सोलन-दिनांक 22.04.2018-सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा सहकारिता मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने कहा कि खेल शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं और सभी को अपनी दिनचर्या में से कुछ समय खेल एवं व्यायाम के लिए सुरक्षित रखना चाहिए। डॉ. सैजल आज सोलन जिले के कुमारहट्टी में प्रथम ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ टेबल टेनिस प्रतियोगिता-2018 के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस तीन दिवसीय प्रतियोगिता का आयोजन हिमाचल प्रदेश टेबल टेनिस संघ द्वारा केंद्रीय युवा सेवाएं एवं खेल मंत्रालय के तत्वावधान में किया गया।
प्रतियोगिता में 8 राज्यों की टीमों ने भाग लिया।  
डॉ. सैजल ने कहा कि शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य देश एवं प्रदेश के विकास में योगदान देने के लिए आवश्यक है। उन्होंने कहा कि आज विश्व में भारत को युवा देश के रूप में जाना जाता है। हमारी प्रतिभाएं अंतर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय स्तर पर अपनी कार्य कुशलता एवं कर्मठता का लोहा मनवा रही हैं। हाल ही में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में भारत तीसरे स्थान पर रहा है। इन खेलों में हिमाचल के खिलाडि़यों ने भी श्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि खेल आज एक स्थापित व्यवसाय के रूप में उभर रहे हैं। 
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए युवाओं के समग्र विकास पर केंद्र सरकार विशेष ध्यान दे रही है। केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवधर्न सिंह राठौर स्वयं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के निशानेबाज रहे हैं और उनकी अगुवाई में देश की प्रतिभाएं विश्व खेल पटल पर बेहतरीन प्रदर्शन कर रही हैं। केंद्र सरकार द्वारा आगामी अतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं को ध्यान में रखकर तैयारी की जा रही है और देश के सभी राज्यों के खिलाडि़यों को श्रेष्ठ सुविधाएं एवं अधोसंरचना उपलब्ध करवाने पर बल दिया जा रहा है। 
सहकारिता मंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार बेहतर खेलकूद अधोसंरचना उपलब्ध करवाने के लिए प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री खेल विकास योजना के तहत राज्य सरकार प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक खेल मैदान विकसित करेगी। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए 6.80 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
डॉ. सैजल ने इस अवसर पर प्रतियोगिता के विजेताओं को सम्मानित भी किया। 
लड़कियों की टीम प्रतिस्पर्धा में तमिलनाडु तथा जम्मू-कश्मीर राज्य की टीम पहले, पंजाब तथा आंध्र प्रदेश की टीम दूसरे तथा उत्तराखंड एवं हिमाचल प्रदेश की टीम तीसरे स्थान पर रही। लड़कों की टीम प्रतिस्पर्धा में तमिलनाडु तथा जम्मू-कश्मीर राज्य की टीम प्रथम, कर्नाटक तथा उत्तराखंड की टीम द्वितीय एवं पंजाब, आंध्र प्रदेश तथा हिमाचल प्रदेश की टीम संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर रही।
हिमाचल प्रदेश टेबल टेनिस संघ के सचिव यशपाल राणा ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा प्रतियोगिता की विस्तृत जानकारी प्रदान की। 
हिमाचल प्रदेश टेबल टेनिस संघ के अध्यक्ष हतिन्द्र सिंह पंवर ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।
इस अवसर पर ग्राम पंचायत चेवा की प्रधान चित्रलेखा, उपप्रधान मुकेश ठाकुर, हिमाचल प्रदेश टेबल टेनिस संघ के उपाध्यक्ष प्रबोध घोष, सचिव भानू शर्मा, अन्य पदाधिकारी एवं सदस्य, वरिष्ठ अधिकारी एवं गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
==============================================
 सोलन -दिनांक 22.04.2018
प्रदेश में पीएमजीएसवाई के तहत अब तक 2919 करोड़ खर्च-डॉ. सैजल
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा सहकारिता मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने कहा कि केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) हिमाचल प्रदेश के लिए अत्यंत लाभदायक सिद्ध हुई है। हिमाचल में इस योजना के तहत 2919 करोड़ रुपये खर्च कर 2238 किलेामीटर लंबी सड़कें निर्मित की गई हैं। डॉ. सैजल आज सोलन जिले के कसौली विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत बोहली में मशोण गांव के लिए संपर्क मार्ग का लोकार्पण करने के उपरांत उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। 
इस संपर्क मार्ग के निर्माण पर 1.30 लाख रुपये खर्च हुए हैं।
डॉ. सैजल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश जैसे पहाड़ी राज्य में सड़कें विकास के लाभ जन-जन तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने सदैव सड़कों के महत्व को समझा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में वर्तमान सरकार बेहतर सड़कें गांव-गांव तक पहुंचाने के लिए कृतसंकल्प है।  उन्होंने कहा कि सड़कों की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री कार्यालय के अधीन एक स्वतंत्र गुणवत्ता परीक्षण दल गठित करेगी। यह दल विभिन्न निर्माण कार्यों का औचक निरीक्षण कर रिपोर्ट सीधे मुख्यमंत्री कार्यालय को प्रेषित करेगा।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में दुर्घटनाएं रोकने के लिए वर्तमान प्रदेश सरकार उचित कदम उठा रही है। इस वर्ष दुर्घटना संभावित स्थलांे पर निर्देशिका पट्टा, रेलिंग इत्यादि लगाने पर 50 करोड़ रुपये व्यय होंगे। 
डॉ. सैजल ने इस अवसर पर स्थानीय प्राचीन मंदिर में पूर्जा-अचर्ना की और सभी की समृद्धि एवं शांति की कामना की। 
उन्होंने जन समस्याएं सुनीं और अधिकारियों को इनके समाधान के निर्देश दिए। 
ग्राम पंचायत बोहली की प्रधान कमलेश, उपप्रधान भीम सिंह, भाजपा नेता यशपाल, प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटेड के अधिशासी अभियंता सीएस चावला, भारतीय जनता पार्टी के अन्य पदाधिकारी, जिला के विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी, गणमान्य व्यक्ति तथा ग्रामवासी इस अवसर पर उपस्थित थे। 
.0.