Chandigarh,02.12.19,प्राचीन कला केन्द्र एवं नाॅर्थ जोन कल्चरल सेंटर के तत्वाधान से कत्थक नृत्य नाटिका जोधा की खूबसूरत प्रस्तुति शोभानीया कला केन्द्र लुधियाना द्वारा कत्थक नृत्यांगना पूर्वा के निर्देशन में उनके समूह द्वारा पेश की गई । कार्यक्रम का आयोजन टैगोर थियेटर में सायं 6:30 बजे से किया गया । इस कार्यक्रम में केन्द्र की रजिस्ट्ार डाॅ.शोभा कौसर,सचिव श्री सजल कौसर एवं नाॅर्थ जोन कल्चरल सेंटर के निदेशक प्रोफैसर सौभाग्य वर्धन भी उपस्थित थे । इस कार्यक्रम में लगभग 70 कलाकारों ने भाग लिया ।

पारम्परिक द्वीप प्रज्वलन के पश्चात सबसे पहले माॅं से कार्यक्रम की शुरूआत की गई । जिसमें माॅं एवं माॅं के निस्वार्थ प्रेम की महिमा का बखान नृत्य के माध्यम से किया गया । इसके पश्चात शिव स्तुति पेश की गई जिसमें शिव कैलाश एवं शिव तराना प्रस्तुत किया गया । इस भक्तिमयी प्रस्तुति के पश्चात नृत्य नाटिका जोद्धा पेश की गई । जिसमें खूबसूरत एवं बहादुर रानी जोद्धा बाई के व्यक्तित्व एवं विचारधारा के रूप में प्रस्तुत किया गया । इस नृत्य नाटिका के माध्यम से पूर्वा ने समाज में नारीवाद के विचारों का पक्ष रखने वाले समाज की नारी के उस रूप से मिलवाया जहां पुराने समय में नारी ने बहुत बहादुरी एवं संयम से अपना पक्ष रखकर अपनी मर्यादा में रहकर स्त्रीत्व की गरिमा का परिचय दिया । इस नृत्य नाटिका में रानी जोद्धा बाई के खूबसूरत व्यक्तित्व का कत्थक नृत्य के माध्यम से प्रस्तुतिकरण बेहद खूबसूरती से पेश किया गया। ऐसे नृत्य नाटिकाओं के माध्यम से समाज को जगाने की एक भरपूर कोशिश करने के लिए पूर्वा के सफल निर्देशन एवं रचनात्मक कार्यशैली बधाई के पात्र हैं ।

इस कार्यक्रम में पूर्वा के साथ तबले पर जयंत पटनायक ,कीबोर्ड पर चेतन दिलदार, गायन पर मोहन साहिल और महक, नगाडा पर रिषभ शर्मा,ताईको ड्म जतिन बाली,पाश्र्व गायन अक्षय भाटिया और राहुल गुरू, लाईट व्यवस्था बाबिक नाहर और साउंड सिस्टम सेलेश कनोजिया ने बखूबी संगत की ।

कार्यक्रम के अंत में सभी कलाकारों को सम्मानित किया गया ।