अशोक अरोड़ा एक बार फिर इनेलो प्रदेशाध्यक्ष बनाए गए हैं।
चंडीगढ़, 12 अक्तूबर: इंडियन नेशनल लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने राज्य पार्टी के नए पदाधिकारियों की भी घोषणा कर दी है। अशोक अरोड़ा एक बार फिर इनेलो प्रदेशाध्यक्ष बनाए गए हैं।
विधायक जसविंदर सिंह संध, सतवीर वर्मा, ओमप्रकाश माटा, राजिंद्र बिसला पूर्व विधायक और चौधरी सुनील यादव को उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। डॉ. अजय सिंह चौटाला प्रदेश के सेक्रेटरी जनरल के पद पर बने रहेंगे जबकि रामकुमार सैनी भूतपूर्व विधायक, वेद नारंग विधायक, बूटा सिंह लुक्खी और ईश्वर पलाका जनरल सेक्रेटरी नियुक्त किए गए हैं। सेक्रेटरी के पदों पर बलदेव सिंह घनघस, रामकुमार ऐबला और महेंद्र सिंह चौहान नियुक्त किए गए हैं। भूतपूर्व विधायक रामपाल माजरा को संगठन सचिव बनाया गया है।
राज्य प्रवक्ता का कार्यभार प्रवीण आत्रेय और प्रचार सचिव का पदभार राजकुमार रिढाऊ को दिया गया है। भूतपूर्व मंत्री सुभाष गोयल खजांची के पद पर होंगे जबकि नीति और कार्यक्रम कमेटी के अध्यक्ष ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) ओपी चौधरी होंगे। शेर सिंह बडशामी भूतपूर्व विधायक अनुशासनात्मक कार्रवाई समिति के अध्यक्ष होंगे। स. नच्छत्र सिंह मल्हान कार्यालय सचिव और मुख्य मीडिया को-आर्डिनेटर प्रो. हरबंस सिंह होंगे।
चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने पॉलिटिकल अफेयर कमेटी के सदस्यों के नामों की भी घोषणा की है। यह इस प्रकार हैं- इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, पूर्व एमपी डॉ. अजय सिंह चौटाला, नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला, पूर्व विधायक शेर सिंह बडशामी, विधायक जसविंदर सिंह संधू, पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत, पूर्व मंत्री सुभाष गोयल, पूर्व विधायक मोहम्मद इलियास, डॉ. रामकुमार जांगड़ा, पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी, एमएस मलिक (रिटायर्ड डीजीपी), आरएस चौधरी (रिटायर्ड आईएएस), बीडी ढालिया (रिटायर्ड आईएएस), पूर्व विधायक रामपाल माजरा, बनारसी दास, पूर्व विधायिका श्रीमती सरोज मोर, अश्विनी दत्ता और ब्रिगेडियर ओपी चौधरी।
=============================================
नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने आज मंडियों में पड़ी जीरी की फसल बाबत किसानों की सुध ली। चंडीगढ़, 12 अक्तूबर: नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने आज मंडियों में पड़ी जीरी की फसल बाबत किसानों की सुध ली। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष आज शाहबाद मंडी पहुंचे और उन्होंने वहां जिन किसानों की जीरी की फसल मंडी में पड़ी है, उनसे हालचाल जाना। किसान हताश दिखे और बताया कि प्रदेश सरकार हमारी फसलों में नमी बताकर उचित दाम नहीं दे रही।
नेता प्रतिपक्ष ने सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि मंडियों में फसलों के रख-रखाव के लिए शैड आदि की व्यवस्था नहीं है जिस वजह से किसानों की फसल भीग जाती है और उन्हें उचित मूल्य नहीं मिल पाता। उन्होंने खेद व्यक्त किया कि पहले तो लाखों किसानों की फसल मौसम की मार से बर्बाद हो चुकी है, दूसरा प्रदेश सरकार फसलों में नमी के नाम पर किसानों को लूट रही है। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा सरकार की नीतियां किसान और कमेरे वर्ग के आर्थिक आधार को कमजोर करने वाली हैं जिसके कारण आज प्रदेश का किसान कर्ज की मार झेल रहा है।