धर्मशाला, 19 सितंबर: जिलाधीश संदीप कुमार ने बुधवार को यहां सफाई कर्मचारी यूनियनों के प्रतिनिधियों एवं सफाई कर्मियों के साथ आयोजित बैठक में स्थितियों में सकारात्मक बदलाव के लिए शिक्षा के महत्व पर जोर देते हुए आग्रह किया कि वाल्मीकि समाज के लोग अपने बच्चों को अधिक से अधिक पढ़ाएं। शिक्षा से ही उनका जीवन स्तर ऊंचा उठ सकता है। उन्होंने सफाई कर्मियों से आग्रह किया कि वे अपने बच्चों को अन्य काम धंधों के लिए प्रोत्साहित करें। सरकार ने उनके कल्याण के लिए अनेक योजनाएं चलाई हैं। उच्च शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता देने के अलावा अपना कारोबार शुरू करने के लिए निशुल्क प्रशिक्षण एवं सस्ती दरों पर ऋण सुविधा का प्रावधान है, वे सभी इन योजनाओं का लाभ लें।
उन्होंने सफाई कर्मचारी यूनियनों के प्रतिनिधियों से भी आग्रह किया कि वे अपने समुदाय के युवाओं को प्रोत्साहित करें। स्वयं भी योजनाओं की जानकारी लेकर उन्हें जागरूक करें। प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना एवं मुख्यमंत्री युवा आजीविका योजना जैसी अनेक योजनाएं युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करने को चलाई हैं। इसके अलावा हि.प्र. अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनताति विकास निगम की शिक्षा और स्वरोजगार में सहायता की अनेक योजनाएं हैं, उनका पूरा फायदा उठाएं।
उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को सफाई कर्मचारियों के बच्चों के मार्गदर्शन के लिए विशेष प्रयास करने के निर्देश दिए।
इस मौके संदीप कुमार ने गत दिनों राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य जगदीश हीरेमनी की धर्मशाला में सफाई कर्मचारियों की समस्याओं को लेकर जिला के अधिकारियों और सफाई कर्मचारी यूनियनों के प्रतिनिधियों के हुई बैठक में रखी गई समस्याओं के समाधान को लेकर विचार- विमर्श किया। बैठक में सफाई कर्मचारियों की कार्य के दौरान सुरक्षा, स्वास्थ्य, आवास व्यवस्था, हिमाचली बोनाफाईड, शिक्षा और अन्य व्यवसायों में रोजगार के अवसरों की संभावना पर विस्तार से चर्चा हुई।
इस दौरान सफाई कर्मचारी यूनियनों के प्रतिनिधियों ने उन्हें सफाई कर्मचारियों की समस्याओं और मांगों से अवगत करवाया।
संदीप कुमार ने नगर निगम के अधिकारियों को सफाई कर्मचारियों को न्यूनतम भत्तों की समय पर अदायगी तय करवाने एवं सफाई कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए सफाई के लिए सभी आवश्यक संसाधन एवं उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित बनाने को कहा। इस दौरान कर्मचारियों के बीमा तथा ऋण योजनाओं को लेकर भी चर्चा की गई।
उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को सफाई कर्मचारियों के स्वास्थ्य जांच एवं जागरूकता के लिए विशेष शिविर लगाने को कहा।
इस मौके अतिरिक्त जिलादंडाधिकारी एमआर भारद्वाज ने बैठक का संचालन किया। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन सफाई कर्मचारियों के हितों से जुड़े मामलों को प्राथमिकता पर निपटाएगा। उन्होंने भरोसा दिलाया कि सफाई कर्मचारियों के हितों की सुरक्षा मे कोई कोई कोर कसर बाकी नहीं रखी जाएगी।
बैठक में नगर निगम धर्मशाला के अतिरिक्त आयुक्त प्रभात कुमार ने सफाई कर्मचारी यूनियनों के प्रतिनिधियों एवं सफाई कर्मियों से नगर की सफाई व्यवस्था के लिए किए जा रहे नए टेंडर के लिए सुझाव देने को कहा। उन्होंने बताया कि जल्द ही नए टेंडर मंगवाने की प्रक्रिया आरंभ की जाएगी।
.0.