धर्मशाला, 21 सितम्बर: शहरी विकास आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा ने कहा कि धर्मशाला के प्रत्येक नागरिक के जीवन स्तर में सुधार और समृद्धि लाना उनका ध्येय है। वे धर्मशाला क्षेत्र के लिए स्वीकृत योजनाओं को प्रभावी तरीके से लागू करने और लगातार नई परियोजनाएं लाने में जुटे हैं। उन्होंने धर्मशाला में तीन बहाव सिंचाई कुहलों की आधारशिला रखते हुए यह बात कही।
चरान, दुदली और लोअर सुक्कड़ कुहल की रखी आधारशिला
इस दौरान सुधीर शर्मा ने 1.50 करोड़ रुपए से बनने वाली तीन बहाव सिंचाई कुहलों चरान, दुदली और लोअर सुक्कड़ की आधरशिलाएं रखीं।
उन्होंने कहा कि 37.26 लाख रुपये से निर्मित होने वाली 1090 मीटर लम्बी चरान कुहल के बनने से दाड़ी व बड़ोल क्षेत्र की 15 हैक्टेयर से अधिक भूमि सिंचित होगी।
इसके उपरांत उन्होंने दाड़ी में 58.88 लाख रुपये की लागत से बनने वाली दुंदी कुहल का शिलान्यास करते हुए कहा कि 1720 मीटर लम्बी इस कुहल के बनने से बड़ोल और सकोह की 25 हैक्टेयर भूमि में सिंचाई की बेहतर सुविधायें उपलब्ध होंगी। इसके उपरांत सुधीर शर्मा ने सुक्कड़ में 53.62 लाख रुपये की लागत से बनने वाली 1590 मीटर लम्बी लोअर सुक्कड़ कुहल की आधारशिला रखी ।
 इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री ने कहा कि धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के किसानों-बागवानों को खेतीबाड़ी हेतु बेहतर सिंचाई सुविधा के लिए लगभग 6.50 करोड़ रुपए की नई सिंचाई योजना मंजूर की गई है। इस योजना से क्षेत्र के 16 गांवों को लोग सीधे तौर पर लाभान्वित होंगे।
उन्होंने कहा कि यह योजना धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के लिए आजादी के बाद से अब तक के पिछले सात दशकों की सबसे बड़ी सिंचाई योजना है। उन्होंने कहा कि इन सरकारी कुहलों से कुहलों के प्रबन्धन जैसी समस्याओं का भी समाधान होगा और सिंचाई की व्यवस्थित सुविधा से बड़ी संख्या में लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा की जल के बेहतर प्रबन्धन के लिये सरकार द्वारा अलग से जलनीति लागू की गई है।

सुक्कड़ स्वास्थ्य उप-केन्द्र का किया उद्घाटन
इसके उपरांत सुधीर शर्मा ने 10 लाख रुपये से बने स्वास्थ्य उप-केन्द्र सुक्कड़ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार स्वास्थ्य क्षेत्र को विशेष प्राथमिकता दे रही है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सूचकांकों की दृष्टि से तुलना की जाए तो हिमाचल प्रदेश देश भर के अग्रणी राज्यों में शामिल है।
छात्र संघ के सांस्कृतिक कार्यक्रम में की शिरकत
ठसके पश्चात शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा ने राजकीय कॉलेज धर्मशाला में खनियारा छात्र संघ द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में शिरकत की। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान करते हुये कहा कि वे प्रतिस्पर्धा के दौर में कड़ी मेहनत कर हर चुनौती का सामना करने के लिए अपने आपको तैयार रखें। उन्होंने कहा कि आज के दौर में वही आगे बढ़ पाएगा, जिसमें प्रतियोगिता की भावना होगी।
सुधीर शर्मा ने विद्यार्थियों से शिक्षा के साथ खेल तथा अन्य गतिविधियों में भी बढ़-चढ़ कर भाग लेने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी सभी गतिविधियों में भाग लेने के साथ-साथ नशे से भी दूर रहें।
शहरी विकास मंत्री ने इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले युवाओं को 20 हजार रुपये देने की घोषणा की। 
सुधीर शर्मा ने सुनी जन समस्यायें
    शहरी विकास मंत्री ने चरान, सुक्कड़, दाड़नू तथा धर्मशाला में लोगों की समस्यायंे सुनीं तथा अधिकांश का मौके पर ही निपटारा कर दिया तथा शेष समस्याओं के समाधान हेतू सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को दिशा निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी आम जनता की समस्याओं का समयबद्ध निपटारा सुनिश्चित करें ताकि आम जनता को परेशानी का सामना न करना पड़े।
    इस अवसर पर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष राकेश धीमान, शहरी कांग्रेस अध्यक्ष आरपी चोपड़ा, शहरी कांग्रेस महासचिव शकुन मनकोटिया, सुक्कड़ के प्रधान ओम बहादुर गुरूंग, पार्षद सविता कार्की, शुभम सूद, अंजू, विमला, स्वर्णा देवी, सरोज गुलेरिया, सुषमा, एसडीएम श्रवण मांटा, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग विजय चौधरी, अधीक्षण अभियंता आईपीएच एलएस ठाकुर, अधिशासी अभियंता एमसी सुशील डढवाल, भू-संरक्षण अधिकारी राहुल कटोच, राजकीय डिग्री कॉलेज के प्राचार्य डॉ0 एसके मेहता, सीएमओ आरएस राणा, समिति अध्यक्ष रविन्द्र कुमार, खनियारा छात्र कल्याण एसोसियेशन के संयोजक अनुज कुमार, नोनी सचदेवा सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।