SOLAN,16.01.20-15 जनवरी 2020 को उमंग कल्चरल एंड वैलफेयर सोसाईटी द्वारा वार्षिक उत्सव मनाया गया। यह उत्सव रविवार को सोलन में स्थित सैण्टा रोज़ा रिर्ज़ोट में मनाया गया। कार्यक्रम में तारे ज़मीन पर कार्यशाला के सभी बच्चों ने भाग लिया। यह कार्यशाला उमंग सोसाईटी द्वारा ही 16 दिसम्बर 2019 से सोलन शहर के कोटलानाला में स्थित यूरो किड्स स्कूल व सनातन धर्म मंदिर के हॉल में चलाई जा रही थी। कार्यशाला में कुल 35 बच्चों ने भाग लिया। इस कार्यशाला में बच्चों को एक्टिंग डांस आर्ट एंड का्रफ्ट योगा मैडीटेशन पेंटिंग क्ले आर्ट जैसे गुर सिखाए गए। बच्चों को यह सब कलाएं प्रोफेशनलस द्वारा सिखाई गई। जिनमें से मनुज शर्मा ने एक्टिंग व प्रियंका बंसल ने आर्ट एंड क्राफ्ट व पेंटिग और रिचा बक्शी ने रीडिंग व राईटिंग तथा इशिता ठाकुर ने डांस की शिक्षा दी और योगा एंड मैडिटेशन अरूनधति अरोरा ने व विशेष कौशल ने बच्चों को क्ले से अलग अलग तरह की कला कृतियॉं बनाना सिखाई।

कार्यशाला का समापन उमंग ने अपने छह वर्ष पूरे होने पर वार्षिक उत्सव मना कर किया। कार्यक्रम में सोलन के ऐडिशनल सुप्रिंटैंडेंट ऑफ पुलिस “डॉ .शिव कुमार शर्मा” व बी .एल .सैण्ट्रल .पब्लिक . स्कूल की डायरैक्टर “श्री मति वीना बक्शी” ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की।
इसके अलावा कैप्टन ए . जे . सिंह ह्यडायरैक्टर पाइन ग्रोव स्कूलहृ . श्रीमति किरन अत्री ह्य हैड टीचर एलीमैंट्री पाइन ग्रोव स्कूल हृ . श्रीमति पूनम नंदा ह्य डायरैक्टर स्टूडैंट वैलफेयर शूलिनी यूनीवर्सिटीहृ. श्री हंसराज ठाकुर ह्य डायरैक्टर चैस्टर हिल्स हृ को बतौर गैस्ट्स ऑफ ऑनर आमंत्रित किया गया व सभी को मंच पर सम्मानित किया गया।
श्री दिपिन बक्शी ह्यएम ड़ी . सांई बिलाईट् इंटरनैश्नल स्कूल धर्मपुरहृ . श्री मति रूचिका बक्शी ह्य प्रिंसीपल बी . एल .सैण्ट्रल .पब्लिक .स्कूलहृ . श्री शोभित बहल ह्य डायरैक्टर यूरो किड्स सोलनहृ . श्रीमति सीमा बहल ह्य प्रिंसीपल यूरो किड्स सोलनहृ . श्रीमति विम्मी बक्शी ह्य हैड टीचर फन एंड लर्न स्कूलहृ सभी बतौर अतिथि शामिल हुए।
उमंग सोसईटी के सभी सदस्य इस कार्यक्रम में शामिल हुए। इनमें से उमंग के प्रधान श्री प्रतीक गोयल. श्रीमति शीला कौशल. श्री मनुज शर्मा. श्रीमति राधिका कपूर. श्रीमति नम्रता सोडी. श्रीमति परवीन झागटा. श्रीमति प्रियंका बंसल. श्रीमति किरन कौशल. श्री मति लीना शर्मा और हर्षिता व उपनीत उपस्थित रहे।
कार्यक्रम की शुरूआत अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन से किया गया। तारे ज़मीन पर कार्यशाला के बच्चों के द्वारा नाटक “तारे ज़मीन पर” “मलैफिसैंट” “रिर्पोट कार्ड” प्रस्तुत किए गए। इसके इलावा ग्रुप डांस जिनमें से एक “हिमाचली नाटी” व “शिव तांडव” प्रस्तुत किया गया। इसके अलावा सभी बच्चों ने कार्यशाला के टाईटल सांग “तारे ज़मीन पर” अपनी डांस परर्फोमेंस पेश की । मुख्य अतिथि व सभी अन्य अतिथियों ने पहाड़ी नाटी की।
उमंग कल्चरल एण्ड वैल्फेयर सोसाईटी द्वारा हर वर्ष सोलन के कलाकारों को मंच पर सम्मानित किया जाता है जो कि राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर नाम कमा चुके हैं। इस वर्ष भी उमंग द्वारा कुछ ऐसे कलाकारों को सम्मानित किया गया। इस सम्मान पुरस्कार का नाम सोलन की देवी “मॉं शूलिनी” को समर्पित किया गया।यह समाज के लिए गौरव की बात रही कि इस वर्ष कलाकारों के अलावा स्पोर्ट्समैन व एथलीट्स को भी सम्मानित किया गया । इनमें हॉकी क्लब एसोसिएशन की विमेन टीम को सम्मानित किया गया। हॉकी टीम में 60 वर्ष से ज्यादा उम्र की महिलायें शामिल हैं तथा यह टीम नैशनल लैवल पर पुरस्कार जीत कर हिमाचल का नाम रौशन कर चुकी हैं तथा देश की अन्य महिलाओं के लिए एक मिसाल कायम की हैं। इसके इलावा “अतुल गुरू” को अपनी बहतरीन फोटोग्राफी के लिए नैशनल अवार्ड जीतने पर सम्मानित किया गया। “अर्शित शर्मा” “भव्य सूद” “गुरूकुल इंटरनैशनल स्कूल” “सेंट् ल्यूक्स स्कूल” जैसे नाम शामिल हुए। अनुशा जोशी ने अलग अलग भाषाओं में गाने गाए व अपनी गायकी से कार्यक्रम में चार चांद लगाए ।
इसके इलावा श्रीमति प्रियंका बंसल को उमंग स्टार ऑफ द् िइयर के अवार्ड से सम्मानित किया गया।
तारे ज़मीन पर कार्यशाला के बच्चों को भी उनकी अलग अलग प्रतिभाओं के लिए सम्मानित किया गया। जिनमें से रिद्धिम भारद्वाज को बैस्ट एक्टर का अर्वाड मिला। बैस्ट डांसर पार्थ बंसल को मिला । बैस्ट आर्ट एंड क्राफ्ट आर्टिस्ट आहाना धिमान व बैस्ट क्ले आर्टिस्ट भानुप्रिया बंसल व बैस्ट डिसिप्लिन्ड चाईल्ड मनन गर्ग को दिया गया। इसके अलावा ओवर ऑल बैस्ट टी .ज़ैड .पी . किड ऑफ द् िइयर का अवार्ड ज्योर्तिआदित्य सिंह ने जीता।
सभी अतिथियों ने इस मौके पर उमंग सोसाईटी के प्रधान श्री प्रतीक गोयल व सचिव श्री मनुज शर्मा व सभी सदस्यों को बधाई देते हुए कहा कि कला के क्षेत्र में आपका योगदान सराहनीय है व बच्चों को मंच पर डांस व एक्टिंग करते देखना बहुत ही रोमांचक होता है व भविष्य में भी ऐसी गतिविधियों को अधिक बढ़ते हुए देखने की कामना की।