धर्मशाला, 04 अप्रैल। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कांगड़ा जिला में कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए चरणबद्व तरीके से नेहरू युवा केंद्र, एनसीसी के स्वयंसेवियों की मदद भी ली जाएगी इस के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्लान तैयार किया जा रहा है इसके अतिरिक्त जरूरत पड़ने पर अन्य स्वैच्छिक संस्थाओं को भी शामिल किया जा सकता है। इसमें दुकानों के बाहर उपभोक्ताओं के बीच न्यूनतम दूरी स्थापित करवाने, बुर्जुगों के लिए दवाई या अन्य खाद्य सामग्री लाने में मदद करने के साथ साथ अन्य और भी महत्वपूर्ण कार्य सौंपे जाने बारे विचार किया जा रहा है।
डिपुओं में राशन वितरण को लेकर तैयार होगी कार्ययोजनाः
उन्होनंे कहा कि ग्रामीण स्तर पर सस्ते राशन की दुकानों पर ज्यादा भीड़ नहीं जुटे तथा सभी लोगों को आसानी से राशन उपलब्ध हो इस के लिए खाद्य आपूर्ति विभाग को कार्ययोजना तैयार करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि खाद्य निगम के गोदामों में राशन का आवश्यक स्टाक उपलब्ध है अतः किसी भी उपभोक्ता को दैनिक आवश्यकता की वस्तुओं की खरीद के लिए हड़बड़ी करने की जरूरत नहीं है तथा किसी भी स्तर पर घरों में राशन का भंडारण भी नहीं किया जाए।
जिला में आवश्यक खाद्य वस्तुओं की आपूर्ति:
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने बताया कि 04 अप्रैल को कांगड़ा जिला में 11 गाड़ियां ब्रेड की, 164 सब्जियों के वाहन, पेट्रोल, डीजल के चार वाहन, 74 वाहन दूध के, 27 गाड़ियां रसोई गैस की, अनाज की 135 गाड़ियों मेडिसन की 64 वाहनों द्वारा आपूर्ति की गई है। खाद्य निगम के गोदामों में दो महीने के राशन के भंडारण किया गया है इसके अतिरिक्त 25 ट्रक खाद्यान्नों की सप्लाई की गई है। पंजाब की सब्जी मंडियों से राशन की सुचारू आपूर्ति हो रही है।
होम डिलीवरी की व्यवस्था:
उपायुक्त ने बताया कि कांगड़ा जिला के बैजनाथ, नगरोटा बगबां, कांगड़ा, पालमपुर में होम डिलीवरी सेवा आरंभ कर दी गई है तथा अन्य उपमंडल में भी होम डिलीवरी की व्यवस्था करने के लिए कारगर कदम उठाए जा रहे हैं।
बाहरी राज्यों से आए लोगों की 1077 पर दें सूचना
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि मार्च महीने में बाहरी राज्यों या विदेशों से लौटे नागरिकों के बारे में तथा किसी भी स्तर पर स्थानीय निवासियों में कोरोना के लक्षण दिखें तो इसकी तुरंत सूचना टोल फ्री नंबर 1077 पर दें ताकि परिवार व समाज में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोका जा सके।उन्होंने कहा कि अगर लोग जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों की सही तरीके से अनुपालना सुनिश्चित करेंगे तो निश्चित तौर पर कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है।
अफवाहें फैलाने से बचें:
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि सोशल मीडिया पर कोरोना को लेकर झूठी अफवाहें फैलाने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई करने का प्रावधान किया गया है तथा सभी नागरिकों को सोशल मीडिया या फेक न्यूज पोस्ट करने से बचना चाहिए और कोरोना वायरस से बचाव के लिए सामाजिक दूरी तथा घरों में रहना सुनिश्चित करना चाहिए।