जीरकपुर/चंडीगढ़, 11 सितम्बर ( APS NOORPURI ):  उभरते गायक और एक्टर सूरज के हिन्दी सोलो ट्रैक ‘धोखा-द लाइफ मिस्ट्री’ का विमोचन आज चंडीगढ़ इंस्टीच्यूट ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन द्वारा जीरकपुर के एक होटल में किया गया। इस अवसर पर गीतकार डॉ. नीरज शर्मा, कैमरामैन और वीडियो निर्देशक जोड़ी आर्य वीर आर्य व मेलोन (राम), संगीतकार नीटा लक्ष्मण और नीरज शर्मा (ओल्ड ब्वॉयज़) तथा सी.आई.एफ.टी  के टरस्टी शमशेर पठानिया उपस्थित थे।
    गायक सूरज ने बातचीत के दौरान बताया कि वह चंडीगढ़ से ही ताल्लुक रखता है और यहीं पर  उसकी शिक्षा-दीक्षा हुई। उसने बताया कि बचपन मेें डांस और अभिनय से उसका खासा लगाव था और स्कूल के सांस्कृतिक कार्यक्रमों में वह खुलकर भाग लेता था । उसकी ख्वाहिश थी कि बड़ा होकर इस क्षेत्र में वह नाम कमाये और अपनी प्रतिभा को साबित करे। सन् 2016 में लॉस वेगास (अमेरिका) में आयोजित हिपहाप इंटरनैशनल नृत्य प्रतियोगिता में उसे भारत की तरफ से भाग लेने का अवसर मिला। इस कंपीटीशन में कुल 72 देशों ने भाग लिया था, जिनमें से वह 27वीं पोजीशन पर रहा। संस्था ने उसे बैज और सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया।इसके बाद वह किस्मत आजमाने मायानगरी मुंबई  चला गया और काफी अर्से तक वहां इधर से उधर सडक़ों की धूल  फांकता रहा पर किसी ने उसकी प्रतिभा की कद्र नहीं की।
    इसी दौरान वह सी.आई.एफ.टी जीरकपुर के संपर्क में आया। उसने सुन रखा था कि यहां नये प्रतिभावान कलाकारों को अवश्य मौका मिलता है और उसकी भी जैसे लॉटरी लग गई। डॉ. नीरज शर्मा और आर्य वीर आर्य ने उसका ऑडिशन लिया और गायन के क्षेत्र में जाने के लिए कहा।
    अपने पिता भोला जी के मार्ग दर्शन और उत्साह बढ़ाने पर वह संगीत से जुड़ गया और निरंतर अभ्यास  करने लगा। आज उसका सपना साकार हुआ है और प्रथम सोलो ट्रैक श्रोताओं के लिए हाजिर है।
    सूरज ने बताया कि इस गीत के रचयिता डॉ. नीरज शर्मा और संगीतकार  नीटा लक्ष्मण-डॉ. नीरज  हैं जबकि वीडियो निर्देशन व छायांकन आर्य वीर आर्य व मेलोन का है।
    सूरज ने कहा कि गायन के साथ उन्हें अभिनय का भी शौक है। वह काफी समय तक थियेटर से भी जुड़े रहे हैं और भविष्य में बॉलीवुड में काम करना चाहते हैं।