ग्राम स्वराज की परिकल्पना से ही देश होगा विकसित : कंवर
हमीरपुर में यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम का किया शुभारंभ
प्रोजेक्ट भारत कार्यक्रम की भी हुई लांचिंग
हमीरपुर, 08 अगस्त। ग्राम स्वराज की परिकल्पना से ही देश का विकास संभव है इसलिए वर्तमान की केंद्र तथा प्रदेश सरकार ग्रामीण विकास को प्राथमिकता दे रही है। यह उदगार ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने बुधवार को हमीरपुर के बाईपास में बसंत रिजोर्ट में आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा आयोजित यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम का शुभारंभ करने के उपरांत प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए व्यक्त किए।
इस अवसर पर प्रोजेक्ट भारत कार्यक्रम का भी शुभारंभ किया गया। उन्होंने कहा कि युवाओं राष्ट्रपुनर्निमाण में अहम भूमिका अदा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि गांवों को स्वच्छ तथा स्वस्थ बनाने के लिए अहम कदम उठाए जाने जरूरी हैं।
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने में विशेष कदम उठा रही है लेकिन संस्कारित समाज के निर्माण के लिए लोगों को स्वयं ही कदम उठाने होंगे। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि मोदी सरकार ने 2022 में नए भारत के निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसमें भारत को स्वच्छ बनाने तथा सभी निर्धन तथा गरीब लोगों को आवास सुविधा देने के लिए अभियान आरंभ किया गया है। पंचायती राज मंत्री ने कहा कि आर्ट आफ लिविंग जैसी संस्थाएं समाज निर्माण में अहम भूमिका निभा रही हैं।
इस अवसर पर विधायक नरेंद्र ठाकुर ने कहा कि वर्तमान में व्यस्तताओं के दौर में योग तथा अध्यात्म जरूरी है। उन्होंने कहा कि युवाओं को सामाजिक प्रकल्पों के साथ जोड़कर नशे से दूर रखा जा सकता है। विधायक ने कहा कि आर्ट आफ लिविंग संस्था युवाओं का सही मार्गदर्शन कर रही है। विधायक ने कहा कि यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम को सफल बनाने क लिए हरसंभव मदद दी जाएगी।
इससे पहले प्रोजेक्ट भारत के निर्देशक देव ज्योति ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए कहा कि यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित किए जाएंगे तथा आगामी छह महीनों में हिमाचल के हर गांव से पांच युवक युवतियों को इस कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षित करने का लक्ष्य भी निर्धारित किया गया है।
इस अवसर पर विधायक कमलेश कुमारी, विधायक रवि धीमान, संस्था के प्रदेश अध्यक्ष योगेंद्र योगी, भाजपा के प्रदेश सचिव विजय पाल सोहारू, जिलाध्यक्ष अनिल ठाकुर, नगर परिषद की अध्यक्ष सुलोचना देवी, बीडीसी के उपाध्यक्ष सोनी सहित विभिन्न गणमान्य लोग उपस्थित थे।
===============================================
ग्राम स्वराज की परिकल्पना से ही देश होगा विकसित : कंवर
हमीरपुर में यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम का किया शुभारंभ
प्रोजेक्ट भारत कार्यक्रम की भी हुई लांचिंग
हमीरपुर, 08 अगस्त। ग्राम स्वराज की परिकल्पना से ही देश का विकास संभव है इसलिए वर्तमान की केंद्र तथा प्रदेश सरकार ग्रामीण विकास को प्राथमिकता दे रही है। यह उदगार ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने बुधवार को हमीरपुर के बाईपास में बसंत रिजोर्ट में आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा आयोजित यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम का शुभारंभ करने के उपरांत प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए व्यक्त किए।
इस अवसर पर प्रोजेक्ट भारत कार्यक्रम का भी शुभारंभ किया गया। उन्होंने कहा कि युवाओं राष्ट्रपुनर्निमाण में अहम भूमिका अदा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि गांवों को स्वच्छ तथा स्वस्थ बनाने के लिए अहम कदम उठाए जाने जरूरी हैं।
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने में विशेष कदम उठा रही है लेकिन संस्कारित समाज के निर्माण के लिए लोगों को स्वयं ही कदम उठाने होंगे। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि मोदी सरकार ने 2022 में नए भारत के निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसमें भारत को स्वच्छ बनाने तथा सभी निर्धन तथा गरीब लोगों को आवास सुविधा देने के लिए अभियान आरंभ किया गया है। पंचायती राज मंत्री ने कहा कि आर्ट आफ लिविंग जैसी संस्थाएं समाज निर्माण में अहम भूमिका निभा रही हैं।
इस अवसर पर विधायक नरेंद्र ठाकुर ने कहा कि वर्तमान में व्यस्तताओं के दौर में योग तथा अध्यात्म जरूरी है। उन्होंने कहा कि युवाओं को सामाजिक प्रकल्पों के साथ जोड़कर नशे से दूर रखा जा सकता है। विधायक ने कहा कि आर्ट आफ लिविंग संस्था युवाओं का सही मार्गदर्शन कर रही है। विधायक ने कहा कि यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम को सफल बनाने क लिए हरसंभव मदद दी जाएगी।
इससे पहले प्रोजेक्ट भारत के निर्देशक देव ज्योति ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए कहा कि यूथ लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित किए जाएंगे तथा आगामी छह महीनों में हिमाचल के हर गांव से पांच युवक युवतियों को इस कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षित करने का लक्ष्य भी निर्धारित किया गया है।
इस अवसर पर विधायक कमलेश कुमारी, विधायक रवि धीमान, संस्था के प्रदेश अध्यक्ष योगेंद्र योगी, भाजपा के प्रदेश सचिव विजय पाल सोहारू, जिलाध्यक्ष अनिल ठाकुर, नगर परिषद की अध्यक्ष सुलोचना देवी, बीडीसी के उपाध्यक्ष सोनी सहित विभिन्न गणमान्य लोग उपस्थित थे।
=========================================================================================
सोलन-दिनांक 08.08.2018
नशामुक्त हिमाचल का संकल्प लें युवा-डॉ. राजीव बिंदल
ममलीग में तीन दिवसीय खेल प्रतियोगिता का किया शुभारंभ
हिमाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने छात्रों का आह्वान किया है कि नशा मुक्त हिमाचल की परिकल्पना को साकार करें और न तो स्वयं नशा करें तथा न ही अपने किसी साथी को नशा करने दें। डॉ. बिंदल आज सोलन जिले के कंडाघाट उपमंडल की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ममलीग में 19 वर्ष से कम आयु वर्ग के छात्रों की तीन दिवसीय खेल प्रतियोगिता का शुभारंभ करने के उपरांत उपस्थित छात्रों, अध्यापकों एवं अन्य को संबोधित कर रहे थे।
तीन दिवसीय इस खेल प्रतियगिता में कंडाघाट आंचल के 25 विद्यालयों के 385 छात्र भाग के रहे हैं। वॉलीबाल, कबड्डी खो-खो, बैडमिंटन, कुश्ती सहित मार्च पास्ट की विजेता टीमें 23-25 अगस्त, 2018 तक नालागढ़ के खेड़ा नैनवाल में आयोजित जिला स्तर की प्रतियोगिता में भाग लेंगी।
डॉ. बिंदल ने इस अवसर पर उपस्थित छात्रों एवं अन्य को ‘नशीली दवाओं को कहें न’ की शपथ दिलवाई। उन्होंने कहा कि नशामुक्त हिमाचल युवा वर्ग एवं छात्रों के सहयोग से ही बन सकता है। छात्रों को नशे को न कहने का संकल्प जीवनभर निभाना होगा। उन्होंने छात्रों से आग्रह किया कि वे समाज हित में सदैव तत्पर रहें और सकाात्मक कार्यों में समाज को सहयोग दें।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि खेल जीवन का अभिन्न अंग होना चाहिए। खेलना जीतने से अधिक महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि ऐसी प्रतियोगिताओं में भाग लेकर युवा जहां जीवन के संघर्ष को सीखते हैं वहीं सामुदायिक रूप से रहकर भविष्य की चुनौतियों से लड़ने में भी सक्षम बनते हैं। स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि ‘सफलता एवं एकाग्रता के लिए सभी खेलें’। उन्हांेने छात्रों से आग्रह किया कि स्वामी विवेकानंद के दिखाए मार्ग पर चलें तथा अपनी असीमित ऊर्जा को देश तथा प्रदेश हित में लगाएं।
डॉ. बिंदल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आज भारत विश्व पटल पर हर क्षेत्री में सर्वोच्च स्थान पर स्थापित हो रहा है। युवाओं को प्रधानमंत्री से स्वच्छता एवं स्वास्थ्य की सीख लेनी होगी। युवा न केवल देश व प्रदेश को स्वच्छ बना सकते हैं अपितु सभी को स्वस्थ रखने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ममलीग में पेयजल की समस्या के निदान के लिए शीघ्र ही 50 हजार रुपये उपायुक्त सोलन के माध्यम से उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि ममलीग में पार्किंग की समस्या के निदान के लिए संबंधित विभाग को निर्देश दिए जाएंगे। उन्होंने ममलीग बाजार में विभिन्न कार्यों के लिए 2 लाख रुपये उपलब्ध करवाने की घोषणा की। उन्होंने विद्यालय के सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले छात्रों को अपनी ऐच्छिक निधि से 10 हजार रुपये प्रदान करने की घोषणा की।
भाजपा मंडल सोलन के अध्यक्ष रविन्द्र परिहार ने इस अवसर पर कहा कि समूचे क्षेत्र का विकास डॉ. राजीव बिंदल की देन है। उन्होंने ममलीग विद्यालय में कला विषयों के लिए अलग खंड स्थापित करने तथा ममलीग में पार्किंग निर्मित करने की मांग की। उन्होंने कहा कि इस विद्यालय के 72 लाख रुपये की लागत से बनने वाले भवन का शिलान्यास डॉ. राजीव बिंदल द्वारा ही किया गया था। सोलन विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार रहे डॉ. राजेश कश्यप ने भी इस अवसर पर अपने विचार रखे।
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ममलीग के प्रधानाचार्य डॉ. दिनेश ठाकुर ने मुखयतिथि का स्वागत किया।
एडीपीईओ सरला ठाकुर ने प्रतियोगिता की विस्तृत जानकारी प्रदान की।
भाजपा मंडल अध्यक्ष रविंद्र परिहार, सोलन से भाजपा के उम्मीदवार रहे डॉ. राजेश कश्यप, जिला परिषद सदस्य सत्या कौशल, ग्राम पंचायत ममलीग की प्रधान द्रोपदी राठौर, उपप्रधान अजय ठाकुर, विभिन्न पंचायतों के प्रधान, उपप्रधान, पंचायत प्रतिनिधि, बीडीसी कंडाघाट के पूर्व अध्यक्ष नंदराम कश्यप, उपमंडलाधिकारी कंडाघाट डॉ. संजीव धीमान, पुलिस उप अधीक्षक अमित ठाकुर, उपनिदेशक उच्च शिक्षा पूनम सूद, अन्य गणमान्य व्यक्ति, खेल प्रतियोगिताओं के प्रतिभागी, छात्र तथा अध्यापक इस अवसर पर उपस्थित थे।
===============================================
सोलन -दिनांक 08.08.2018
समग्र विकास के लिए सनातन संस्कृति को अपनाना आवश्यक-डॉ. राजीव बिंदल
ममलीग में किया नवनिर्मित गौशाला का लोकार्पण
हिमाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने कहा कि समग्र एवं संतुलित विकास के लिए भारतीय तथा सनातन संस्कृति के मूल तत्वों को अपनाना आवश्यक है। डॉ. बिंदल आज सोलन जिले के कंडाघाट उपमंडल की ग्राम पंचायत ममलीग में मां बगलामुखी गौवंश सेवा समिति ममलीग-सतडोल द्वारा नवनिर्मित गौशाला के लोकार्पण के अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे।
इस गौशाला का निर्माण सतलुज जन विद्युत निगम लिमिटिड के सहयोग से किया गया है। इसके निर्माण पर 23 लाख 8 हजार 80 रूपये व्यय हुए हैं। वर्तमान में इस गौशाला में 30 गाय रखने की व्यवस्था है।
डॉ. बिंदल ने कहा कि भारत की सनातन संस्कृति सभी की सुरक्षा के साथ हरित विकास पर बल देती है। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि विकास के लिए प्रकृति का अनावश्यक दोहन न करें। उन्होंने कहा कि गाय को भारत सहित विभिन्न संस्कृतियों में पूजनीय माना गया है। हम सभी को गाय को बेसहारा न छोड़ने एवं गौरक्षा का संकल्प लेना होगा। उन्होंने ग्रामीणों से आग्रह किया कि गाय को अपने परिवार के सदस्य की तरह रखें और सड़कों पर बेसहारा न छोड़ें।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि गौरक्षा के साथ-साथ हमें वृद्धजनों की सेवा का नियम भी बनाना होगा तथा अपने बुजुर्गों को सहारा देना सीखना होगा। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में पितृ ऋण तथा देव ऋण से उऋण होना अनिवार्य माना गया है। इसके लिए गौरक्षा तथा वृद्ध जनों का आदर सत्कार आवश्यक है।
उन्होंने सभी से आग्रह किया कि देसी गाय पालें तथा शून्य लागत आधारित प्राकृतिक खेती अपनाएं।
डॉ. राजीव बिंदल ने कहा कि प्रदेश की वर्तमान सरकार ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में गौसेवा तथा गौरक्षा के लिए अनिवार्य कानून बनाया है। प्रदेश सरकार ने मंदिरों में चढ़ाए जाने वाले चढ़ावे का 15 प्रतिशत गौसेवा पर व्यय करने का निर्णय लिया है। इस संबंध में विधानसभा द्वारा विधि पारित कर प्रदेश सरकार द्वारा अधिसूचना जारी की जा चुकी है।
उन्होंने इस पुनीत कार्य में सहयोग के लिए एसजेवीएनएल का आभार व्यक्त किया। उन्होंने उपमंडलाधिकारी कंडाघाट को निर्देश दिए कि गौशाला की सुरक्षा के लिए आवश्यक पग उठाए जाएं। उन्होंने गौशाला संचालकों को अपनी ऐच्छिक निधि से 10 हजार रुपये प्रदान करने की घोषणा की। उन्होंने स्थानीय लोगों की मांग पर एसजेवीएन प्रबंधन से गौशाला परिसर को सुरक्षित करने के लिए चार दीवारी लगाने का आग्रह किया। एसजेवीएन प्रबंधन ने डॉ. बिंदल के आग्रह को स्वीकार करते हुए इस कार्य के लिए दूरभाष पर ही 4 लाख रुपये स्वीकृत किए।
उन्होंने इस अवसर पर गौशाला परिसर में जामुन का पौधा भी रोपा।
डॉ. बिंदल ने इस अवसर पर जनसमस्याएं सुनीं और अधिकारियों को इनके त्वरित निपटारे के निर्देश दिए।
भाजपा मंडल सोलन के अध्यक्ष रविंद्र परिहार ने डॉ. राजीव बिंदल का स्वागत किया तथा गौशाला निर्माण की विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने गौशाला परिसर में तेंदुए सहित विभिन्न जंगली जानवरों से सुरक्षा के लिए चार दीवारी निर्मित करने की मांग की। जिला परिषद सदस्य सत्या कौशल ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।
भाजपा मंडल अध्यक्ष रविंद्र परिहार, सोलन से भाजपा के उम्मीदवार रहे डॉ. राजेश कश्यप, जिला परिषद सदस्य सत्या कौशल, ग्राम पंचायत ममलीग की प्रधान द्रोपदी राठौर, उपप्रधान अजय ठाकुर, विभिन्न पंचायतों के प्रधान, उपप्रधान, पंचायत प्रतिनिधि, बीडीसी कंडाघाट के पूर्व अध्यक्ष नंदराम कश्यप, उपमंडलाधिकारी कंडाघाट डॉ. संजीव धीमान, पुलिस उप अधीक्षक अमित ठाकुर, मां बगलामुखी गौवंश सेवा समिति के अध्यक्ष रूपचंद ठाकुर, उपाध्यक्ष देवेंद्र ठाकुर, अन्य सदस्य, प्रदेश विद्युत बोर्ड लिमिटिड के एसडीओ विकास ठाकुर, अन्य विभागों के अधिकारी, गणमान्य व्यक्ति तथा ग्रामवासी इस अवसर पर उपस्थित थे
==============================================
सोलन -दिनांक 08.08.2018
सेब सीजन के दृष्टिगत राष्ट्रीय राजमार्ग को सुचारू रखने के निर्देश
उपायुक्त सोलन विनोद कुमार ने कहा कि वर्तमान सेब सीजन के दृष्टिगत सोलन से परवाणु तक राष्ट्रीय राज मार्ग को आवाजाही के लिए सुचारू रखा जाएगा। उपायुक्त आज यहां सेब सीजन में यातायात व्यवस्था बनाए रखने के संबंध में आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
विनोद कुमार ने कहा कि सेब सीजन के दौरान प्रदेश से बाहर विभिन्न मंडियों में सेब समय पर पहुंचाने के लिए विभिन्न सड़कों का रखरखाव आवश्यक है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन यह सुनिश्चित बनाएगा कि सेब सीजन में सेब ले जाने के लिए प्रयुक्त किए जा रहे वाहन निर्बाध गति से गुजरें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस दौरान यातायात व्यवस्था सुचारू रखने के लिए सभी एहतियाती उपाय अपनाए जाएं।
उपायुक्त ने कहा कि सेब सीजन तथा बारिश के मौसम के दौरान सोलन जिले से होकर गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग एवं अन्य संपर्क मार्गों को सुचारू रखने के लिए लोक निर्माण विभाग को समुचित निर्देश जारी कर दिए गए हैं।
उपायुक्त ने पुलिस प्रशासन को निर्देश दिए कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर अकारण वाहन खड़े करने वालों के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी और यह सुनिश्चित बनाया जाए कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर किसी भी तरह की अमान्य गतिविधि न हो। उन्होंने जिला पर्यटन विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि होटल तथा ढाबा संचालकों से बैठक आयोजित कर उन्हें स्वच्छता के संबंध में जागरूक बनाएं। उन्होंने सभी होटलों तथा ढाबों में समुचित संख्या में कूड़ादान रखने के निर्देश भी दिए।
पुलिस अधीक्षक सोलन मधुसदन शर्मा ने कहा कि पुलिस प्रशासन द्वारा सेब सीजन को सुचारू रखने के लिए व्यापक प्रबंध किए गए हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग पर सभी आवश्यक स्थानों पर समुचित संख्या में यातायात पुलिस कर्मी तैनात रहेंगे। उन्होंने कहा कि ट्रक चालकों द्वारा प्रैशर हॉर्न के प्रयोग पर एक हजार रुपये के चालान का प्रावधान है।
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि यातायात से संबंधित विभिन्न सूचनाएं पर्यटकों तक पहुंचाने के लिए पुलिस प्रशासन एफएम चंडीगढ़, एफएम शिमला तथा एफएम शामती का सहयोग लेगा।
जिला पर्यटन विकास अधिकारी विवेक चौहान, प्रदेश पथ परिवहन निगम के क्षेत्रीय प्रबंधक सुरेश कुमार, यातायात प्रबंधक परवाणू प्रदीप कुमार, उप अधीक्षक यातायात पुलिस चमन लाल, होटल एसोसिएशन चायल के अध्यक्ष देवेंद्र वर्मा, अजय अग्रवाल, सुरेंद्र कुमार वर्मा, विजय वर्मा, रमिंद्र बावा, इंद्रराज, जगमोहन ठाकुर, अनिल ठाकुर, सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।
==============================================

“Popular Lecture Series”-2018

Date: 9th August, 2018

Venue: Govt. PG College, Solan

Speakers: Dr. H.C. Sharma & Dr. Rajeev Kumar Puri

SOLAN,08.08.18-Himachal Pradesh Council for Science Technology and Environment (HIMCOSTE), Shimla is organising Popular lecture series, under its Science popularisation programme. The programme is funded by Department of Science & Technology (DST), under National Science Day and International Mathematics Day.

In this series 4th Lecture of “Popular Lecture Series -2018” will be organised at Govt. PG College, Solan on 9th August, 2018. Dr. H.C. Sharma, Vice Chancellor, Dr. YS Parmar University for Horticulture and Forestry, Nauni, Solan would deliver lecture on “Applications of Biotechnology in Agriculture for Sustainable Crop Production and Food Security” and Dr. Rajeev Kumar Puri, Professor Department of Physics, Panjab University would deliver lecture on “What Else in Science?”.

Dr. H.C. Sharma, presently working as Vice Chancellor, Dr. YS Parmar University for Horticulture and Forestry, Nauni. He is also Principal scientist – Entomology, at International Crops Research Institute for the Semi-Arid Tropics (ICRISAT), Andhra Pradesh.

He has been awarded as The International Plant Protection Award of Distinction - International Association of Plant Protection Sciences (2007) and Bharat Jyoti Award, India International Friendship Society (2014). He has published 625 books and more than 175 research papers.

Dr. Rajeev Kumar Puri, Professor Department of Physics, Panjab University; has published with 380 research publications in journals and also has delivered about 75 lectures in many countries. He is also recipient of Young Scientist Award of Atomic Energy, SatyaMurthy Award and Scientist of the Year (2011) - Himachal Excellence Award.

About 800 students of college will be benefitted from this lecture series on two diverse topics of field “Plant Biotechnology and Physics” Sh. Kunal Satyarthi, IFS, Member Secretary HIMCOSTE will remain present during lecture.

==============================================

प्रधानमंत्री किसान सम्पदा योजना से खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र को मिलेगा बढ़ावा

धर्मशाला, 08 अगस्त - जिला उद्योग केन्द्र धर्मशाला के महाप्रबंधक राजेश कुमार ने जानकारी दी है कि प्रधानमंत्री किसान सम्पदा योजना केन्द्र सरकार द्वारा अगस्त, 2017 में शुरू की गई है जोकि पूरी तरह से कृषि केन्द्रीत योजना है। इस योजना का उद्देश्य कृषि पर आधारित उद्योगों का आधुनिकीकरण करना है तथा सभी खाद्यों पर आधरित उद्योगों को कलस्टर के रूप में स्थापित करना तथा कृषि उत्पादों की बर्बादी को कम करना है। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत किसान के खेतों से लेकर खुदरा बिक्री केन्द्रों तक दक्ष आपूर्ति, श्रृखंला प्रबंधन के साथ आधुनिक अवसंरचना का सृजन होगा। उन्होेंने बताया कि इससे खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के व्यापक अवसर पैदा होंगे व किसानों की आय को दुगुना करने में एक बड़ा कदम होगा।

उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत मेगा खाद्य पार्क, कोल्ड चैन, खाद्य प्रसंस्करण एवं परिरक्षण क्षमताओं का सजृन/विस्तार, कृषि प्रसंस्करण कलस्टर अवसंरचना, बैकवर्ड और फारवर्ड ंिलंकेजों का सजृन, खाद्य सुरक्षा एवं गुणवत्ता आश्वासन अवसंरचना तथा मानव संसाधन एवं संस्थान स्कीमों का कर्यान्वयन किया जायेगा।

राजेश कुमार ने बताया कि इस योजना के अंतर्गत कुल परियोजना लागत का 35 प्रतिशत से लेकर 75 प्रतिशत तथा अधिकतम 50 करोड़ रुपयेे तक की अनुदान राशि का प्रावधान है। इसके तहत् सरकारी, सार्वजनिक क्षेत्र, संयुक्त उद्यम, गैर सरकारी संगठन, सहकारी समिति, स्वयं सहायता समूह, किसान उत्पादन संगठन, निजी संगठन, पार्टनरशिप फर्मे तथा व्यक्तिगत इत्यादि आर्थिक सहायता हेतु पात्र होंगे। उन्होंने बताया कि योजना की अधिक जानकारी हेतु भारत सरकार के खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की बेवसाईट ूूूण्उवचिपण्दपबण्पद या महाप्रबंधक, जिला उद्योग केन्द्र कांगड़ा के कार्यालय दूरभाष नम्बर 01892-223242 पर सम्पर्क किया जा सकता

==============================================

पर्यावरण को सुरक्षित रखने में अपना योगदान दें युवा: पुरेन्द्र वैद्य

धर्मशाला, 08 अगस्त - जिला एवं सत्र न्यायाधीश पुरेन्द्र वैद्य ने कहा कि वे युवा पीढ़ी को यह संदेश देना चाहते हैं कि वे अधिक से अधिक पौधारोपण करें जिससे पर्यावरण की शुद्धि हो और उनमें ऐसी भावना जागे कि वे किस प्रकार देश में पर्यावरण को सुरक्षित रखने में अपना योगदान दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि पौधे लगाने से हमारा पर्यावरण सुन्दर व स्वस्थ रहता है। इसीलिए हम सभी को अपने जीवन में अधिक से अधिक पौधे लगाने चाहिए तथा लोगों को भी पौधे लगाने के लिए जागरूक करना चाहिए।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश पुरेन्द्र वैद्य आज जिला विधिक सेवा प्राधिकरण धर्मशाला द्वारा वन और शिक्षा विभाग के सहयोग से बीएड कॉलेज तथा राजकीय महाविद्यालय धर्मशाला में पौधारोपण अवसर पर बोल रहे थे। इस दौरान पौधारोपण कार्यक्रम में कॉलेज के प्रधानाचार्य, स्टाफ के सदस्यों तथा विद्यार्थियों ने भाग लिया।

इस मौके पर उन्होंने देवदार, आमला तथा बोटल ब्रश के पौधे रोपित किये। उनके साथ-साथ न्यायिक विभाग के अन्य अधिकारियों तथा बच्चों ने भी विभिन्न प्रकार के पौधे लगाए।

पुरेन्द्र वैद्य ने कहा कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण का मुख्य उद्देश्य है कि युवाओं में जाकर यह चेतना पैदा करें तथा उन्हें यह संदेश दें कि वे समाज तथा पर्यावरण के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझें। उन्होंने कहा कि पौधरोपण से पर्यावरण का संरक्षण तो होगा ही, भूमि कटाव भी रूकेगा और क्षेत्र की सुंदरता में वृद्धि होगी। उन्होंने युवाओं से लगाए गए पौधों के संरक्षण का ख्याल रखने का आग्रह किया। उन्होेंने कहा कि पौधे हमें शुद्ध वायु देते हैं तथा मनुष्यों के साथ-साथ जीवों के जीने का सहारा हैं। उन्होंने कहा कि बिना पेड़ों के पृथ्वी पर जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती है।

इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण धर्मशाला की सचिव नेहा देहिया, जिला वन अधिकारी प्रदीप भारद्वाज, बीएड कॉलेज की प्राचार्य वंदना वैद्य, राजकीय महाविद्यालय धर्मशाला के प्राचार्य सुनील मेहता सहित न्यायिक, कॉलेज व वन विभाग का स्टाफ तथा बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित थे।

=============================================

कुल्लू -8 अगस्त 2018

मुख्यमंत्री स्वाबलंबन योजना के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से बंजार विकासखंड कार्यालय में उद्योग विभाग के माध्यम से एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया

मुख्यमंत्री स्वाबलंबन योजना के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से बंजार विकासखंड कार्यालय में उद्योग विभाग के माध्यम से एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में बंजार विकास खंड के पंचायत प्रधानों और सचिवों ने भाग लिया। शिविर की अध्यक्षता करते हुए महाप्रबंधक उद्योग केंद्र कुल्लू पवन भारद्वाज ने बताया कि इस योजना के तहत स्थानीय उद्यम को बढ़ावा देने और युवाओं को स्वरोज़गार के साधन उपलब्ध करवाने के लिए प्रावधान किया गया है। उनहोंने बताया की स्वाबलंबन योजना के अंतर्गत जिला के 18 से 35 वर्ष के युवाओं को आर्थिक सुविधाएं प्रदान की जाएगी। महाप्रबंधक ने बताया की उद्योग क्षेत्रों में 40 लाख रुपए के निवेश पर सयंत्र मशीनरी के के निवेश पर 25 प्रतिशत उपदान दिया जाता हैए इसके अलावा महिलाओं और युवतियों को प्रोत्साहित करने के लिए निवेश पर 30 प्रतिशत दिया जाता है। 40 लाख रुपए के ऋण पर तीन वर्ष के लिए 5 प्रतिशत व्याज का प्रावधान किया गया है। सरकारी भूमि को एक प्रतिशत के दर से युवाओं को पट्टे पर दिया जाएगा। महाप्रबंधक ने अपने अपने क्षेत्र में योजना के बारे में व्यापक प्रचार प्रसार करने की अपील की है साथ में अधिक से अधिक युवाओं को इस योजना का लाभ उठाने के लिए प्रेरित करने को कहा।