पंचायत मुहाल बनूरी में एक-एक उचित मूल्य की दुकान खोली जानी प्रस्तावित है।
उन्होंने बताया कि उपरोक्त स्थानों पर उचित मूल्य की दुकान खोलने हेतु इच्छुक सहकारी सभा/शारीरिक रूप से अपंग व्यक्ति जो कि उचित मूल्य की दुकान का कार्य ठीक प्रकार से करने में सक्षम हों, भूतपूर्व सैनिक, शिक्षित बेरोजगार व्यक्ति जिसके परिवार से कोई भी सदस्य नियमित रोजगार में न हो, ग्राम पंचायत से उचित मूल्य की दुकान आबंटन हेतु आवेदन पत्र आमंत्रित किए जाते हैं। इच्छुक उम्मीदवार 19 मार्च, 2020 तक जिला नियंत्रक, खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले कांगड़ा स्थित धर्मशाला के कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं।
उन्होंने बताया कि आवेदकों की न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता दसवीं है। आवेदन पत्र के साथ मैट्रिक का प्रमाण पत्र, वित्तिय स्थिति से सम्बन्धित दस्तावेज, आवेदक भूतपूर्व सैनिक/शिक्षित बेरोजगार होने की स्थिति में स्वयं तथा परिवार के किसी भी सदस्य के नियमित रोजगार में न होने सम्बन्धी प्रमाण पत्र और दुकान की उपलब्धता एवं भडांरन क्षमता सम्बन्धी दस्तावेज की प्राधिकृत अधिकारी से सत्यापित प्रतियां सलंग्न की जानी अनिवार्य है, जिनके बिना आवेदन अस्वीकृत कर दिया जाएगा। इसके अतिरिक्त उच्च शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र यदि आवेदक बीपीएल, एससी, ओबीसी, एसटी परिवार से सम्बन्ध रखता है तो इस संदर्भ में प्रमाण पत्र, भूतपूर्व सैनिक प्रमाण पत्र, अपंगता प्रमाण पत्र, यदि आवेदक उसी वार्ड का है जिसमें उचित मूल्य की दुकान खोली जानी प्रस्तावित हे तो इस सम्बन्ध में ग्राम पंचायत द्वारा जारी प्रमाण पत्र, विधवा, एकल नारी से सम्बन्धित दस्तावेज जो भी उपलब्ध हो, की प्राधिकृत अधिकारी से सत्यापित छायाप्रतियां भी आवेदन पत्र के साथ संलग्न करना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि उपरोक्त दस्तावेजों उपरांत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के आधार पर मैरिट तय कर दी जायेगी।
नरेन्द्र धीमान ने बताया कि उक्त तिथि के बाद कोई भी आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, इच्छुक आवेदनकर्ता अधिक जानकारी के लिए अपने ग्राम पंचायत तथा संबंधित निरीक्षक, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले कार्यालय में या दूरभाष नम्बर 01892-222877 पर सम्पर्क कर सकते है।