चंडीगढ़, 20 नवंबर- हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने कहा कि मानव सेवा ही सबसे श्रेष्ठ सेवा है। मानवता की सेवा नर-नारायण की सेवा के बराबर है। ऐसी सेवा में धर्म और कर्तव्य दोनो की झलक मिलती है।
श्री आर्य आज 25वीं राज्य स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता के समापन अवसर पर यदुवंशी शिक्षा निकेतन पटीकरा (नारनौल) में प्रतिभागी व उपस्थित जनसमूह को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने प्रतियोगिता की विजेता टीमों को पारितोषिक वितरित किए। राज्यपाल ने समारोह के आयोजन के लिए अपने फंड से 5 लाख रुपये देने की घोषणा भी की।
इस सफल आयोजन पर सेंट जॉन एंबुलेंस विंग हरियाणा व जिला प्रशासन के अधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि यह संस्था किसी भी प्रकार की आपदा की स्थिति से निपटने के लिए सबसे आगे रहती है। उन्होंने केरल में बाढ़ के कारण हुई तबाही के दौरान रेडक्रॉस द्वारा की गई सेवाओं के लिए भी संस्था की पीठ थपथपाई।
राज्यपाल ने देश के युवाओं से आह्वान किया कि वे देश की तरक्की में मिल-जुलकर काम करें। युवा ही असली ताकत होते हैं और युवा शक्ति के बिना किसी भी देश की तरक्की संभव नहीं होती। युवाओं को अगर इसी प्रकार से सकारात्मक कार्यों से जोड़ा जाए तो वे हर असंभव काम को संभव कर सकने की क्षमता रखते हैं।
श्री आर्य ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री की अगुवाई में देश ने तेजी से तरक्की की है वहीं पर राज्य में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा ने विकास की नई ऊंचाइयों को छुआ है। राज्यपाल ने प्रधानमंत्री के बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के नारे का उल्लेख करते हुए कहा कि इस अभियान के बाद बेटियों के प्रति समाज की सोच बदली है। उसी का नतीजा है कि हमारी बेटियां आज विभिन्न क्षेत्रों में नए आयाम स्थापित कर रही हैं। इतना ही नहीं अब देश की बेटियां सैनिक बनकर भी अपने शौर्य का परिचय दे रही हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री के स्वच्छता के अभियान को भी लगातार जन आंदोलन के रूप में चलाए रखने का आह्वान किया।
इस राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में प्रदेश की 115 टीमों के 670 प्रतिभागियों ने भाग लिया जिसमें प्रदेश के युवाओं का आपदा के दौरान एक तरह से रियलिटी टेस्ट हुआ। समापन समारोह में आपदा के दौरान घायलों को मदद करने का एक डेमो भी विद्यार्थियों द्वारा दिखाया गया। इस अवसर पर उन्होंने सेंट जॉन का झंडा फहराया तथा बिग्रेड टीमों की मार्च पास्ट की सलामी ली तथा परेड का निरीक्षण भी किया। समारोह में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया जिसमें 27 यूनिट एकत्रित की गई।