शिमला: 19.09.19- आज दिनांक 19 सितम्बर, 2019 को निर्वासित तिबतियन सरकार के केन्द्रीय प्रशासनिक अधिकारियों का 26 सदस्यों का एक दल धर्मशाल व अन्य राज्यों से अपराह्न 2:30 बजे हिमाचल प्रदेश विधान सभा में स्थापित देश की सर्वप्रथम ई-विधान प्रणाली जानने हिमाचल प्रदेश विधान सभा सचिवालय पहुंचा। दल के साथ हिमाचल प्रदेश लोक प्रशासन संस्थान से सम्पर्क अधिकारी श्री परवेश शर्मा भी मौजूद थे।

गौरतलब है कि ये सभी तिबतियन केन्द्रीय प्रशासनिक अधिकारी हिमाचल प्रदेश लोक प्रशासन संस्थान (HIPA) में क्षमता निर्माण प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए 16 सितम्बर से 25 सितम्बर, 2019 तक HIPA में मौजूद रहेंगे।

इस अवसर पर विधान सभा के मुख्य समिति कक्ष में इन अधिकारियों ने विधान सभा अध्यक्ष के निदेशक सूचना प्रोद्योगिकी श्री धर्मेश शर्मा तथा उप निदेशक श्री हरदयाल भारद्वाज के साथ बैठक की। बैठक दौरान इन अधिकारियों को हिमाचल प्रदेश विधान सभा की कार्यप्रणाली तथा क्रिया-क्लापों बारे विस्तृत जानकारी दी गई। इस अवसर पर श्री धर्मेश शर्मा ने इन्हें ई-विधान प्रणाली, ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रबन्धन तथा ई-समिति व विधायकों के लिए मोबाईल ऐप बारे जानकारी दी।

जबकि तिबतियन प्रशासनिक अधिकारियों ने निर्वासित तिबतियन संसद की कार्यप्रणाली तथा क्रिया-क्लापों बारे जानकारी दी। इसके उपरान्त इन अधिकारियों ने सदन का भी अवलोकन किया तथा ई-विधान प्रणाली की भरपूर जानकारी ली। सभी अधिकारियों ने ई-विधान प्रणाली स्थापित करने व ई निर्वाचन क्षेत्र प्रबन्धन तथा ई-समिति जैसे महत्वपूर्ण एवं आधूनिक तकनिकी प्रबंधो के लिए विधान सभा अध्यक्ष को बधाई दी तथा सदन के रख-रखाब की भरपूर जानकारी दी।