NEWS FROM SOLAN
 मुख्यमंत्री एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री द्वारा मातृ एवं शिशु खण्ड का ऑनलाईन शिलान्यास
मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने आज शिमला से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में निर्मित किए जाने वाले मातृ एवं शिशु खण्ड की आधारशिला रखी। 
सोलन -दिनांक 13.09.2017-प्रदेश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री कौल सिंह ठाकुर भी इस अवसर पर उपस्थित थे। 
क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में निर्मित होने वाले इस खण्ड के निर्माण पर 10 करोड़ रुपये खर्च होंगे तथा इससे गर्भवती माताओं और शिशुओं को एक ही स्थान पर सम्पूर्ण उपचार सुलभ होगा। 
सोलन में उपायुक्त राकेश कंवर ने शिलान्यास पट्टिका का अनावरण किया। 
इस अवसर पर जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष राहुल ठाकुर, नगर परिषद सोलन के अध्यक्ष देवेन्द्र ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस समिति के महासचिव विनोद सुल्तानपुरी, खण्ड कांग्रेस समिति सोलन के अध्यक्ष एवं ग्राम पंचायत नौणी के प्रधान बलदेव ठाकुर, प्रदेश पर्यटन विकास निगम निदेशक मण्डल के सदस्य सुरेन्द्र सेठी, प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सदस्य अरविन्द गुप्ता, पार्षद पवन गुप्ता, भारतीय जनता पार्टी के रविन्द्र परिहार, शेलेन्द्र गुप्ता, बादल नाहर, जिला कांग्रेस के महासचिव शिवदत ठाकुर, जिला कांग्रेस समिति के पूर्व अध्यक्ष शिव कुमार, खण्ड कांग्रेस कण्डाघाट के अध्यक्ष अजय वर्मा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डॉ. आरके दरोच, क्षेत्रीय अस्पताल सोलन के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. महेश गुप्ता सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
 ==============================================
खसरा-रूबैला टीकाकरण अभियान के तहत जिले में 57 प्रतिशत लक्ष्य हासिल
SOLAN-13.09.17-मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आर.के. दरोच ने कहा कि सोलन जिले में खसरा तथा रूबैला टीकाकरण अभियान के अंतर्गत अभी तक 57 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त किया गया है। 
डॉ. आरके दरोच ने कहा कि जिले में 2,07,933 बच्चों को खसरा तथा रूबैला का टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिले में अभी तक 1,17,474 बच्चों का टीकाकरण किया गया है। उन्होंने कहा कि अभियान सफलतापूर्वक कार्यान्वित किया जा रहा है तथा निर्धारित समयावधि में शत प्रतिशत लक्ष्य हासिल कर लिया जाएगा। 
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि खसरा-रूबैला टीकाकरण अभियान के तहत 9 माह से 15 वर्ष तक के सभी बच्चों का टीकाकरण किया जाना है। इसके लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की टीमें सभी विद्यालयों में अभियान चला रही है। स्कूल न जाने वाले बच्चों को यह टीका स्वास्थ्य संस्थानों में लगाया जा रहा है। 
उन्होंने कहा कि अभियान के अंतर्गत अभी तक 1034 विद्यालयों के 1,00,078 स्कूली बच्चों का टीकाकरण किया गया है। 
उन्होंने कहा कि अभियान को सफल बनाने के लिए जिले के सभी स्वास्थ्य कार्यकर्ता, स्वास्थ्य पर्यवेक्षक, चिकित्सा अधिकारी एवं खण्ड चिकित्सा अधिकारी नियमित रूप से विभिन्न क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। जिले के सभी दुर्गम क्षेत्रों में भी टीकाकरण अभियान को सफल बनाया जा रहा है। 
डॉ. आरके दरोच ने अभिभावकों से आग्रह किया कि वे अपने बच्चों को रूबैला तथा खसरा का टीका अवश्य लगवाएं। इस संबंध में समस्या एवं जानकारी के लिए समीप के स्वास्थ्य केन्द्र अथवा क्षेत्रीय अस्पताल सोलन से सम्पर्क किया जा सकता है। 
==============================================
5,28,674 किसानों को मिट्टी स्वास्थ्य जांच कार्ड वितरित
सोलन-दिनांक 13.09.2017-वर्तमान प्रदेश सरकार के पौने पांच वर्षों के कार्यकाल में प्रदेश के 5,28,674 किसानों को मिट्टी स्वास्थ्य जांच कार्ड वितरित किए गए हैं ताकि मिट्टी के अनुसार किसान फसल उगाकर अधिक से अधिक लाभ प्राप्त कर सकें। यह जानकारी आज सोलन में सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के कलाकारों द्वारा विशेष प्रचार अभियान के तीसरे चरण में प्रदान की गई। कलाकारों ने बाईपास सोलन, धर्मपुर तथा कुम्हारहट्टी में लोगों को विभिन्न माध्यमों तथा विशेष मल्टीमीडिया मोबाईल वैन द्वारा कल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों की विस्तृत जानकारी प्रदान की। 
लोगों को बताया गया कि हिमाचल प्रदेश जैसे कृषि प्रधान राज्य में प्रदेश सरकार ने अभी तक किसानों को 7,14,221 किसान क्रेडिट कार्ड वितरित किए हैं। कृषि विविधिकरण परियोजना के तहत 212 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं। प्रदेश सरकार यह सुनिश्चित बना रही है कि पॉलीहाऊस एवं बेमौसमी सब्जियों के उत्पादन से किसानों की आय में आशातीत वृद्धि हो सके। सोलन जिले में भी गत पौने पांच वर्षों में कृषि विकास गतिविधियों पर 44 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं। जिले के 34,806 किसानों को मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड वितरित किए गए हैं। 
कलाकारों ने लोगों को बताया कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने अपने इस कार्यकाल में 2,317 किलोमीटर लम्बी नई सड़कों व 215 पुलों का निर्माण कर 864 गांवों को सड़कों से जोड़ा है। यह सुनिश्चित बनाया जा रहा है कि प्रदेश के सभी गांवों को सम्पर्क सुविधा मिल सके। इस समयावधि में सोलन जिले में 191 किलोमीटर नई सड़कों के निर्माण पर 215 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। 
लोगों को जानकारी दी गई कि प्रदेश सरकार ने पौने पांच वर्ष के अपने कार्यकाल में 230 से अधिक नए स्वास्थ्य संस्थान खोले हैं। 1,485 नए स्कूल खोले अथवा स्तरोन्नत किए गए हैं। इस दौरान प्रदेश में 54 नए डिग्री कॉलेज खोले गए हैं तथा 6 का अधिग्रहण किया गया है। प्रदेश सरकार का उद्देश्य छात्रों विशेषकर लड़कियों को उनके घर-द्वार के समीप बेहतर शिक्षा उपलब्ध करवाना है। सोलन जिले में भी इस दौरान 30 स्कूलों को स्तरोन्नत कर वरिष्ठ माध्यमिक तथा 38 स्कूलों को स्तरोन्न कर उच्च पाठशाला बनाया गया है। जिले में वर्तमान सरकार ने धर्मपुर, कण्डाघाट, बरोटीवाला, दिग्गल, जयनगर तथा दाड़लाघाट में नए डिग्री कॉलेज आरम्भ किए हैं। 
लोगों को बताया गया कि प्रदेश सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पैंशन को 450 रुपये से बढ़ाकर 700 रुपये मासिक किया है। वर्तमान में लगभग 3 लाख 90 हजार वृद्ध, विधवा एवं दिव्यांगों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन प्रदान की जा रही है। सोलन जिले में भी 20,114 पात्र व्यक्तियों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन दी जा रही है। अभी तक जिले में सामाजिक सुरक्षा पैंशन पर लगभग 49 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं।
कलाकारों ने लोगों को विभिन्न योजनाओं के लाभ के संबंध में कागजी कार्रवाई की भी विस्तृत जानकारी प्रदान की। लोगों को बताया गया कि सही समय पर योजनाओं के लाभ न मिलने पर जिले के उपायुक्त, संबंधित उपमण्डलाधिकारी अथवा संबंधित विभाग के उच्च अधिकारी को शिकायत की जा सकती है। 
सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के कलाकारों ने अभियान के तीसरे चरण के दौरान गत दिवस वाकनाघाट, कण्डाघाट, चम्बाघाट तथा नया बस अड्डा सोलन में योजनाओं की जानकारी दी। 
=============================================
NEWS FROM HAMIRPUR
चुनाव प्रक्रिया के बारे में दी जानकारी   
   हमीरपुर, 13 सितंबर। हमीरपुर जिला में विधानसभा निर्वाचन-2017 के तहत पांचों निर्वाचन क्षेत्रों हमीरपुर, नादौन, बड़सर, सुजानपुर तथा भोरंज के लिए गठित निर्वाचन व्यय निगरानी कमेटियों के पदाधिकारियों के लिए बचत भवन में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। यह जानकारी तहसीलदार निर्वाचन उपेंद्र शुक्ला ने देते हुए बताया कि कार्यशाला में कमेटियों के पदाधिकारियों को चुनावी प्रक्रिया के दौरान प्रत्याशियों के खर्चों पर निगरानी रखने के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। इस कार्यशाला में पांचों निर्वाचन क्षेत्रों के रिटर्निंग ऑफिसर भी उपस्थित रहे।
==============================================
खरबाड़ में प्रेम कौशल की अध्यक्षता में जागरूकता शिविर आयोजित
किसानों को उत्पादन उपरांत सब्जियों और फलों के  बेहतर विपणन की दी जानकारी
हमीरपुर, 13 सितम्बर।  कृषि उपज मण्डी समिति हमीरपुर द्वारा भारत सरकार के सौजन्य से किसानों और बागवानों को उत्पादन उपरांत सब्जियों और फलों के  बेहतर विपणन, रख-रखाब, पेकिंग व ग्रेडिंग की जानकारी देने के उद्देश्य से बुधवार को भोरंज विकास खण्ड के खरबाड़  में कृषि उपज मण्डी समिति के अध्यक्ष प्रेम कौशल की अध्यक्षता मेंं एक दिवसीय जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें 100 से ज्यादा किसानों, बागवानों और पशुपालकों ने भाग लिया। जागरूकता शिविर को संबोधित करते हुए प्रेम कौशल ने कहा कि हमीरपुर जिला में किसानों और बागवानों को कम उपज से उत्पादन उपरांत उनके विपणन की समस्या आती है। उन्होंने कहा कि इसके लिए किसान सहकारिता के माध्यम से समूह में कृषि उपज का विपणन करें।
उन्होंने कहा कि बच्चों को शिक्षा के साथ-साथ  खेतीबाड़ी व पशु पालन व्यवसाय के बारे में जागरूक करें। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए आधुनिक तकनीक से खेतीवाड़ी करने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि किसान फसलों की पैदावार में बढ़ोतरी लाने के लिए जैविक खेती को अपनाएं। 
उन्होंने कहा कि समय-समय पर किसानों, बागवानों तथा पशु पालकों को जागरूक करने के लिये जागरूकता शिविरों का आयोजन किया जा रहा है और आगे भी दूर-दराज ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे ही जागरूकता शिविरों का आयोजन किया जाएगा ताकि किसान नई-नई जानकारियों हासिल कर लाभान्वित हो सकें।   उन्होंने किसानों को  इन शिविरों में बढ़चढ़ कर भाग लेने के लिये कहा।   
इस मौक पर एपीएमसी के सचिव अनिल चौहान ने किसानों और बागवानों को उत्पादन उपरांत सब्जियों और फलों के  बेहतर विपणन, रख-रखाब, पेकिंग व ग्रेडिंग की विस्तृत जानकारी दी। पशु पालन विभाग के डॉ संदीप शर्मा ने पशुओं में होने वाली  बिमारियों की रोकथाम तथा उनके रख-रखाव एवं सामान्य देखभाल,  उद्यान विभाग के एसएमएस प्रीतम सिंह और कृषि प्रसार अधिकारी राज कुमार ने अपने-अपने विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी।
इस मौके पर उप प्रधान ग्राम पंचायत खरबाड़ हेमराज, पूर्व प्रधान जमना देवी, समीति सदस्य त्रिलोक चंद ठाकुर, पूर्व समिति सदस्य शुशीला, राकेश गोल्डी, अमर चंद, निर्मला देवी सहित किसान और बागवान उपस्थित थे।