रोहतक, 22 मार्च। हरियाणा की बेटियां अपने पंखों को फैलाकर सात समुन्दर पार अपनी प्रतिभा का जलवा दिखाने के लिए आज तैयार हैं। ऐसी ही रोहतक की एक बेटी मिसेज इंडिया एक्सक्विजिट सुनीता जाखड़ अब अमरीका के बाल्टीमोर शहर में आयोजित होने वाली मिसेज वल्र्ड फिनाले में हिस्सा लेंगी। यह जानकारी देते हुए मिसेज इंडिया सुनीता जाखड़ के पिता कर्नल आर.एस. जाखड़ ने कहा कि हमें अपनी बेटी पर गर्व है, जो इतने बड़े मंच पर भारत का प्रतिनिधित्व करेगी। उन्होंने कहा कि बेटियों की शिक्षा के लिए हमें सजग रहना चाहिये साथ ही उन्हें उचित संस्कार देने चाहियें ताकि वे वर्तमान परिवेश में आ रही गिरावट का सामना कर सकें। 

मां सुमन जाखड़ ने कहा कि यह उनके लिए बहुत खुशी का पल है जब उनकी बेटी सात समुन्द्र पार देश का प्रतिनिधित्व करेगी। उन्होंने बताया कि उनकी सोच थी कि महिलाओं को पढ़ा-लिखाकर उन्हें सशक्त बनाना चाहिये। इसके लिए हर मां-बाप हमेशा सजग रहते हैं तथा उन्हें अपना पूरा प्यार देते हैं।
अपनी इस उपलब्धि पर मिसेज इंडिया सुनीता जाखड़ ने कहा कि वे इस फैशन शो के लिए बहुत रोमांचित हैं। इतने बड़े मंच पर मुझे जाने का मौका मिल रहा है जिसके लिए मैं अपने देश की जनता की हमेशा आभारी रहूंगी। उन्होंने कहा कि लड़कियों को हर क्षेत्र में कड़ी मेहनत करनी चाहिये ताकि वे उस क्षेत्र में ऊंचा मुकाम हासिल कर सकें। उन्होंने कहा कि उनका पिता सेना में अधिकारी थे इसलिये कड़े अनुशासन में पली-बढ़ी हैं। परिवार के अलावा उन्हें बहुत अच्छा ससुराल मिला है। जिसमें उनके ससुर मेजर ओ.पी. चौधरी व सास श्रीमति विमला चौधरी ने उन्हें काफी सर्पोट किया तथा इस क्षेत्र में आगे बढऩे की प्रेरणा दी। वहीं उनके पति अनिल प्रकाश जोकि मर्चेट नेवी में अधिकारी के तौर पर कार्यरत हैं ने भी मुझे आगे बढऩे की प्रेरणा दी। 
सुनीता जाखड़ ने बताया कि मिसेज इंडिया बनने के बाद उनके जीवन में बहुत परिवर्तन आ गया है।  जिन्दगी ग्लैमरस ज्यादा हो गई है। नये-नये लोग उनसे लगातार मिल रहे हैं तथा वे कई समारोहों में भी बतौर अतिथि जाती रही हैं। उन्होंने लड़कियों को सलाह दी कि वे पढ़ाई के साथ-साथ अपने करियर की तरफ पूरा ध्यान दें। एक क्षेत्र को लक्ष्य बनाकर की गई तैयारी हमेशा सफल रहती है। उन्होंने सभी को पूरी तरह से आत्मनिर्भर बनने का आह्वान किया। 
उन्होंने बताया कि मिसेज वल्र्ड प्रतियोगिता के लिए वे कड़ी मेहनत कर रही हैं। इसके लिए उन्होंने दिल्ली में कोचिंग की व्यवस्था भी की है। उन्होंने बताया कि वे स्वयं को फिट रखने के लिए योग, तैराकी व ध्यान आदि का सहारा लेती हैं तथा इस बार उनका मुख्य ध्येय मिसेज वल्र्ड प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्शन करना है, जिसे वे पूरा करने के लिए लगातार कड़ी मेहनत कर रही हैं।