चंडीगढ़, (सुनीता शास्त्री) 06.01.20-भारत देश विविधता में एकता मिसाल विशाल है, जिसमें सैकड़ो भाषाएं और कई बोलियां बोली जाती हैं, लेकिन फिर भी हम एकजुट हैं, जो हमें अद्वितीय और दूसरों से अलग बनाती है।’ राजनीति जन्म से नहीं होती है, यह आपकी पार्टी द्वारा दिया गया टिकट नहीं है, यह केवल समाज की भलाई के लिए काम करके आती है। हमारा एकमात्र उद्देश्य लोगों को लोगों से जोड़ना और वंचितों के उत्थान के लिए काम करना है। ये बात आज यहां प्रयागराज से संसद सदस्य रीटा बहुगुणा जोशी ने चंडीगढ़ प्रेस क्लब, सेक्टर 27 में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कही। वे राष्ट्रीय युवक परिषद (आरवाईपी) के पंजाब-चंडीगढ़इकाई के शुभारंभ पर समारोह को संबोधित कर रही थीं। राष्ट्रीय युवक परिषद, एक गैर-लाभकारी संगठन है, जो देश भर के 22 राज्यों में संचालन कर रहा है। 23 जनवरी 1970 को स्थापित परिषद युवाओं की भलाई के लिए तेजी से काम कर रही है। बहुगुणा ने अपने संबोधन में कहा कि ‘‘भारत एक विविधतापूर्ण और विशाल देश है, जिसमें सैकड़ो भाषाएं और कई बोलियां बोली जाती हैं, लेकिन फिर भी हम एकजुट हैं, जो हमें अद्वितीय और दूसरों से अलग बनाती है।’इस मौके पर उन्होंने कन्या भ्रूण हत्या, महिला सशक्तीकरण, शिक्षा आदि जैसे कई पहलुओं को भी छुआ। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार समाज की भलाई के लिए सभी क्षेत्रों में काम कर रही है और युवाओं को सुझाव दिया है कि हमें अपने विचारों को बदलने की आवश्यकता है, देश उसके बाद अपने आप ही बदल जाएगा।नए अध्यक्ष, वयोवृद्ध सुरिंदर वर्मा का भी स्वागत किया और उन्हें समाज की भलाई के लिए पूरे उत्साह के साथ काम करने को कहा।सुरेन्द्र वर्मा ने बहुगुणा और सभी गणमान्य व्यक्तियों के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि ‘‘वह स्वामी विवेकानंद के सिद्धांतों पर काम करेंगे और करेंगे। उसी उत्साह के साथ काम को आगे बढेंग़े, जिसे परिषद ने 49 साल पहले शुरू किया है।आरवाईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरिंदर माथुर ने नवनियुक्त अध्यक्ष को बधाई दी और कहा कि ‘‘हमें पंजाब में अपना संगठन शुरू करने का सौभाग्य मिला है। चार युवाओं के सरासर दृढ़ संकल्प के साथ हमने 1970 में सुभाष चंद्र बोस और स्वामी विवेकानंद के सिद्धांतो पर मानवता और समाज की बेहतरी के लिए इस संगठन की शुरुआत की। और हमें पूरा विश्वास है कि वर्मा उस अच्छे काम को आगे बढ़ागे।इस कार्यक्रम का संचालन आरवाईपी के राष्ट्रीय सचिव राम गोपाल वर्मा ने किया। समारोह में नरेंद्र माथुर, राष्ट्रीय अध्यक्ष, आरवाईपी, रंजीता मेहता, राष्ट्रीय संयोजक, अखिल भारतीय महिला विंग, मुकेश गर्ग, अध्यक्ष, आरवाईपी दिल्ली सहित कई अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। समारोह में प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ताओं और गैर सरकारी संगठनों ने भाग लिया।